Connect with us

featured

बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे योजना को सीएम योगी की मंजूरी, जिले में खुशी की लहर !

Published

on

बलिया डेस्क : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को 30 किलोमीटर के बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे की योजना को अपनी मंजूरी दे दी। बलिया क्षेत्र पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के जरिए लखनऊ, आगरा व दिल्ली तक तेज व सुगम यातायात कॉरिडोर से जुड़ जाएगा। इस परियोजना से गाजीपुर और बलिया सहित पूर्वांचल के क्षेत्र सीधे लाभान्वित होंगे। अधिकारी ने बताया कि  मुख्यमंत्री ने शनिवार को अपने सरकारी आवास पर बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे के संबंध में प्रस्तुतीकरण देखा।

उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण से बलिया क्षेत्र का सर्वांगीण विकास होगा।  यूपीडा के सीईओ अवनीश अवस्थी, जो मुख्य रूप से इस परियोजना को आगे बढ़ा रहे थे, ने पुष्टि करते हुए कहा कि शनिवार को मुख्यमंत्री द्वारा इसे मंजूरी दे दी गई है।

लगभग 1,500 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस एक्सप्रेस-वे 4-लेन का होगा। इसका छह लेन में विस्तार किया जा सकेगा।  अवनीश अवस्थी ने कहा, सीएम द्वारा बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे की शीघ्र स्वीकृति पूर्वांचल के विकास और इस क्षेत्र को राज्य की राजधानी और राष्ट्रीय राजधानी से जोड़कर समृद्ध बनाने के उनके संकल्प का संकेत है।

अवस्थी ने कहा, “पूर्वांचल की एनसीआर और दिल्ली तक सीधी पहुंच क्षेत्र में चिकित्सा और शैक्षिक बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के लिए बहुत सारे निवेश को आकर्षित करेगी। यह पूर्वी यूपी में पर्यटन को भी बढ़ावा देगा।

वहीँ पूर्वांचल लिंक एक्सप्रेस वे की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शनिवार को मंजूरी  के बाद जिले में लोगो ने खुशी का इजहार किया। विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि द्वाबा के लाखों लोगों की तरफ से मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद। उन्होंने कहा कि इस लिंक एक्सप्रेस वे के निर्माण से बलिया विधानसभा क्षेत्र का सर्वांगीण विकास होगा ऐसे तो मुख्यमंत्री जी स्नेह हमेशा मेरे और मेरे क्षेत्र पर बना हुआ रहता है।

featured

बलिया- जानिए कौन है प्रभावती देवी? जो जिले के कद्दावर नेता के खिलाफ चुनावी मैदान में हैं

Published

on

बलिया डेस्क: जिले में त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव की सरगर्मियां काफी तेज हो गई हैं। प्रत्याशियों के नामांकन के बाद अब चुनाव चिन्ह भी मिल चुके हैं। जिसको लेकर जनता के बीच प्रत्याशियों की पहुंचने की होड़ लगी है। आपको इस कड़ी में जिले के बांसडीह वार्ड नंबर 10 जिला पंचायत के एक सदस्य के बारे में बताते है। जिनकी दावेदारी ने इस सीट पर काफी दिलचस्प मुकाबला बना दिया है।

बांसडीह वार्ड नंबर 10 से सपा की उम्मीदवार प्रभावती देवी पत्नी रामजी यादव “बढ़ाइए कदम विकास की ओर” के नारे के साथ चुनावी मैदान में हैं। प्रभावती देवी लगातार तीन बार से चांदपुर ग्राम सभा की प्रधान भी है।

प्रभावती देवी महिला सशक्तिकरण को तो बल दे ही रही है इसके साथ-साथ उनका वादा यह भी है कि समाज के हर तबके का विकास जीतने के बाद सुनिश्चित किया जाएगा।जिससे क्षेत्र का चौमुखी विकास हो सके। वहीँ इस सीट को लेकर राजनैतिक विशेषज्ञों का दावा है कि ये सपा का गढ़ है। इस सीट पर दुसरे दल के प्रत्याशी की राह आसान नहीं होने वाली है।

वहीँ इस सीट से भाजपा के कद्दावर नेता और जिले के भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष देवेंद्र यादव मैदान में है ।  जिससे इस सीट पर मुकाबला और भी दिलचस्प हो गया है। जातिगत आकड़ों के हिसाब से भी इस सीट पर लड़ाई काफी क्लोज होने वाली है।

आपको बता दें कि  सबसे ज्यादा इस वार्ड से वार्ड से विधानसभा के प्रभारी सपा के वरिष्ट नेता वेद प्रकाश सिंह की भी प्रतिष्ठा दाव पर लगी है। जो इलाके में समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते हैं। बहरहाल, अब तो आने वाला वक्त ही बताएगा कि इस सीट पर जनता किस प्रत्याशी को  अपना सिकंदर बनाती है।

एक बात जरूर है कि जिले में पंचायती चुनाव के लिए महिलाओं ने जिस प्रकार से बढ़-चढ़कर अपनी भागीदारी दिखाई हैं। वह महिलाओं के प्रति बदलते दौर के सोच को जरूर प्रदर्शित करता है।

Continue Reading

featured

मेडिकल टीम पर हमला: DM अदिति सिंह ने दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी के लिए एसपी से की बात

Published

on

बलिया : बैरिया क्षेत्र के मधुबनी में स्वास्थ्य विभाग की रैपिड रिस्पांस टीम पर हमला करने वाले दोषी पर कड़ी करवाई के लिए डीएम अदिति सिंह ने एसपी डॉ विपिन टाडा से बात की साथ ही कहा कि आरोपी किसी भी हाल में नहीं बचने चाहिये । बता दें की कोविड-19 महामारी में जान जोखिम में डालकर अपनी ड्यूटी करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों के साथ बदसलूकी व हमले को पुलिस प्रशासन ने भी पूरी गंभीरता से लिया है।

इस मामले में मुकदमा भी दर्ज किया जा चुका है और दोषियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दी जा रही है। उधर, घटना के तुरंत बाद जिलाधिकारी अदिति सिंह ने एसडीएम और सीओ को मौके पर भेजा। जिलाधिकारी के साथ सीडीओ प्रवीण वर्मा ने भी सम्बन्धित डॉक्टर व स्वास्थ्य स्टाफ के साथ बात कर उनका हाल जाना।

इसके बाद दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक से बात की। माना जा रहा है कि दोषियों पर कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाएगी, ताकि इस तरह की अराजकता फैलाने वालों के लिए नजीर बन सके।

Continue Reading

featured

कर्फ्यू रिपोर्ट : बलिया में सड़को पर पसरा रहा सन्नाटा लेकिन गुलजार रहा कलेक्ट्रेट

Published

on

बलिया। कोरोना को हराने के लिए जिले में लगा वीकेंड लॉकडाउन शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में गजब का असर दिखा। ग्रामीणों बाजारों में भी खामोशी दिखाई पड़ी। लोग चाय-पान को तरस गये। सुबह से दुकानें बंद रहने से पूरे बाजार में सन्नाटा पसरा रहा। हालांकि चुनाव चिह्न लेने के लिए कलेक्ट्रेट परिसर व ब्लाकों में प्रत्याशियों तथा उनके समर्थकों की जबर्दस्त भीड़ देखी गई। कारोना कर्फ्यू का आलम यह रहा कि सुबह से ही सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा।

वहीं कुछ यात्री ऐसे भी देखे गए जो पैदल ही यात्रा करना मुनासिब समझे। नगर के चित्तू पांडेय चौराहा, मालगोदाम रोड, स्टेशन रोड, चौक रोड, ओवरब्रिज, मिड्डी चौराहा, कुंवर सिंह चौराहा चारो ओर सिर्फ सन्नाटा नजर आया। सड़कों पर इक्का-दुक्का वाहन के अलावा रोडवेज बस नजर आई।

जमकर हुई गुटखा की कालाबाजारी
लॉकडाउन के मद्देनजर शनिवार की शाम से ही एकाएक पान गुटखा वाले दामों में बढ़ोत्तरी कर दी। आलम यह रहा कि जो कमला पसंद पांच का मिलता है वह छह से सात रूपए मिला। वहीं १० रूपए में चार पुकार की जगह सिर्फ तीन ही मिला।

रेवती में अभूतपूर्व बंदी का दिखा नजारा
कोरोना के बढ़ते प्रकोप पर लगाम लगाने के उद्देश्य से 35 घंटे की बन्दी के सरकारी आदेश के अनुपालन में रविवार को नगर सहित क्षेत्र की दुकानों की अभूतपूर्व बन्दी रही। नगर बाजार,सुपर मार्केट,सब्जी मंडी सहित हमेशा गुलजार रहने वाला बस स्टैंड भी सूना रहा। कोरोना कर्फ्यू के शुरू होने के पूर्व की शाम दुकानों पर विभिन्न सामानों को खरीदने वालों की अच्छी खासी भीड़ रही।लोग आगामी बन्दी के दृष्टिगत सब्जियां,फल तथा अन्य सामानों को खरीदने में लगे हुए देखे गए।रविवार को सुबह से ही मेडिकल स्टोर की दुकानों को छोड़कर किराना, चाय, पान, मिठाई कपड़ा,मशीनरी पार्ट्सब, बिल्डिंग मैटीरियल, स्टूडियो आदि की छोटी बड़ी दुकानें पूर्ण रूप से बन्द रहीं। सड़कों पर वाहनों का आवागमन भी ठप्प रहा। इक्के दुक्के राहगीरों को छोड़ दें तो पैदल चलने वाले भी सड़कों पर लगभग नदारद रहे।प्रभारी निरीक्षक यादवेन्द्र पाण्डेय के नेतृत्व में पुलिस बल नगर सहित ग्रामीण इलाकों में चक्रमण करता रहा।

बिल्थरारोड में जबरदस्त असर
पूरे उत्तर प्रदेश के अन्दर कोरोना के तेज बढ़ते संक्रमण को लेकर रविवार को 35 घंटे का सरकार की ओर से लागू कोरोना कर्फ्यू को बिल्थरारोड नगर में प्रशासन की ओर से एसडीएम सर्वेश यादव व तहसीलदार जितेन्द्र कुमार सिंह ने पुलिस बल के साथ सख्ती से पालन कराया। आवागमन को पूरी तरीके से प्रतिबन्धित कराया। सिर्फ यात्रियों को आने-जाने में ढील दी गयी। सवारी को लेकर वे भी काफी समय तक परेशान दिखे। कड़ी चंकिंग में अनेक लोगों को मुंह की खानी पड़ी। बिल्थरारोड में चाय, पान व मिठाई की दुकानों से लेकर किसी प्रकार की कोई दुकान नही खुली। दवा के लिए कोई मेडिकल स्टोर तक बन्द रहा। प्रशासन ने बीमार लोगों को सीधे सरकारी अस्पताल की डगर दिखलाई। ट्रेन व रोडवेज बस के यात्रियों के लिए इक्का-दुक्का बैट्री रिक्सा यात्रियों के लिए कुछ सहारा बने। कितने यात्री अपने घरों के लोगों को फोन कर नीजी साधन से घरों को रवाना हुए। उभांव थाने के प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेश्वर मिश्र व पुलिस चौकी प्रभारी आर के सिंह अपने हमराहियों के साथ सक्रिय दिखे। सीओ रसड़ा शिव नारायण वैस ने भी कोरोना कर्फ्यू का जायजा लिया।

चितबड़ागांव में दवा की दुकान छोड़ सब रहा बंद
जिला प्रशासन के 35 घंटे के कर्फ्यू का असर चितबड़ागांव मुख्य बाजार एवं मुख्य मार्ग पर रविवार की सुबह से ही देखने को मिला। बाजार मे सभी की दुकानें बंद मिली। मुख्य सड़क पर इक्का-दुक्का वाहन चलते नजर आए। हालांकि जरूरी सेवा जैसे दवा इत्यादि की दुकानें खुली नजर आई।

लालगंज बाजार में चारों ओर पसरा रहा सन्नाटा
वैश्विक महामारी के नियमों का पालन करते हुए लालगंज बाजार में पूर्णतया बंदी नजर आया। कहीं-कहीं इक्का-दुक्का लोग रास्ते और सड़कों पर भ्रमण करते हुए दिखाई दे रहे थे।

नगरा में लोगों को याद आया साल २०२०
कोविड के फैलते स्वरुप को देखते हुए सरकार के रविवार को लाकडाउन की घोषणा के तहत नगरा क्षेत्र में कर्फ्यू जैसे हालात रहे। आवश्यक कार्य को छोड़कर लोगों का सड़कों पर आवागमन नहीं के बराबर रहा। नगरा नगर पंचायत कस्बा सहित क्षेत्र के परसिया, मालीपुर, विशुनपुरा, नरही, डिहवा, बछईपुर, भीमपुरा, कसेसर, ताड़ी बड़ागांव, पाण्डेयपुर, सिसवार, टंडवा मोड आदि चट्टी चौराहों की दुकानें पूर्ण रुप से बन्द रहीं जिससे लोगों की भीड़ बाजारों में नहीं जुटी।

कोविड से बचाव के हर सम्भव प्रयास के क्रम जिलाधिकारी अदिति सिंह के निर्देशानुसार पुलिस प्रशासन एलर्ट मोड मे चौकन्ना नजर से लोगों में अनावश्यक रूप से बाहर निकलने के बजाय घरों में दुबके रहे। कोविड वायरस से बचाव के लिए बाजार के हनुमान चौक पर बकायदा पुलिस द्वारा हार्न बंधवाकर प्रचार कराया जा रहा है। थाना क्षेत्र में कमान सम्भाले प्रभारी निरीक्षक दिनेश पाठक अपने हमराहियों के साथ चारो तरफ चक्रमण करते रहे।

लाकडाउन की स्थिति सोमवार को सुबह सात बजे तक रहा। थानाध्यक्ष ने बाहर दिखाई देने वाले लोगों को समझाते हुए कहा कि आप अपने परिवार के साथ घरों मे रहें। अनावश्यक रूप से बाहर नहीं निकलें अगर कोई विशेष आवश्यकता हो तो कोविड नियमों के पालन मे घरों से मास्क लगाकर निकले और कार्य होते तुरन्त घरों को चले जाये।

 

 

Continue Reading

TRENDING STORIES