ट्रेन में हिंदी बोलने पर भड़’की लड़की, फिर जो हुआ उसे देख सब हैरा’न रह गये

0

अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में हम कहीं ना कहीं आते जाते ही रहते हैं अधिकतर सफर के लिए हम ट्रेन बस या मेट्रो का सहारा लेते हैं। अक्सर इन बसों और ट्रेनों में कुछ ऐसे लोग भी चढ़ते हैं जो हमारे शहर के लिए नए होते हैं। आपके शहर की सभ्यता और बिग बाजार या मॉल से अनजान किसी गांव से ताल्लुक रखने वाले यह लोग बसों और ट्रेनों में बाल्टी टोकरी या अन्य किसी गठरी के साथ चढ़ जाते हैं और उस समय ऐसे लोगों के लिए बस में बैठे अन्य लोग एक विचित्र तरह का व्यवहार करते हैं तिरछी निगाहों से इन गांव वालों को देखने वाले बस यात्री उनका स्वागत नहीं करते हैं।

लेकिन कई बार हम यह बात भूल जाते हैं कि कभी हम भी किसी अनजान शहर के बस या ट्रेन के यात्री बने होंगे । कभी हमने भी ऐसे ही किसी अनजान बस में सफर किया होगा जहां के लोग हमारी सभ्यता से बिल्कुल अलग रहे होंगे । कई बार ऐसा होता है कि हम शहर के लोग किसी छोटे गांव से आने वाले लोगों से जल्दी ही परेशान हो जाते हैं क्योंकि हमें उनके रहने रहने का तरीका पसंद नहीं आता है।

आज हम बात करने जा रहे हैं न्यूजीलैंड की एक ऐसी ही घटना के बारे में. मामला दरअसल यह है कि न्यूजीलैंड की एक ट्रेन में एक हिंदुस्तानी व्यक्ति अपनी बीवी से बात कर रहा था उन पति पत्नी के बगल में ही न्यूजीलैंड की रहने वाली एक लड़की बैठी हुई थी । पति पत्नी आपस में बात ही कर रहे थे कि अचानक से वह लड़की उस हिंदुस्तानी आदमी पर चीखने चिल्लाने लगी। उस लड़की ने तेज आवाज में कहा कि हिंदी में बात करना बंद करो और अपने देश वापस जाओ और अगर तुम यहां रहना चाहते हो तो तुम्हें अंग्रेजी में बात करनी होगी ।

लेकिन इसके आगे जो हुआ उसे जानकर आप सभी हैरान हो जाएंगे जिस समय वह लड़की हिंदुस्तानी आदमी पर तेजी से चिल्ला रही थी और उसे वहां से जाने के लिए कह रहे थे उस समय सभी पैसेंजर उस हिंदुस्तानी व्यक्ति के साथ खडे हो गये। यहां तक की ट्रेन के कोच जेजे फिलिप को भी यह बात बिल्कुल भी पसंद नहीं आई।

उस कंडक्टर ने लड़की की इस प्रकार की हरकत पर ट्रेन को रुकवा दिया और उस लड़की से तुरंत ट्रेन से उतर जाने के लिए कह दिया और आपको बता दें कि कंडक्टर के इस फैसले से ट्रेन में बैठा हर पैसेंजर सहमत था । ट्रेन में बैठे सभी पैसेंजर्स का यही मानना था कि न्यूजीलैंड एक ऐसा मुल्क नहीं है जो किसी और देश के नागरिक के साथ ऐसा व्यवहार करने की इजाजत दें।

जिस समय लड़की से ट्रेन से उतर जाने के लिए कहा गया उस समय लड़की ट्रेन से उतरने को तैयार नहीं थी वह बार-बार यही कह रही थी कि मै ट्रेन से नहीं निकलूंगी लेकिन कंडक्टर ने उसके व्यवहार पर सख्ती दिखाते हुए पुलिस को बुलाया और उसे ट्रेन से उतार दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here