अबू धाबी में पीएम मोदी ने किया मंदिर का शिलान्यास, विपक्ष पर साधा निशाना

INDIA

यूएई के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आबू धाबी में भव्य हिंदू मंदिर का शिलान्यास कर दिया है. पीएम मोदी की पिछली यात्रा के दौरान ही वहां एक मंदिर स्थापित करने का विषय आया था और वहां के शासक ने इस पर ध्यान देने की बात कही थी. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ये मंदिर मानवता का एक माध्यम है.

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अबू धाबी में बनने वाले भव्य मंदिर के लिए 125 करोड़ भारतीयों की ओर से वली अहद शहजादा मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान को धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि या मंदिर ना सिर्फ वास्तुकला और भव्यता के दृष्टिकोण से अद्भुत होगा बल्कि यह पूरी दुनिया के लोगों को वसुधैव कुटुंबकम का संदेश भी देगा.’’

 

पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, ”भारत इस बात के लिए गर्व करता है कि खाड़ी के देशों में 30 लाख से अधिक भारतीय समुदाय के लोग यहां की विकास यात्रा में भागीदार हुए है.” उन्होंने कहा, ”कई दशकों के बाद भारत का खाड़ी के देशों के साथ इतना गहरा और व्यापक नाता बना है.”

 

नोटबंदी- GST पर विपक्ष पर साधा निशाना

 

पीएम मोदी ने ओपेरा हाउस से नोटबंदी, जीएसटी के बहाने विपक्ष पर हमला बोला. उन्होंने नोटबंदी और जीएसटी को सरकार का एक सही कदम बताया. उन्होंने कहा कि 70 साल पूरी व्यवस्था को बदलने में समय लगता है. उन्होंने कहा कि मैं देश की सवा सौ करोड़ जनता को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि जो सपने आपने देखे हैं वो एक दिन जरुर पूरे होंगे.

दुबई-अबू धाबी राजमार्ग पर बनने वाला यह अबू धाबी का पहला पाषाण निर्मित मंदिर होगा. प्रधानमंत्री की यह दूसरी यूएई यात्रा है, पहली बार वह साल 2015 में यहां आये थे. अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर 55,000 वर्ग मीटर भूमि पर बनेगा.

मंदिर का निर्माण भारतीय शिल्पकार कर रहे हैं. यह 2020 में पूरा होगा और यह सभी धर्म के लोगों के लिए खुला रहेगा. बोचासनवासी श्री अक्षर पुरषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) 1907 में स्थापित सामाजिक-आध्यात्मिक हिन्दू संगठन है. यह पूरी दुनिया में 1,100 से ज्यादा मंदिरों और सांस्कृतिक परिसरों की देखरेख करता है.

बता दें कि अपनी यात्रा के आखिरी चरण में मोदी 11-12 फरवरी को ओमान का दौरा करेंगे. वह बतौर प्रधानमंत्री पहली बार इस देश का दौरा करेंगे और ओमान के सुल्तान तथा अन्य नेताओं के साथ वार्ता करेंगे. आर्थिक और कारोबारी संबंध मजबूत करने के लिए वह ओमान के प्रमुख कारोबारियों से भी बातचीत करेंगे.

 

11 फरवरी की शाम वह ओमान के सुल्तान से मिलेंगे. वह मंत्रिपरिषद के उप प्रधानमंत्री सैयद फहद बिन मजमूद अल सैद और अंतरराष्ट्रीय संबंध एवं सहयोग मामलों के उप प्रधानमंत्री सैयद असद बिन तारिक अल सैद से भी अपनी यात्रा के दौरान मुलाकात करेंगे. ओमान में भी वह प्रवासी भारतीयों से मुलाकात करेंगे. वह ओमान में शिवमंदिर भी जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *