Connect with us

बेल्थरा रोड

राम मंदिर के लिए धन संग्रह महा अभियान की शुरुआत, बेल्थरारोड चेयरमैन ने दिए 1 लाख 100 रुपये

Published

on

बेल्थरा रोड  डेस्क : अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए निधि समर्पण अभियान की शुरुआत आज शुक्रवार से हो गई. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सबसे पहले 5 लाख 100 रुपये का समर्पण निधि दिया. इसके बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक लाख रुपये का चंदा दिया. इसी क्रम में बेल्थरा रोड नगर चेयरमैन दिनेश कुमार गुप्त ने भी 1 लाख एक सौ एक रुपये चंदा देकर धन संग्रह अभियान का शुभारंभ किया. वहीँ वार्ड नंबर 3 जी ए एम फील्ड गली निवासी श्री लक्ष्मी गुप्ता ने भी 11 हज़ार का दान किया.

निधि संग्रह अभियान में आरएसएस के जिला कार्यवाहक सतीश जी , अभियान प्रमुख आदित्य जी के देखरेख नगर में अभियान शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर नगर चेयरमैन दिनेश कुमार गुप्त ने कहा कि इस मंदिर के निर्माण में एक एक व्यक्ति का सहयोग लेना है. उन्होंने कहा कि देश मे कुछ ऐसे भी लोग है जो अकेले मन्दिर निर्माण करा सकते है.

लेकिन यह मंदिर एक व्यक्ति का बनकर रह जायेगा. उन्होंने कहा कि यह मंदिर व्यक्ति मन्दिर नही राष्ट्र का मन्दिर बनने जा रहा है. इसमें देश के सवा सौ करोड़ लोगों का योगदान चाहिए.  जिसमे एक एक व्यक्ति का सहयोग चाहिए.  श्री राम मंदिर निर्माण निधि संग्रह अभियान में हिसाब प्रमुख रजत गुप्ता, अजय पटेल, नगर कार्यवाहक संजय जी, श कार्यवाहक विजय जी, नगर प्रचारक पंकज, आलोक गुप्ता, संजय बरनवाल, अमित सिंह, आदित्यनारायन, गणेश गुप्ता, अमीरचंद, रितेश कुशवाहा, अमित जायसवाल, दीपक,राममनोहर गाँधी, अंजय राव, पंकज मोदी, उपेन्द्र गुप्ता आदि शामिल रहे.

आपको बता दें कि राम मंदिर के लिए चंदा जुटाने का अभियान आज से शुरू हो रहा है, जिसमें पांच लाख से ज्यादा गांवों में बारह करोड़ से ज्यादा परिवारों से  संपर्क साधा जाएगा और उनसे चंदा मांगा जाएगा. चंदा जुटाने का अभियान 27 फरवरी तक चलाया जाएगा.

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया स्पेशल

बलिया में बढ़ते कोरोना केस के चलते सोनाडीह मेला की नहीं मिली इजाज़त

Published

on

बलिया। बलिया में  कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी  के चलते बलिया प्रशासन ने प्रसिद्ध सोनाडीह मेला की इजाज़त नहीं दी है।

पीटीआई-भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक उभांव थाना के प्रभारी ज्ञानेश्वर मिश्र ने  बताया, ‘‘कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए सोनाडीह मेला के आयोजन की अनुमति नही दी गई है। लेकिन श्रद्धालु मां भागेश्वरी-परमेश्वरी मंदिर में कोविड-19 सुरक्षा सम्बन्धी नियमों का पालन करते हुए दर्शन पूजन कर सकते हैं।’’

मेला व्यवस्थापक अधिवक्ता वीरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि मेला के आयोजन के लिए उन्होंने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर अनुमति देने का अनुरोध किया था लेकिन प्रशासन से इसकी अनुमति नहीं मिली।

बता दें कि बलिया और मऊ जिले की सीमा पर स्थित जिले के सोनाडीह गांव में 52 बीघा परिसर में बने मां भागेश्वरी-परमेश्वरी मंदिर में चैत्र रामनवमी पर विशाल मेला लगता है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

AIMIM ने बलिया के अपने एक प्रत्याशी का टिकट वापस लिया !

Published

on

बलिया । ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन यानी (AIMIM) ने बलिया के एक उम्मीदवार का वापस ले लिया है। AIMIM अध्यक्ष अमानुल हक अब्बासी की तरफ से अपने पदाधिकारी और कार्यकर्ता को भेजे एक सन्देश में अब्बासी ने कहा है कि “पार्टी ने सियर की वार्ड नंबर 24 से घोषित प्रत्याशी सद्दाम अहमद उर्फ़ शेरिफ अहमद का टिकट वापस ले लिया है। सन्देश में लिखा है  “वार्ड नंबर 24 से पार्टी के घोषित प्रत्याशी ने भासपा का दामन थाम लिया है। जिसकी वजह से हमने उनका टिकट वापस ले लिया है। इसलिए वार्ड 24 से फिलहाल पार्टी का अभी कोई प्रत्याशी नहीं है।”

जिला अध्यक्ष ने अपने पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं से कहा है कि चुकी संकल्प मोर्चा चुनाव में अब नहीं रहा इसलिए हम सभी सिर्फ और सिर्फ अपने प्रत्याशियों का ही प्रचार प्रसार करें।

हालाँकि इस मामले पर बलिया खबर के रिपोर्टर सतीश कुमार ने जिला अध्यक्ष अब्बासी से इस पुरे मामले पर तफ्सीली जानने की कोशिश की लेकिन वो ऑन रिकॉर्ड कुछ भी बोलने से बचते दिखे। बलिया में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन ने जिला पंचायत चुनाव के लिये अपने 9 उम्मीदवारों का ऐलान किया था। जानकारी के लिए बता दें भागीदारी संकल्प मोर्चा के घटक दलों के बीच सीटों के बंटवारे का फार्मूला तय करने में नाकाम रही सभी पार्टियों ने बलिया में अपने-अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

Continue Reading

बेल्थरा रोड

बिल्थरारोड में भीख मांगने वाली महिला की ट्रेन से कटकर मौत, बच्चे हुए अनाथ

Published

on

बलिया डेस्क : जिले बिल्थरारोड रेलवे स्टेशन से एक दर्दनाक घटना सामने आई है। स्टेशन के प्लेटफार्म नं एक पर रविवार की शाम दादर (काशी) एक्स से एक भिक्षाटन करने वाली महिला की कट कर मौत हो गयी। जीआरपी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मऊ भेज दिया। महिला के दो अबोध बच्चे भी है। बच्चों का रो-रो कर बुरा हाल है।

बताया जा रहा कि मुम्बई-गोरखपुर काशी एक्स के बिल्थरारोड पहुचते ही एक 35 वर्षीय भिक्षा मांगने वाली महिला अपने दो मासूम बच्चों को छोड़कर ट्रैन के नीचे जाकर लेट गयी। ट्रैन के चलते ही महिला के दो टुकड़े हो गए। इसके बाद बच्चे अपनी मां को कटा देख चिल्लाकर रोने लगे। रोने की आवाज सुन के जीआरपी पुलिस मौके पर पहुंच कर बच्चों को संभाला और महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मऊ भेज दिया।

दोनों बच्चों में एक चार वर्षीय लड़का और एक तीन वर्षीय लड़की है। दोनों अपना नाम और पता बताने में असमर्थ है। जीआरपी पुलिस के अनुसार पता किया जा रहा है। पता लगने पर बच्चों को उनके घर भेजा जाएगा। पता न चलने की दशा में बच्चों को अनाथालय भेज दिया जाएगा।

Continue Reading

TRENDING STORIES