अब इस दिग्गज ने बदला पाला, इस बड़ी पार्टी का थामा दामन….

0

लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं का इधर उधर डोलना शुरू हो गया है। अब भाजपा में किनारे लगे दिए गए नेता और दरभंगा सांसद कीर्ति झा आजाद ने पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया है। बड़ी बात यह है कि कीर्ति झा आजाद ने कांग्रेस में शामिल होने का फैसला किया है और कहा जा रहा है कि अगला लोकसभा चुनाव वह कांग्रेस के टिकट पर लड़ सकते हैं। कीर्ति झा आजाद ने जो घोषणा की है उसके मुताबिक़ वह आने वाले 15 फरवरी को कांग्रेस का हाथ थाम लेंगे और फिर लोकसभा चुनाव के लिए तैयारी शुरू कर देंगे।

आपको बता दें कि जिस तरह से उन्हें पार्टी ने किनारे लगाया है उससे यह बात साफ़ हो गई थी कि भले ही वह मौजूदा सांसद हैं लेकिन इस बार पार्टी उन्हें टिकट नहीं देगी।
ऐसे में उनका पार्टी में रहने से कोई फायदा नहीं होने वाला है। इसलिए सही मौका देखकर उन्होंने कांग्रेस में जाने का फैसला कर लिया है। आपको बता दें कि कीर्ति झा आजाद का परिवार कांग्रेसी रहा है। उनके पिता भागवत झा आजाद का नाम कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में शामिल किया जाता था। इसके अलावा उनके पिता भागवत झा आजाद इंदिरा गांधी के बेहद करीबिओं में गिने जाते थे। लेकिन कीर्ति झा आजाद ने भाजपा का दामन थाम लिया था। लेकिन अब जब उन्हें किनारे लगा दिया गया तो उन्होंने एक बार फिर घर वापसी करने का ऐलान कर दिया है।

आपको बता दें कि कीर्ति झा आजाद के पिता राजीव गांधी के भी करीबी माने जाते थे और राजीव ने उन पर भरोसा जताते हुए उन्हें बिहार का सीएम तक बना दिया था। उनके पिता 1988 से लेकर 1989 तक बिहार के मुख्यमंत्री रहे। लेकिन इसके बाद भागलपुर दंगा हो गया और उन्हें अपनी कुर्सी छोडनी पड़ी। आपको बता दें कि कीर्ति झा आजाद के पिता भागवत झा भागलपुर से सांसद भी थे। कहा जा रहा है कि आज़ाद के पार्टी में शामिल होने से कांग्रेस कुछ कुछ सीटों का फायदा हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here