फेसबुक ने मानी गलती, कहा- ये लोगों के साथ बड़ा विश्वासघात था

0

फेसबुक विवाद पर पहली बार कंपनी के सीईओ मार्क ज़करबर्ग ने चुप्पी तोड़ी है. मार्क ने माना कि उनकी कंपनी ने 5 करोड़ यूजर्स के डेटा को ठीक से न संभालने की गलती की. हांलाकि उन्होंने अपने यूजर्स से वादा किया है कि आगे डेटा लीक को रोकने के लिए फेसबुक की तरफ से कड़े क़दम उठाए जाएंगे.

ज़करबर्ग ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए लिखा, “हमने गलतियां की हैं, भविष्य में इसे रोकने के लिए हम कड़े कदम उठाएंगे.”

हांलाकि ज़करबर्ग ने गलतियों के बारे में विस्तार से कुछ भी नहीं बताया. लेकिन उन्होंने कहा कि वो अपने प्लेटफॉर्म पर ऐप्स की जांच करने की योजना बना रहे हैं, डेवलपर को डेटा तक पहुंच बनाने के लिए नहीं दिया जाएगा. साथ ही यूजर्स को ऐसे टूल्स दिए जाएंगे, जिससे उन्हें अपने फेसबुक डेटा को आसानी से डिसेबल करने में मदद मिलेगी.

फेसबुक पोस्ट के बाद ज़करबर्ग ने बाद में सीएनएन को एक इंटरव्यू भी दिया जहां उन्होंने कहा, “ये लोगों के साथ एक बड़ा विश्वासघात था. मुझे सच में खेद है कि ऐसा हुआ. लोगों की जानकारी की रक्षा करने की हमारी मूल जिम्मेदारी है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here