Connect with us

बलिया

कोरोना संकट : बलिया के इस गांव से लिए गए 21 सैंपल, रिपोर्ट का इंतजार

Published

on

बलिया डेस्क : जनपद के दुबहर थाना अंतर्गत ओझवलिया गांव से एक साथ 21 सैंपल लिए जाने से गांव में हड़कंप की स्थिति है. गौरतलब हो कि जनपद में अब तक कुल 31 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं, जबकि जनपद 11 मई से पहले एकदम से सुरक्षित था, लेकिन बीते चार मई से प्रवासियों के आने का जो सिलसिला शुरू हुआ कि 11 मई आते-आते आखिरकार जनपद बलिया को भी कोरोना ने अपनी आगोश में ले लिया.

इसके बाद से हर दूसरे-तीसरे दिन पर दो-चार कोरोना पाजिटिव मिलते-मिलते ईद के दिन एक साथ 16 , फिर एक मरीज मिलने के बाद जनपद में फिलहाल कोरोना मरीजों की संख्या कुल 31 हो गयी है. ऐसे में स्वास्थ्य महकमे भी पूरी तरह से चौकन्ना है. ओझवलिया गांव में कुछ लोगों में कोरोना के संभावित लक्षण दिखाई देने पर एक साथ 21 लोगों का सैंपल लिया गया है.

देखें कोरोना का हेल्थ बुलेटिन…..

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया नगर पालिका ईओ के खिलाफ लटकी मुक़दमे की तलवार !

Published

on

बलिया –जिले में कोरोना को लेकर प्रशासन द्वारा दुकान खोलने के नियम बनाने के बाद भी व्यापारियों से अवैधानिक तरीके से जुर्माना वसूलने के मुद्दे को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता व पूर्व नपा चेयरमैन लक्ष्मण गुप्ता के नेतृत्व में शहर के व्यापारियों ने जिलाधिकारी से मिला। इस दौरान व्यापारियों ने नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की।

बताया कि अगर प्रशासनिक उत्पीड़न नहीं रुका तो हम व्यापारी अब कोविड-19 के तहत दी गई व्यवस्था से अलग हटकर जिला प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे। इस मौके पर जिलाधिकारी के प्रतिनिधि को ज्ञापन सौंपकर मांग किया गया कि जिले के व्यापारियों के साथ उत्पीड़नात्मक कार्रवाई न की जाय।

साथ ही पुलिस और प्रशासनिक उत्पीड़न की घटनाओं पर रोक लगाई जाय। मौके पर नपा के पूर्व चेयरमैन लक्ष्मण गुप्ता ने नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की। कहा कि शहर के स्टेशन रोड से एक बैटरी दुकान से पांच बैटरी नगर पालिका प्रशासन के लोगों ने प्रशासनिक अधिकारियों के सामने उठाकर अपने वाहन में रख लिया।

इस मौके पर पूर्व नगर पंचायत चेयरमैन प्रदीप गुप्ता, वरिष्ठ अधिवक्ता कमलेश वर्मा, मनोज गुप्ता, अमरीश कुमार, अजय गुप्ता, हरिजी रौनियार, तारकेश्वर प्रधान, विनोद वर्मा, मंटू दूबे, प्रभुजी रौनियार, प्रदीप गुप्ता, सतीश कुमार गुप्ता, ओमप्रकाश सिंह, राम जी, अजय गुप्त, रोशन पांडेय, राम कृष्ण यादव , परवेज रोशन, विनय कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

Continue Reading

बलिया

दर्ज मुकदमा वापस हो, रोजी-रोटी का प्रबंध करें हम शराब का धंधा छोड़ देंगे

Published

on

बलिया डेस्क। अवैध कच्ची शराब के विरूद्ध औचक छापेमारी से इतर रेवती  पुलिस ने सोमवार को अलग पहल करते हुए रेवती क्षेत्र के भाखर (खरिका) में चौपाल का आयोजन कर अवैध शराब के धंधे में लिप्त लोगों को इससे होने वाले नुकसान के बारे में बताया। सोशल डिस्टेंसिंग के तहत आयोजित चौपाल के दौरान प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कुमार सिंह ने कहा कि आप सभी यह धन्धा छोड़कर अलग धन्धे की तालाश करें अन्यथा की स्थिति में कड़ी कार्यावाही की जाएगी। इस दौरान कारोबारियों ने धंधा छोड़ने में रोजी रोटी को बाधक बताते हुए कहा कि प्रत्येक परिवार के करीब तीन – चार सदस्यों पर इतने मुकदमे दर्ज हैं। जिसकी प्रत्येक माह पैरवी करने में हजारों रुपए खर्च होते हैं।

 

 

क्या बोले शराब निर्माता

शराब निर्माताओं ने शर्त रखा कि परिजनों पर दर्ज मुकदमा खत्म कराया जाय तथा रोजी – रोटी का सरकार प्रबंध करें। हम शराब का धंधा छोड़ देंगे। एसएचओ ने कहा कि आपकी बातों को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाया जाएगा, लेकिन मेरे रहते क्षेत्र में यह धन्धा नहीं होगा। चौपाल में मौजूद ग्रापए बांसडीह के अध्यक्ष पुष्पेंद्र तिवारी”सिन्धु”ने कहा कि यह धन्धा आपके प्रगति का बाधक है। समाज में आप सभी की स्थिति क्या है आप सभी को पता है।ऐसे में आप सब समूह आदि बनाकर विभिन्न कार्य करें। आपकी आवाज सरकार तक पहुंचाया जाएगा। इस मौके पर एसआई गजेन्द्र राय,सुर्यकांत पाण्डेय,मयाशंकर दूबे, ग्रापए तहसील आदि ने भी अपना-अपना विचार रखें।

Continue Reading

बलिया

व्यवस्था से तंग आकर कोरोना मरीज़ हुआ था फरार, अब उसे लेकर आई बड़ी खबर

Published

on

बलिया डेस्क : कोरोना के संक्रमित मरीजों के लिए बनाये गए बलिया के क्वारंटाइन सेंटर का क्या हाल है, उसकी सच्चाई कई बार लोगों के सामने आ चुकी है. बीते दिनों बसंतपुर स्थित एल वन अस्पताल की बदहाल व्यवस्था का वीडियो भी सामने आया था जिसे एक वहां रह रहे एक कोरोना मरीज़ ने ही बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था.

बहरहाल, एल वन अस्पताल की ऐसी ही स्थिति से तंग आकर गड़वार थाना में आने वाले कुकुरभुका का रहने वाला एक कोरोना मरीज़ वहां से भाग खड़ा हुआ था. जैसे ही इस कोरोना पॉजिटिव मरीज़ के फरार होने की खबर फैली, प्रशासन के लोगों में हड़कंप मच गया और उसकी तलाश शुरू की गयी. हालाँकि अब राहत की बात यह है कि उस फरार मरीज़ को पकड़ लिया गया है.

बता दें कि अस्पताल से भागकर यह कोरोना का मरीज़ अपने घर में रह रहा था. अब उसे प्रशासन की टीम ने पकड़ा और काफी समझाने के बाद उसे नगवा में बने एल वन अस्पताल में एडमिट किया गया है. बताया जा रहा है कि इस शख्स को 6 अगस्त को बसंतपुर के एल वन अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

लेकिन यहाँ पर उसे स्वास्थ्य विभाग की तरफ से न तो कोई बुनियादी और ज़रूरी चीज़े दी गयी और न ही अस्पताल में कोई समुचित व्यवस्था थी, जिसके बाद युवक सात अगस्त को फरार होकर अपने घर पहुँच गया. हालाँकि अब उसके मिलने के बाद प्रशासन को राहत मिली है.

Continue Reading

Trending