हमारे नबी के 1400 वर्ष पुराने असली नालैन (जूते) आज भी मौजूद हैं… देखिये विडियो.

0

दोस्तों अस्सलाम वालेकुम रहमतुल्लाहि व बरकत दोस्तों आज हम उस इंसान की बात करने जा रहे हैं जो सारी इंसानियत में सबसे बेहतर और सबसे अच्छा इंसान है जी हां दोस्तों रसूल ए अहमद पैग़ंबर ए इंसानियत शान ए क़ायनात रासुल्लूलाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की जो कि सारे कायनात में सबसे अच्छे और सबसे अच्छा अखलाक उन्हीं का था दोस्तों पानी पीने के तरीके से लेकर जूते पहनने के तरीके तक हजरत मोहम्मद मुस्तफा सल्लल्लाहो वाले वसल्लम ने हमें सिखाया है हजरत अबू हुरैरा रजि अल्लाह ताला अन्हा से रिवायत है कि रसूल अल्लाह सल्लल्लाहो वाले वसल्लम ने इरशाद फरमाया कि.

जब तुम में से कोई जूते पहने तो दाएं पैर से शुरू करें.और जब जूता उतारे तो बायाँ पैर का पहले उतारे यानी की दायाँ पैर जूता पहनने में पहला और उतारने में आखरी हो दोस्तों रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने जो नालैन इस्तेमाल फरमाए थे वह नालैन भी बेहद मुबारक हो गए और साहब इकराम नालैन को हिफाजत से रखा और उसकी बरकत से फ़ैज़ हासिल की दोस्तों 14 सौ साल से भी ज्यादा वक्त गुजर चुका है.

लेकिन आज भी नालैन ए मुबारक है और लोग इससे फ़ैज़ ए आब होते हैं इसलिए दोस्तों हर गुलाम-ए-रसूल की ख्वाहिश होती है कि इस नालैन को अपने सर पर रखे हजरत कतादा रजि अल्लाह ताला अन्हो फरमाते है कि मैंने हजरत अनस बिन मालिक रजि अल्लाह ताला अनहो से पूछा कि रसूलुल्लाह सल्लल्लाहो वाले वसल्लम के नालैन कैसे थे हजरत अनस रजि अल्लाह ताला अन्हा ने फरमाया कि उसमें 2 तस्मे लगे हुए थे.

इमाम कुस्तुलानी कहते हैं कि नलिन पाक के म्ताल्लिक अबू बकर बिन इमाम अबू मुहम्मद कहते हैं कि इनकी बाला अजमत को हम तस्लीम करते हैं दोस्तों मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का बाल भी इस दुनिया में है जिससे लोग उसकी जियारत करते हैं और उसकी बरकत से फायदा उठाते हैं।। आगे देखें वीडियो में।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here