प्रियंका गांधी के रोड शो के बाद क्यों चर्चा में है बलिया की ये नन्ही बच्ची

BALLIA SPECIAL

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के करीब 6 घंटे चले रोड शो  के बाद बलिया की रहने वाली ये छोटी बच्ची चर्चा में आ गई है। बता दें की  कई ऐसे मौके भी आए जब प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं और रोड शो में हिस्सा लेने आए कार्यकर्ताओं और आम लोगों से सीधे संवाद किया।

ऐसा ही एक मौका आया जब एक छोटी बच्ची ने उन्हें फूल माला पहनाने की कोशिश की। इस पर प्रियंका गांधी ने बच्ची को उस ट्रक पर बुला लिया जिस पर सवार होकर वह रोड शो में कार्यकर्ताओं का अभिवादन कर रही थीं। ऊपर पहुंचने पर जब इस बच्ची ने प्रियंका गांधी को माला पहनाई तो उन्होंने उसे चॉकलेट दी और माला वापस उसे पहना दी।

बता दें की जिस बच्ची को प्रियंका गांधी ने गोद में उठाया था उसका नाम मिष्ठी पाण्डेय है और वो बलिया के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी चित्तू पांडे के गांव की रहने वाली है ,  प्रियंका गांधी से मुलाकात के बाद मिष्ठी पाण्डेय ने बताया की  ‘मैंने उन्हें (प्रियंका गांधी) को फूलों की माला दी और उन्होंने मुझे चॉकलेट दी. बाद में, वह वापस आईं और मुझे फूलों की माला वापस कर दी और कहा- खुश रहो’

और “राहुल जी ने मुझसे मेरा नाम और महत्वाकांक्षा पूछी। मैंने उनसे कहा कि मैं एक डॉक्टर बनना चाहता हूं,” मिष्ठी ने कहा कि रोड शो के दौरान उत्साहपूर्वक कांग्रेस का झंडा लहराते हुए अच्छा लगा ।

बता दें की तीन  वर्षीय मिष्ठी पांडे ने अपने पिता सत्य प्रकाश पांडे के साथ रोड शो में भाग लिया था, जिनका परिवार पीढ़ियों से कांग्रेस से जुड़ा हुआ है। मिष्ठी के नाना जगन्नाथ तिवारी एक स्वतंत्रता सेनानी और बलिया के रहने वाले उनके दादा श्रीकांत पांडेय यूपी कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य थे।

मिष्टी के पिता सत्य प्रकाश ने बताया की मैं बलिया के बैना ग्राम सभा के गाँव नागिनगर का रहने वाला हूँ । “1942 भारत छोड़ो आंदोलन के नायक, शेर-ए-बलिया चित्तू पांडे का घर मेरे से 100 मीटर की दूरी पर है,” उन्होंने कहा। “मिष्ठी ने टीवी पर प्रियंका को देखा और उसे ‘बुआ’ कहा।

जब हमने उसे बताया कि ‘बुआ’ लखनऊ आ रही है, तो उसने उन्हें देखने के लिए जोर दिया। हम सुबह एयरपोर्ट पहुंचे। राहुल ने उसे बाहर आते ही हाथ लहराया था । हमने उनसे संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन सुरक्षा द्वारा रोक दिया गया। जब रोड शो शुरू हुआ, तो हम इसमें शामिल हो गए। मिष्ठी ने पार्टी का झंडा लिया और पूरे रास्ते लहराती रही । जब रोड शो हजरतगंज पहुंचा, तो प्रियंका ने मिष्टी को देखा तो पार्टी कार्यकर्ताओं को लाने के लिए कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *