Connect with us

उत्तर प्रदेश

मुसलमान तो छोड़िये हिन्दुओं की भी नहीं बन सकी योगी सरकार- आज़म खान

Published

on

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने योगी सरकार पर जम कर हमला बोला है। आज़म ने कहा कि एक साल के कार्यकाल में सीएम योगी किसी के भी भरोसे  पर खरा नहीं उतर सके। आजम ने कहा कि मुसलमानों की बात तो छोड़ दीजिए, हिन्दू-हिन्दू की रट लगाने वाले योगी जी तो हिन्दुओं के भी हितैषी नहीं बन सके। उन्होंने कहा कि योगी जी और उनकी सरकार एक साल का जश्न मना रही है लेकिन जनता एक साल के अंदर ही उनका हिसाब कर रही है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर और फूलपुर जनता द्वारा किया गया हिसाब का नतीजा है।

सपा  नेता ने कहा कि इस एक साल में योगी आदित्यनाथ जी न घर के रहे न घाट के। जनता ने उन्हें आइना दिखा दिया है। आजम ने कहा कि यहां तक योगी जी ने भी जिस बूथ पर लोकसभा उप चुनाव में वोट डाला था, वहां भी बीजेपी हार गई। सहयोगी दलों की नाराजगी पर चुटकी लेते हुए आजम खान ने कहा कि उनसे भी इनलोगों ने कोई वादा किया होगा और जब वादे पूरे नहीं हो रहे होंगे तो नाराजगी लाजमी है। आजम ने कहा कि सारे सहयोगी दल अब तो यही कहते फिर रहे हैं कि उनके साथ बीजेपी ने छल किया है। उनसे झूठ बोला गया था, धोखा हुआ।

 

featured

UP Panchayat Election- आज जारी हो सकती है आरक्षण की नई नीति, हो सकते हैं ये बदलाव !

Published

on

लखनऊ डेस्क : यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर आज वार्डों के आरक्षण की नई नीति जारी हो सकती है. ग्राम प्रधानों व ग्राम पंचायत सदस्यों के चुनाव के लिए चक्रानुक्रम आरक्षण लागू हो सकता है. इसके अलावा बीडीसी, जिला पंचायत सदस्य, जिला पंचायत अध्यक्ष, ब्लाक प्रमुख के निर्वाचन क्षेत्र में आरक्षण में बदलाव संभव है.

बता दें कि 25 दिसंबर को ग्राम प्रधानों का कार्यकाल खत्म हो चुका है. इस बार प्रदेश में 57,207 ग्राम प्रधान चुने जाएंगे. 2015 में किसी ग्राम पंचायत में प्रधान पद एससी के लिए लागू था तो इस बार उसे आरक्षित नहीं किया जाएगा. ग्राम पंचायतों की सूची में अंकित किया जाएगा कि 1995 में कौन सी ग्राम पंचायत किस वर्ग के लिए आरक्षित थी.

खर्च की सीमा तय
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में 58 हजार से ज्यादा ग्राम पंचायतें हैं. 826 ब्लॉक है और 75 जिला पंचायतें हैं. ये सभी चुनाव बैलेट पेपर से होंगे और इसमें पार्टी का सिंबल अलाउ नहीं किया जाएगा. वहीं जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए खर्च की सीमा 4 लाख तय की गई है, और ग्राम प्रधानों के लिए खर्च की सीमा 75 हजार तय की गई है.

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

अयोध्या में गरजे स्वामी अभिषेक और रोहित सिंह, कहा- 2022 में होगा महापरिवर्तन

Published

on

अयोध्या में स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी एवं युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने कनक भवन में दर्शन-पूजन किया।
स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा की उत्तर प्रदेश में अपराधियों का राज हो गया चारों ओर हत्या,अपहरण एवं लूट की घटनाएँ हो रही हैं और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोए हुए हैं।

स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा की किसानों के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी निष्ठुर हैं।स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा की भाजपा सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग कर रही है।स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा की धर्म आस्था का विषय है परंतु भाजपा धर्म के आड़ में राजनीति कर रही है।

स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा की उत्तर प्रदेश में युवा चेतना सड़क पर विपक्ष की भूमिका निभा रही है।
युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने कहा की उत्तर प्रदेश में जनता को एकजुट होकर 2022 में प्रदेश की तरक्की के लिए महापरिवर्तन कराना होगा।

श्री सिंह ने कहा की भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए समाजवादी पार्टी,बसपा,कांग्रेस,आप और अन्य सेक्युलर शक्तियों को एक मंच पर आना होगा।श्री सिंह ने कहा की युवा चेतना उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी उतारेगी।श्री सिंह ने कहा की योगी सरकार अपराधी-पुलिस गठबंधन की सरकार है।

श्री सिंह ने कहा की योगी आदित्यनाथ की सरकार को लगभग 4 साल होने को है कोई 3 काम बताएँ जिसे जनता माडल माने।श्री सिंह ने कहा की युवा चेतना गाँव,गरीब,किसान,मजदूर और नौजवान की लड़ाई लड़ रही है।श्री सिंह ने कहा की हमारी प्राथमिकता उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाना है।

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

किसान विरोधी कानून के खिलाफ आज कांग्रेस का फिर बड़ा प्रदर्शन

Published

on

बलिया : किसान विरोधी कानून के खिलाफ आज बुधवार को कांग्रेस का फिर बड़ा प्रदर्शन होगा।  किसान दिवस पर भाजपा के सांसदों और विधायकों को फिर घेरेंगे कांग्रेसी कार्यकर्त्ता.  भाजपा जनप्रतिनिधियों के कार्यालयों पर थाली बजाकर प्रदर्शन भी होगा।

किसानों के मुद्दे पर प्रदेश में कांग्रेस का प्रदेश व्यापी आंदोलन आज किया जाएगा. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि केन्द्र सरकार को नींद से जगाने के लिए यह आंदोलन किया जा रहा है। किसान विरोधी तीनों काले कृषि कानूनों के खिलाफ देश भर के किसान संगठन लंबे समय से आन्दोलनरत हैं।

आन्दोलन के दौरान कई किसानों की दुःखद मौतें हो चुकी हैं लेकिन केंद्र सरकार किसानों की मांगों की लगातार अनदेखी कर रही है। उन्होंने कहा कि तीनों काले कृषि कानूनों को वापस लिए जाने तक कांग्रेस पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा।

Continue Reading

TRENDING STORIES