Connect with us

बलिया स्पेशल

कृषि बिल के विरोध में कई संगठनों का प्रदर्शन !

Published

on

बलिया। संसद से पारित कृषि विधेयकों के ख़िलाफ़ आज किसान संगठन देशभर में चक्का जाम कर रहे हैं। सरकार ने इन विधेयकों को किसान हितैषी बताते हुए दावा किया है कि इनसे किसानों की आय बढ़ेगी और बाज़ार उनके उत्पादों के लिए खुलेगा।

लेकिन किसान संगठनों का कहना है कि ये विधेयक कृषि क्षेत्र को कार्पोरेट के हाथों में सौंपने की कोशिशों का हिस्सा हैं। इस को लेकर बलिया में भी कई संगठन, राजनैतिक पार्टियों ने प्रदर्शन किया और जिलाधिकारी को ज्ञापन सौपा

सपा कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा। आरोप लगाया कि नया कृषि कानून किसानों के लिए गाला घोंटू कानून है। नए कानून में कृषि उत्पाद का न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित न होने के कारण किसान अपने कृषि उत्पाद को औने-पौने दामों पर बेचने को मजबूर होगा।

वहीं, गेहूं, धान और दलहन की फसलों को आवश्यक वस्तु अधिनियम से बाहर कर दिया गया है। जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव ने कहा कि सपा पूरी तरह से देश के किसानों और मजदूरों के साथ खड़ी है। इस काले कानून का विरोध अंतिम समय तक किया जाएगा। इस अवसर पर पूर्व मंत्री नारद राय, पूर्व विधायक श्रीमती मंजू सिंह, समेत सैकड़ों कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे।

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष लल्लन प्रसाद गोंड के नेतृत्व में शुक्रवार को कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। तत्पश्चात राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा। प्रदेश उपाध्यक्ष लल्लन प्रसाद गोंड ने कहा कि किसान, मजदूर और नौजवान किसान विरोधी कानून के खिलाफ भारत बंद किए है।

हम भी इस आन्दोलन के साथ खड़े है। यह कानून भारत के हर नागरिक के खिलाफ है। कहा कि नई कृषि नीति-2020 किसान, मजदूर व गरीब विरोधी है। पूंजीपतियों के फायदे के लिए बनाए गए काले कानूनों को रद्द किया जाना चाहिए। यह केवल कारपोरेट्स के फायदे के लिए बनाये गये हैं।

भारत बंद के समर्थन में सामाजिक न्याय मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को ब्लाक मुख्यालय पर पहुंचकर प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन बीडीओ के प्रतिनिधि को सौंपा। मांग किया कि किसान विरोधी कृषि बिल वापस लिया जाए।

किसानों के हित में स्वामीनाथन समिति की सिफारिश को लागू किया जाए। मजदूर विरोधी श्रम संशोधन विधेयक वापस लिया जाए। कोरोनाबंदी के कारण बेरोजगार हुए मजदूरों को रोजगार की गारंटी ििदया जाय। अन्यथा प्रत्येक परिवार को 7500 रुपए गुजारा भत्ता दिया जाए।

भारत बंद के तहत अखिल भारतीय किसान सभा जिला इकाई के अध्यक्ष लक्ष्मण पांडेय के नेतृत्व में किसानों ने नारा लगाते हुए नगर भरमण किया तथा ब्लाक कार्यालय पर पहुंचकर एडीओ आईएसबी प्रमोद कुमार को पत्रक सौंपा। मांग किया कि किसान विरोधी बिल को वापस लिया जाए तथा अनाजों के लिए एक देश-एक मूल्य तय किया जाय।

समर्थन मूल्य से कम पर अनाज की खरीद गैर कानूनी तथा संज्ञेय अपराध घोषित किया जाय। पत्रक सौंपे जाने के पूर्व किसानों का जुलूस स्थानीय बस स्टैंड से निकलकर थाना मार्ग, बीज गोदाम मार्ग होते हुए बड़ी बाजार, सीएचसी होते हुए ब्लाक कार्यालय पहुंचा।

 

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

featured

बलिया में टूटे सारे रिकॉर्ड, पहली बार 24 घंटे में 216 नए केस, एक की मौत

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया में कोरोना वायरस की रफ्तार बेकाबू हो गई है. जिले में पहली बार 24 घंटे के भीतर 216 कोरोना वायरस के केस दर्ज किए गए हैं. वहीँ आज 1 मरीज की मौत भी हुई है. जिले में इस बीमारी से अबतक 117 लोग जान गवा चुके हैं.

जारी आकड़ों के मुताबिक जिले में आज 216 नए मामले सामने आये हैं. जिले में राज्य में कोरोना संक्रमण  के मद्देनज़र जिले में नाईट कर्फ्यू भी लगाया  गया है.

वहीं जिले में अबतक कुल 117 की जान इस बीमारी से चली गई.  जिले में अब कुल कोरोना केसों का नंबर 9118 हो गया है.  कुल केसों में से 2048 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं.  879 केस फिलहाल ऐक्टिव हैं.

Continue Reading

featured

CM योगी का आदेश, बलिया में वेंटिलेटर, L-3 बेड्स की सुविधा उपलब्ध कराई जाए

Published

on

 बलिया । कोरोना से लोगों के बचाव को लेकर उप्र की योगी सरकार अलर्ट मोड़ पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सूबे में किए गए चिकित्सा प्रबंधों की रोज समीक्षा कर रहे हैं।

राज्य में रोजाना कितने लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं और उनके इलाज के लिए जिलों में क्या क्या कदम उठाये जा रहे है  तथा प्रदेश में प्रतिदिन कितने लोगों ने टीकाकरण कराया, मुख्यमंत्री इसकी भी समीक्षा  रोज कर रहे हैं।

वहीं बलिया को लेकर सीएम योगी खास निर्देश दिया है सीएम ऑफिस के आफिसियाल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है कि बलिया में वेंटिलेटर व HFNC को फंक्शनल किया जाए तथा एल-3 बेड्स की सुविधा उपलब्ध कराई जाए।  बात दें की बलिया में कोरोना के रोज औसतन 100 मरीज मिल रहे हैं , इसी को देखते हुए स्वास्थ विभाग को अलर्ट किया गया है ।

Continue Reading

बलिया

बलिया- खेत मे कटाई के दौरान दिखा नरकंकाल, इलाके में दहशत !

Published

on

बलिया। बलिया जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र में एक नरकंकाल मिलने से इलाके में हड़कम्प मच गया । यह नरकंकाल भीमपुरा बाजार से उत्तर पश्चिम दिशा में स्थित खेत में पड़ा था ।

कंकाल के पास लुंगी व चप्पल पड़े हुए है। गेहू की कटाई के दौरान यह नर कंकाल दिखा है ।कंकाल देख कटाई करने वालो में दहशत फ़ैल गई। सूचना पर सीओ रसड़ा शिवनारायण  व थाना प्रभारी शिवमिलन अपने हमराहियों विक्रम राठौर आदि सहित मौके पर पहुँचे और कंकाल  को उठाकर पीएम के लिए बलिया भेजा ।

Continue Reading

TRENDING STORIES