Connect with us

बलिया

34 जिलों के 100 ब्लॉकों के विकास के लिए विशेष प्लान बनाने का निर्देश, बलिया का नाम टॉप पर

Published

on

बलिया डेस्क : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आकांक्षी जिलों की तर्ज पर योगी सरकार सूबे के ब्लॉकों को विकसित करने की तैयारी कर रही है। सरकार सूबे के 34 ज़िलों के 100 ब्लॉकों के विकास के लिए कार्ययोजना तैयार कर रही है।  मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि चुने गए 34 ज़िलों के जिलाधिकारियों को ब्लॉकों के विकास के लिए कार्ययोजना तैयार कर शासन को भेजने के निर्देश दिए गए हैं।

बताया जा रहा है कि सरकार के इस कदम से इन विकास खंडों के अंतर्गत आने वाले गांवों में विकास की बयार आएगी। इससे गांवों में स्वास्थ्य, शिक्षा, कुपोषण, कृषि एवं जल संसाधन, कौशल विकास, बुनियादी ढांचा सहित विभिन्न बुनियादी जरूरतों में सुधार होगा।
बीजेपी नेताओं ने योगी सरकार के इस कदम की सराहना की है।

पार्टी राष्ट्रीय कार्य समिति के पूर्व सदस्य प्रत्यूष द्विवेदी ने कहा, “समृद्ध ग्राम से ही समृद्ध राष्ट्र की परिकल्पना को साकार रूप दिया जा सकता है। ग्राम स्वावलंबन से आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार हो सकता है। इस परिकल्पना को साकार करने के लिए माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा उठाया गया यह कदम सराहनीय है।”

वहीं बस्ती ज़िला के बीजेपी जिला पंचायत वार्ड प्रथम के संयोजक ओपी शुक्ला ने कहा कि योगी सरकार के इस कदम से अति पिछड़े ब्लॉकों में विकास की गति तेज़ होगी। इसके ज़रिए शिक्षा, स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाओं के विकास पर ज़ोर दिया जाएगा।
किस ज़िले में कितने ब्लॉकों का होगा विकास?
एटा – 3
बलिया – 8
बरेली – 5
बाराबंकी – 2
बांदा – 3
बस्ती – 4
बदायूं – 6
कासगंज – 3
कौशांबी – 2
कुशीनगर – 1
महाराजगंज – 6
महोबा – 1
बिजनौर – 2
मिर्जापुर – 5
पीलीभीत – 1
प्रयागराज – 3
संतकबीर नगर – 3
भदोही – 1
संभल – 7
देवरिया – 1
फरूर्खाबाद – 2
जालौन – 2
अंबेडकरनगर – 3
अलीगढ़ – 1
गोंडा – 3
गोरखपुर – 3
गाजीपुर – 6
ललितपुर – 1
अमेठी – 3
जौनपुर – 2
रामपुर – 1
लखीमपुर खीरी – 4
सीतापुर -1
हरदोई -1
ज़िलावार दी गई विकास खंडों की संख्या वाली फेहरिस्त में बलिया का नाम टॉप पर है, यहां सबसे ज़्यादा 8 ब्लाकों का विकास किया जाएगा।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया- खेत मे कटाई के दौरान दिखा नरकंकाल, इलाके में दहशत !

Published

on

बलिया। बलिया जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र में एक नरकंकाल मिलने से इलाके में हड़कम्प मच गया । यह नरकंकाल भीमपुरा बाजार से उत्तर पश्चिम दिशा में स्थित खेत में पड़ा था ।

कंकाल के पास लुंगी व चप्पल पड़े हुए है। गेहू की कटाई के दौरान यह नर कंकाल दिखा है ।कंकाल देख कटाई करने वालो में दहशत फ़ैल गई। सूचना पर सीओ रसड़ा शिवनारायण  व थाना प्रभारी शिवमिलन अपने हमराहियों विक्रम राठौर आदि सहित मौके पर पहुँचे और कंकाल  को उठाकर पीएम के लिए बलिया भेजा ।

Continue Reading

बलिया

बलिया- कोविड-19 के बढते मामले के बीच पुलिस की बड़ी कार्यवाही , 133 लोगों का किया चालान

Published

on

बलिया डेस्क: जिले में बढते कोरोना केस के मद्देनज़र प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। इसी के मद्यनज़र जिला प्रशासन पुरी मुस्तैदी के साथ के साथ काम कर रहा है।

पहले प्रशासन के तरफ से जिले में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया। उसके बाद जिले के सभी थानों द्वारा एक बार फिर आज सघन चेकिंग की गयी। चेकिंग के दौरान सार्वजनिक स्थान पर अथवा घर से बाहर मास्क, गमछा, रूमाल, दुपट्टा, स्कार्फ न पहनने वाले कुल 133 व्यक्तियों का चालान किया गया, जिनसे जुर्माने के रूप मे कुल 13,300 रू0 वसूला गया ।

 

Continue Reading

featured

बलिया जिले में आज रात से नाइट कर्फ्यू, जानें 10 बड़ी बातें !

Published

on

बलिया डेस्क:  बलिया में नाइट कर्फ्यू का आदेश जारी कर दिया गया है। जिले में बढते कोरोना मामले के बीच जिला प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। इसी के मद्यनज़र जिला प्रशासन ने शनिवार को  ये बड़ा फैसला लिया गया।

जानें 10 बड़ी बात

1-आज से यानी 10 अप्रैल की रात 09 बजे से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा।

2- नाइट कर्फ्यू जिले में रात्रि 09 बजे से सुबह 06 बजे तक प्रभावी रहेगा।

3- शुक्रवार को ही 12वीं तक के सभी विद्यालयों को बन्द करने का एलान किया गया था।

4- बंद कमरे में सामूहिक आयोजन के लिए 50 लोग या अधिकतम 100 लोगों की अनुमति दी जाएगी।

5- खुले मैदान में 200 से अधिक लोग किसी सार्वजनिक आयोजन में मौजूद नहीं होंगे।

6- कक्षा 1 से 12 तक के सभी स्कूल पूरी तरह से बंद होंगे, कक्षाओं का संचालन ऑनलाइन होगा।

7- रात में ट्रेन से आने वाले यात्री अपने टिकट को दिखाकर ही आगे सड़क पर सफर करे सकेंगे।

8- इस दौरान अति आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित नहीं होगी।

9-  दूध, दही, जरूरी खाद्यान व दवाओं की वाहन आसानी से प्रवेश कर सकेंगे।

10-अनावश्यक किसी को इस दौरान बाहर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

 

Continue Reading

TRENDING STORIES