Connect with us

बलिया

बलिया- ऐसे स्कूलों पर नहीं बनेगे सेंटर, पास होना है तो शुरू कर दें मेहनत, नकलविहीन होगी परीक्षा !

Published

on

बलिया: बोर्ड परीक्षा केंद्र निर्धारण को लेकर जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने कलेक्ट्रेट सभागार में सभी एसडीएम व माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों संग बैठक की। उन्होंने स्पष्ट कहा कि शासन की ओर से निर्धारित मानक पर खरा उतरने वाले विद्यालयों को ही परीक्षा केंद्र बनाया जाएगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि फिलहाल जिन 240 विद्यालयों को सेंटर बनाया जाना है, एसडीएम के नेतृत्व में बनी तहसील स्तरीय टीम एक-एक स्कूल को चेक करेगी। शासन के मानक के अनुसार जो नहीं मिलेगा, उस विद्यालय पर भी केंद्र नहीं बनेगा। इसके अलावा जहां बाहरी प्रान्त के छात्रों की संख्या ज्यादा होगी उन विद्यालयों पर भी तगड़ी निगहबानी होगी।

पास होना है तो शुरू कर दें मेहनत, नकलविहीन होगी परीक्षा

डीआईओएस ब्रजेश मिश्र ने भी स्पष्ट कर दिया है कि इस बार नकल की हर सम्भावनाओं को समाप्त कर दिया जाएगा। नकल करने या कराने का प्रयास भी किसी ने किया तो उस पर विभागीय के साथ सख्त कानूनी कार्रवाई भी होगी। इसलिए छात्र-छात्राएं भी अभी से मेहनत करना शुरू कर दें। बोर्ड परीक्षा पास करना है तो उसका एकमात्र सहारा पढ़ाई ही है। बाहरी छात्र भी अगर सिर्फ नकल के भरोसे ही यहां नामांकन कराए होंगे तो वे जान लें कि इस बार सख्त माहौल में नकलविहीन परीक्षा होगी। नकल की सोच मन में लेकर आएं ही नहीं तो बेहतर होगा। जीआईसी के प्रभारी प्रधानाचार्य, डीआईओएस आफिस के अतुल कुमार, संजय यादव, राजेन्द्र गुप्ता आदि मौजूद थे।

कौशल विकास मिशन कमेटी की बैठक

बलिया: कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को कौशल विकास मिशन कमेटी की बैठक में जिलाधिकारी एसपी शाही ने कहा कि हम सबका यह प्रयास हो कि जिले के अधिक से अधिक युवा किसी न किसी तकनीकी क्षेत्र में कुशल हों। उन्होंने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के क्रियान्वयन से सम्बंधित पूछताछ आईटीआई प्रिंसिपल से की। मिशन के तहत चल रहे कुछ केंद्र संचालकों से जरूरी जानकारी भी ली। जिलाधिकारी ने कहा कि कौशल विकास मिशन के तहत जिले में जो केंद्र चलते हैं, उनका समय-समय पर निरीक्षण भी होता रहे।

बैठक में सीडीओ विपिन जैन ने कहा कि बहुत जल्द जलजीवन मिशन में 12 हजार लोगों को ट्रेनिंग दी जानी है। इसमें इलेक्ट्रिशियन व फीटर ट्रेड वालों को ट्रेनिंग दी जाएगी। कौशल विकास मिशन व पेयजल स्वच्छता मिशन के सौजन्य से यह ट्रेंनिग दी जाएगी। कमेटी के सदस्य के रूप में सीए ईश्वरन, नेहरू युवा केन्द्र के शलभ उपाध्याय व केंद्र संचालक मौजूद थे।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया- खेत मे कटाई के दौरान दिखा नरकंकाल, इलाके में दहशत !

Published

on

बलिया। बलिया जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र में एक नरकंकाल मिलने से इलाके में हड़कम्प मच गया । यह नरकंकाल भीमपुरा बाजार से उत्तर पश्चिम दिशा में स्थित खेत में पड़ा था ।

कंकाल के पास लुंगी व चप्पल पड़े हुए है। गेहू की कटाई के दौरान यह नर कंकाल दिखा है ।कंकाल देख कटाई करने वालो में दहशत फ़ैल गई। सूचना पर सीओ रसड़ा शिवनारायण  व थाना प्रभारी शिवमिलन अपने हमराहियों विक्रम राठौर आदि सहित मौके पर पहुँचे और कंकाल  को उठाकर पीएम के लिए बलिया भेजा ।

Continue Reading

बलिया

बलिया- कोविड-19 के बढते मामले के बीच पुलिस की बड़ी कार्यवाही , 133 लोगों का किया चालान

Published

on

बलिया डेस्क: जिले में बढते कोरोना केस के मद्देनज़र प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। इसी के मद्यनज़र जिला प्रशासन पुरी मुस्तैदी के साथ के साथ काम कर रहा है।

पहले प्रशासन के तरफ से जिले में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया। उसके बाद जिले के सभी थानों द्वारा एक बार फिर आज सघन चेकिंग की गयी। चेकिंग के दौरान सार्वजनिक स्थान पर अथवा घर से बाहर मास्क, गमछा, रूमाल, दुपट्टा, स्कार्फ न पहनने वाले कुल 133 व्यक्तियों का चालान किया गया, जिनसे जुर्माने के रूप मे कुल 13,300 रू0 वसूला गया ।

 

Continue Reading

featured

बलिया जिले में आज रात से नाइट कर्फ्यू, जानें 10 बड़ी बातें !

Published

on

बलिया डेस्क:  बलिया में नाइट कर्फ्यू का आदेश जारी कर दिया गया है। जिले में बढते कोरोना मामले के बीच जिला प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। इसी के मद्यनज़र जिला प्रशासन ने शनिवार को  ये बड़ा फैसला लिया गया।

जानें 10 बड़ी बात

1-आज से यानी 10 अप्रैल की रात 09 बजे से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा।

2- नाइट कर्फ्यू जिले में रात्रि 09 बजे से सुबह 06 बजे तक प्रभावी रहेगा।

3- शुक्रवार को ही 12वीं तक के सभी विद्यालयों को बन्द करने का एलान किया गया था।

4- बंद कमरे में सामूहिक आयोजन के लिए 50 लोग या अधिकतम 100 लोगों की अनुमति दी जाएगी।

5- खुले मैदान में 200 से अधिक लोग किसी सार्वजनिक आयोजन में मौजूद नहीं होंगे।

6- कक्षा 1 से 12 तक के सभी स्कूल पूरी तरह से बंद होंगे, कक्षाओं का संचालन ऑनलाइन होगा।

7- रात में ट्रेन से आने वाले यात्री अपने टिकट को दिखाकर ही आगे सड़क पर सफर करे सकेंगे।

8- इस दौरान अति आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित नहीं होगी।

9-  दूध, दही, जरूरी खाद्यान व दवाओं की वाहन आसानी से प्रवेश कर सकेंगे।

10-अनावश्यक किसी को इस दौरान बाहर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

 

Continue Reading

TRENDING STORIES