Connect with us

बलिया स्पेशल

बलिया डीएम ने नए साल के जश्न पर जारी की एडवाइजरी, घरों में रहकर मनाएँ तो बेहतर !

Published

on

बलिया डेस्क : नए साल जिला प्रशासन ने पहले ही एडवाइजरी जारी कर दी है। जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने कोविड-19 से जुड़े प्रोटोकॉल का अक्षरशः अनुपालन कराने के निर्देश सभी एसडीएम, सीओ व एसओ को दे दिए हैं। एडीएम व एएसपी को कार्यवाही पर नजर रखने को कहा है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि नव वर्ष अपने घरों में ही रहकर मनाएं तो बेहतर होगा। कहीं अनुमति लेकर कार्यक्रम भी होंगे तो वहां पुलिस की पैनी नजर होगी। इसके अलावा होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल, रेलवे व बस स्टेशन, मुख्य मार्ग, बाजार चौराहों पर भी पुलिस व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं।

जिलाधिकारी ने बताया है कि नव वर्ष के जश्न में सामूहिक कार्यक्रम आदि होते हैं, जिसमें अधिक संख्या में लोग जुटते हैं। इससे कोरोना के प्रसार की सम्भावना भी बढ़ेगी। इसको देखते हुए जिलाधिकारी ने कहा है कि कोई भी कार्यक्रम बिना एसडीएम की अनुमति के नहीं होगा। अनुमति के समय आयोजक का नाम, पता, मोबाईल नम्बर कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अनुमानित संख्या भी प्राप्त कर ली जाए। आयोजकों को कोविड से बचान सम्बन्धी दिशा-निर्देशों की जानकारी दे दी जाए।

उन्होंने बताया कि कोई कार्यक्रम किसी हाल में हो तो उसकी क्षमता से पचास फीसदी लोग या अधिकतम 100 लोगों की ही अनुमति प्रदान की जाएगी। खुले में होगा तो मैदान के क्षेत्रफल के हिसाब से 40 फीसदी के कम लोगों की अनुमति होगी और वहां हैंडवाश, थर्मल स्कैनिंग, मास्क, सेनेटाइजेशन आदि की जरूरी व्यवस्थाएं रखना अनिवार्य होगा। उन्होंने निर्देश दिया है कि लगातार लाउडहेलर से कोविड-19 के बचने की सावधानियों का प्रचार-प्रसार होता रहे।

मास्क नहीं लगाने पर लगेगा जुर्माने की भी कार्रवाई होगी

जिलाधिकारी ने पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को यह भी आदेश दिया है कि अगर कहीं कार्यक्रम हो तो उस पर नजर रखी जाए। आवश्यकतानुसार डोन कैमरे से भी निगरानी की जाए। अगर मास्क का प्रयोग नहीं दिखे या प्रोटोकॉल का उल्लंघन हो तो जुर्माने की कार्रवाई भी की जाए। यूपी 112 के वाहनों का विशेष कार्यक्रम स्थलों पर आवश्यकतानुसार लगाने पर सम्बन्धित अधिकारी विचार विमर्श कर कार्यवाही करें। इस दौरान अराजक तत्वों व सोशल मीडिया पर भी निगरानी रखी जाए।

शराब पीकर गाड़ी चलाने पर होगी कार्रवाई

जिलाधिकारी ने कहा है कि रात्रि में दुपहिया व चार पहिया वाहनों की जांच की जाए। इसमें खास तौर पर यह देख लें कि कोई शराब पीकर गाड़ी तो नहीं चला रहा है। इसकी जांच कर लें और अगर कोई ऐसा मिले तो नियमानुसार जरूरी कार्यवाही करें। साथ ही उनकी सुरक्षित यात्रा के लिए यातायात नियमों के बारे में शालीनता से जागरूक भी करें।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया स्पेशल

बलिया में Missing Cat के पोस्टर वायरल, खोजने वाले को मिलेगा इनाम !

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया में लापता बिल्ली के पोस्टर सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वायरल हो रहे हैं। सुनकर आपको थोड़ा अजीब जरूर लग सकता है, पर है सोलह आने सच। पोस्टर में एक सफेद रंग की एक खूबसूरत सी बिल्ली बनी हुई है, जिसकी एक आंख भूरी और दूसरी ब्लू है।  कैट की तस्वीर के साथ उसकी पहचान भी बताई गई है।

साथ ही दो मोबाइल नंबर (9415658949, 8840096304) शेयर किया गया है, जिस पर सूचना मिलने पर जानकारी देने का अनुरोध किया गया है। साथ ही लोगों से अपील की गई है कि इस पोस्टर को सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफॉर्म्स पर शेयर करें, ताकि जल्द से जल्द उसे खोजा जा सके।

बिल्ली जिसके लापता होने के पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल है , वही जब हमने पोस्टर पर दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर इस बारे में जानने की कोशिश की तो पालतू बिल्ली की मालिक कुंवर मनोज कुमार सिंह ने बताया की जो पोस्टर वायरल हो रहे हैं वो हमने ही सोशल मीडिया पर शेयर किया है वह 3 दिन से तीखमपुर शारदा हॉस्पिटल के पास से गायब है।

तमाम कोशिशों के बाद भी नहीं मिलने पर हमने बिल्ली का पोस्टर सोशल मीडिया पर जारी किया था। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि अगर आप को इस बिल्ली को बलिया में कहीं पाते हैं तो इस नंबर पर संपर्क करें। पहुचाने वाले को उचित इनाम भी दिया जाएगा।

Continue Reading

बैरिया

बलिया: सड़क हादसे में किशोर की गई जान, विरोध में लोगों ने किया चक्का जाम, मौक़े पर पहुँचे सांसद

Published

on

बैरिया डेस्क : यातायात नियमों का अनुपालन न होने तथा रफ्तार की मार से  बलिया में सड़क हादसे रुकने का नाम ही नहीं ले रही है। प्रशासन की ओर से जागरुकता अभियान चलाने के बाद भी हादसे थमने का नाम ही नहीं ले रहा। रविवार को भी  हादसा किशोर के साथ पेश आया जहाँ उसकी जान चली गई ।

बताया जाता है कि खेत मे सिचांई कर रहे पिता को खाना पहुचां कर घर लौट रहे किशोर को सोनबरसा गांव के समीप एनएच 31 पर पिकअप ने रौंदा डाला। जिसके बाद घटना स्थल पर ही किशोर की हुई मौत चालक पिकअप लेकर फरार हो गया। विरोध में ग्रामीणों ने एनएच 31 घण्टो जाम कर दिया।

जानकारी के मुताबिक सुनील माली 15 वर्ष पुत्र भूलन माली निवासी सोनबरसा रविवार को दिन में लगभग 11 बजे खेत मे काम कर रहे पिता को खाना पहुचां कर घर वापस लौट रहा था। कि सोनबरसा गांव के सामने एनएच 31 पर बिहार से तेज रफ्तार आ रही पिकअप ने सुनील को रौंद दिया,जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गयी।

ग्रामीण जब तक मौके पर जुटते पिकअप चालक पिकअप लेकर मौके से फरार हो गया।विरोध में शव को सड़क पर रखकर ग्रामीणों ने एनएच 31 को जाम कर दिया,जिससे वाहनों की लम्बी कतार एनएच पर लग गयी,और जाम की स्थिति पैदा हो गयी। मौके पर पहुचे एसएचओ संजय त्रिपाठी ने जाम कर रहे ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया किन्तु ग्रामीण पुलिस को देखते ही उग्र हो गए और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारे लगाने लगे।

घटना स्थल पर पहुचे सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त ने ग्रामीणों से बातचीत के बाद मौके से ही डीएम,एसडीएम व सीओ से बात की और तत्काल मौके पर पहुचंकर जाम समाप्त कराने और मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता दिलवाने को कहा। जिसके बाद सपा नेता मनोज सिंह अपने लाव लश्कर के साथ मौके पर पहुचकर सड़क दुर्घटना पर नाराजगी जताते हुए प्रशासन को जिम्मेवार ठहराया और तत्काल पीड़ित को आर्थिक सहायता देने की मांग की।

दुर्घटना के लगभग तीन घण्टे बाद क्षेत्राधिकारी आर के तिवारी के साथ मौके पर पहुचे उपजिलाधिकारी प्रशान्त कुमार नायक ने 10 दिनों के भीतर मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने व सोनबरसा मोड़ पर गति अवरोधक बनवाने का आश्वासन दिया। इसके बाद सड़क जाम समाप्त हो गया।

एसएचओ संजय त्रिपाठी ने बताया कि दुर्घटना करने वाली पिकअप को बरामद कर चालक प्रिंस मिश्र निवासी केवरा थाना बांसडीह कोतवाली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।पिता के तहरीर पर सम्बन्धितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

 

Continue Reading

बलिया स्पेशल

8 महीने बाद पहली बार बलिया में नहीं मिला कोरोना को कोई नया केस

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया में रहने वाले लोगों के लिए राहत की खबर है।  जिले में 8 माह बाद पहली बार कोरोना का कोई केस नहीं मिला है। इसके साथ ही 3 कोरोना मरीजों के ठीक होने पर छुट्टी मिली है।

जिले में शनिवार को 612 लोगों की कोरोना जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से सैंपल लिए गए थे, लेकिन उनमें से किसी व्यक्ति को कोरोना पुष्टि नहीं हो सकी। अब तक जिले में कुल 7211 कोरोना के मरीज पाए गए हैं।

जिले में कोरोना का पहला मामला 11 मई को आया था। इसके बाद से हर रोज कोरोना के नए केस मिल रहे थे। इसके चलते अब तक 7211 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 7094 स्वस्थ हुए हैं। साथ ही कोरोना से 106 लोगों की मौत भी हो चुकी है। फिलहाल जिले में 11 मरीजों का उपचार चल रहा है।

पिछले काफी दिनों से कोरोना के नए मामलों में गिरावट आ रही थी, लेकिन अब 8 महीने बाद रविवार को पहली बार कोरोना को कोई नया केस नहीं आया है।

 

Continue Reading

TRENDING STORIES