पिछड़ों को अलग आरक्षण नहीं दिया तो अकेले दम पर लड़ेंगे : ओम प्रकाश राजभर

0

बनत रही जब बनत रही हमरी तोहरी अब ना बनी, तू जा अपने घरे, हम जात हयी अपने घरे…। इस गंवई कहावत के साथ सुहैलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और प्रदेश सरकार में मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने एक बार फिर भाजपा से अपनी नाराजगी जता दी है।

चेतावनी देते हुए श्री राजभर ने कहा कि 17 फरवरी को महाराष्ट्र में उनकी पार्टी का कार्यक्रम होने वाला है।

उससे पहले अगर भाजपा ने सामाजिक न्याय समिति की संस्तुतियों को लागू करते हुए अति पिछड़ों को पृथक आरक्षण देने की घोषणा नहीं की तो फिर वह महाराष्ट्र के उसी कार्यक्रम में सभी 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का एलान कर देंगे।

उन्होंने कहा कि वह अन्य किसी पार्टी से गठबंधन नहीं करेंगे और अकेले ही लोस चुनाव लड़ेंगे।

श्री राजभर के अनुसार सपा और बसपा भी अति पिछड़ों को पृथक आरक्षण दिए जाने के मुद्दे पर खुलकर सामने नहीं आ रही हैं। पार्टी की कार्यकारिणी बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में श्री राजभर ने कहा कि भाजपा ने अति पिछड़ों को अलग से आरक्षण देने का वादा किया था। मगर यह वादा आज तक पूरा नहीं किया। अब लोकसभा चुनाव करीब आ चुके हैं, 100 दिन का भी समय नहीं बचा है। भाजपा ने अगर समय रहते अपना वादा पूरा किया तो ठीक वर्ना तो भाजपा को परिणाम भुगतना पड़ेगा।

सीबीआई के हालिया छापे पर उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि दो साल से मामला शांत था। महागठबंधन का फैसला होते ही सीबीआई सक्रिय हो गयी। अभी तक सीबीआई सो रही थी क्या? उन्होंने कहा कि सपा और बसपा अगर भ्रष्टाचार के दोषी हैं भी तो भी अब सीबीआई की सक्रियता से आम आदमी में यही संदेश जा रहा है कि लोकसभा चुनाव के लिए इन दोनों पार्टियों का गठबंधन होने से अब भाजपा और केन्द्र सरकार के इशारे पर सीबीआई छापेमारी कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here