अगली साल से बदल जाएंगे ड्राइविंग लाइसेंस, जुडेंगे ये फीचर

INDIA TECHNOLOGY

अगले साल जुलाई से राज्य और केंद्र प्रशासित राज्य एक जैसे ड्राइविंग लाइसेंस और व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट जारी करेंगे। ड्राइविंग लाइसेंस और व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) रंग, डिजाइन देखने में और सुरक्षा फीचर में एक जैसे ही होंगे।

इन स्मार्ट डीएल और आरसी में माइक्रोचीप और क्यूआर कोड मौजूद होंगे। इसके साथ ही ये नियर फील्ड कम्यूनिकेशन फीचर (NFC) से भी लौस होंगे।

बता दें कि आरसी और स्मार्ट डीएल में एनएफसी फीचर उसी प्रकार काम करेगा जैसे मेट्रो कार्ड और एटीएम कार्ड में काम करता है। जिसकी मदद से ट्रैफिक पुलिसकर्मी आसानी से डिवाइस की मदद से कार्ड से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

नए डीएल में ड्राइवर से जुड़ी तमाम जानकारियां होंगी। जैसे क्या ड्राइवर ऑर्गन डोनेटर है या फिर क्या ड्राइवर स्पेशल डिजाइन वाहन चलाता है। रोड ट्रांसपोर्ट मंत्रालय से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि उत्सर्जन नॉर्म्स से जुड़े फीचर की जानकारी आरसी पर ही दी होगी। जो प्रदूषण रोकने में मदद करेगी।

जानकारी के मुताबिक हर दिन देशभर में लगभग 32,000 डीएल इशू किए जाएंगे या फिर रिन्यू किए जाएंगे और लगभग 43 हजार वाहन को रजिस्टर या रि-रजिस्टर किया जाएगा।

इसलिए यदि कोई व्यक्ति डीएल या आरसी रिन्यू के लिए जाता है तो उसे नया डीएल या आरसी मिलेगी। मंत्रालयस से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि जांच अधिकारियों के पास आरसी और डीएल की जांच के लिए डिवाइस दिए जाएंगे। डीएल या आरसी में मौजूद क्यूआर स्कैनर की मदद से वाहन और व्यक्ति से जुड़ी सभी जानकारियां जांचकर्ता को मिल जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *