Connect with us

बलिया स्पेशल

पंचायत चुनाव में सीट आरक्षण: बलिया में लगी आपत्तियों की झड़ी

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को आरक्षण आवंटन सूचि पर लेकर लोगों ने आपति जतानी शुरू कर दी है.  शनिवार तक  जिले में आपत्तियों की झड़ी लग गई है. अबतक जिला पंचायत के लिए 33 से ज्यादा आपति दाखिल हुई.  वहीँ ग्राम पंचायत के लिए 328, तथा क्षेत्र पंचायत के लिया 45 से ज्यादा आपत्तियां दाखिल की गईं है.

आपति दाखिल करने के अंतिम तिथि आठ मार्च निर्धारित है. उम्मीद जताई जा रही है कि आखिर दिन संख्या और बढ़ सकती है.  बहरहाल,  इन आपत्तियों का निस्तारण नौ से 12 मार्च तक होगा.

बता दें की अधिकतर ग्रामीणों का यही तर्क है कि उनके यहां संबंधित वर्ग की आबादी कम है, फिर भी पद आरक्षित कर दिया गया. प्रधान पद के आरक्षण पर सवाल खड़ा करने वालों का कहना है कि उनके यहां आरक्षण बदलना चाहिए. जिला पंचायत सदस्य पद के लिए सामने आए आरक्षण ने कई दावेदारों के मंसूबों पर पानी फेर दिया है. कई महत्वपूर्ण नाम दौड़ से बाहर हो गए हैं.

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया पुलिस ने कोरोना गाइड लाइन के उल्लंघन में कुल 563 व्यक्तियों का चालान किया

Published

on

बलिया डेस्क:   जिले में कोरोना के बढते मामले के बीच पिछले एक सप्ताह से कोरोना गाइड लाइन के उल्लंघन के सम्बन्ध में बलिया पुलिस द्वारा अब तक कुल 12 मुकदमें पंजीकृत किये गये । जिनमें अभियुक्तों की संख्या 83 है । इसी क्रम में आज बलिया पुलिस द्वारा दोपहर 02 बजे से 03 बजे तक का एक अभियान चलाया गया।

जिसमें लोगो को मास्क वितरण किया गया एवं कोरोना गाइड लाइन के विषय में समझाया व जागरूक किया गया। इसी दौरान कोरोना गाइड लाइन के उल्लंघन में कुल 563 व्यक्तियों का चालान किया गया। जिनसे जुर्माने के रूप में कुल 7,100 रू0 वसूला गया ।

Continue Reading

featured

डीएम ने 4 अपर मुख्य चिकित्साधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया, एक का रोका वेतन

Published

on

बलिया: कोरोना काल में लापरवाही पर जिलाधिकारी अदिति सिंह ने चार अपर मुख्य चिकित्साधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

कोविड-19 की समीक्षा बैठक से गायब रहने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए तीन दिनों के अंदर जवाब मांगा है। अन्यथा की स्थिति में विभागीय प्रतिकूल कार्यवाही की बात कही है। दरअसल, 14 अप्रैल की बैठक में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी विजय यादव अनुपस्थित थे,​ जिसकी वजह से एल-1 कोविड अस्पताल फेफना के कार्यों की जानकारी नहीं हो सकी। इस पर जिलाधिकारी ने डॉ यादव को कारण बताओं नोटिस जारी करने के साथ ​अग्रिम आदेश तक वेतन पर रोक लगाने का आदेश सीएमओ को दिया है। इसी प्रकार 15 अप्रैल की बैठक से एसीएमओ डॉ आरके सिंह, एसीएमओ डॉ राजनाथ व एसीएमओ डॉ जेआर ​तिवारी गायब थे। इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए जिलाधिकारी ने कहा है कि इस महामारी की स्थिति में यह लापरवाही ठीक नहीं है।

निजी चिकित्सालय में पॉजिटिव केस मिलने पर कंट्रोल रूम को सूचना देना अनिवार्य

जिलाधिकारी अदिति सिंह ने निर्देश दिया है कि निजी चिकित्सालय में जांच के दौरान अगर कोई पॉजिटिव मिलता है तो उसकी सूचना इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर को जरूर दें। कंट्रोल रूम का नम्बर 0549822082, 05498221856, 05498223918 या 9454417979 है।

जिलाधिकारी ने कहा है कि ऐसा संज्ञान में आया है कि बिना कमाण्ड सेंटर को अवगत कराए पॉजिटिव मरीज को अन्य बड़े अस्पताल में रेफर कर दिया जाता है। उन्होंने सीएमओ को निर्देशित किया है कि सभी निजी चिकित्सालयों को इस सम्बन्ध में दिशा-निर्देश जारी कर दें। अगर सूचना नहीं देते हैं तो उन अस्पतालों पर कार्रवाई सुनिश्चित कराएं।

Continue Reading

बलिया

दिल्ली से बलिया जा रही महिला को 35 हजार में बेच दिया

Published

on

बलिया डेस्क: दिल्ली से बलिया जा रही एक महिला के साथ एक अजीबोगरीब मामला देखने में सामने आया है दरअसल बीते 12 अप्रैल को ट्रेन से एक महिला अपने बच्चों के साथ बलिया जा रही थी। तभी महिला को 35 हजार रुपये में बेच दिए जाने का मामला सामने आया है। बेचने वाला ट्रेन में ही मिला था। उसने महिला को बरगला कर ट्रेन से उतार लिया और परसपुर ले आया। बुधवार को लिखापढ़ी के दौरान महिला को कुछ शक हुआ तो उसने शोर मचाया। तभी वहां पर भीड़ इकट्ठा हुई और पुलिस आ गई। पुलिस अब पूरे मामले की जांच कर रही है।

पुरा मामला क्या है?

दिल्ली की रहने वाली पूजा पत्नी रोहिताश ने बताया कि वह अपने तीन छोटे बच्चों के साथ अपनी बहन के घर बलिया जा रही थी। ट्रेन में उसे एक व्यक्ति मिला। उसने बताया कि वह भी बलिया चल रहा है। 12 अप्रैल की रात में उस व्यक्ति ने बताया कि बलिया आ गया है। वह उसके झांसे में आ गई। उसने गोंडा रेलवे स्टेशन पर उतार लिया। बाद में कहा कि यह तो गलती हो गई। उसने कहा कि गोंडा परसपुर में उसके रिश्तेदार रहते हैं। वहीं चलते हैं फिर बाद में बलिया चलेंगे। इस दौरान उसने पूजा को खरिकवा चरसड़ी थाना परसपुर निवासी एक व्यक्ति के हाथ 35 हजार रुपये में बेच दिया।

बुधवार को जिस व्यक्ति ने पूजा को खरीदा था वह अपने बहनोई व परिवारजन के साथ परसपुर कस्बे में कागजात पर लिखापढ़ी कराने गया था। जब महिला से कागज पर अंगूठा लगाने को कहा गया तो वह शोर मचाने लगी। इस पर भीड़ इकट्ठा हो गई। डायल 112 पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस महिला व उसके साथ आए लोगों को थाने ले गई। प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि महिला दिल्ली में कहां की रहने वाली है और बलिया में कहां जा रही थी। इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। उसके परिवारजन को सूचना भेजी जा रही है। आरोपितों से पूछताछ जारी है। मुकदमा करके कार्रवाई की जाएगी।

 

 

Continue Reading

TRENDING STORIES