मुफ़्ती तारिक मसूद साहब ने बताया इस्लाम में हमबिस्तरी कैसे करते हैं?

Uncategorized

दोस्तों अस्सलाम वालेकुम रहमतुल्लाह बरकातहू दोस्तों आज हम आपके लिए एक ऐसा मसला लेकर आए हैं जो कि यह हाय के खिलाफ है लेकिन दोस्तों आज की नौजवान नस्ल इसमें मुब्तिला हो गई है दोस्तों हया ईमान की एक अहम शाखा है अल्लाह के रसूल की हदीस है कि ईमान की एक अहम शाखा है दोस्तों अल्लाह पाक कुरान में फरमाते हैं कि हम हक बात को बयान करने में हया का मामला नहीं करते और न जाने कितनी हदीस रसूलल्लाह सल्लल्लाहो वाले वसल्लम ने हमें बताएं जो की हत्या के खिलाफ थी लेकिन अगर रसूलल्लाह सल्लल्लाहो वाले वसल्लम इन सब बातों को ना बताते हैं तो आज हम गुनाह में मुब्तिला रहते हैं.

दोस्तों मौलाना तारिक मसूद साहब कहते हैं कि यह चीज अंग्रेजी फिल्मों से और अंग्रेजी कल्चर से मीडिया के जरिए हमारे माहौल में आ रही हैं और लोग इसके बारे में उलमा से मसला भी पूछ रहे हैं और औरतें भी इसके बारे में पूछती हैं दोस्तों मौलाना तारिक मसूद साहब कहते हैं कि इस मसले को हमेशा याद रखें कि अल्लाह ताला ने औरतों से हालत ए हैजेड में हमबिस्तरी को हराम करार दिया है क्योंकि इसमें गंदगी है लेकिन दोस्तों अब आप देखें कि वह गंदगी इस दर्जे की नहीं है जितनी कि ओरल सेक्स में होती हैं.

तो दोस्तों आप सोचिए कि अगर कोई बंदा ओरल सेक्स कर रहा है और वह मुंह में डिस्चार्ज हो जाए तो सोचिए कितनी गंदगी है जब अल्लाह पाक शर्मगाह को हैज़ कि हालत में मना कर रहे हैं कि वह गंदी चीज है वह ना करो तो फिर मुंह में डिस्चार्ज करना कैसा होगा हालांकि इंसान खाना मुंह से खाता है और कलमा पढ़ता है फिर भी ओरल सेक्स कैसे जायज होगा दोस्तों इंसान के जिस्म में सबसे अशरफ सबसे आला जो आशा है उसमें गंदगी को डालना कैसे जायज हो सकता है.

मौलाना कहते हैं कि आज बॉस ऑल माइस को हलाल करार दे रहे हैं तो जी बिल्कुल गलत है यह चीज हलाल नहीं है ओरल सेक्स जिसमें इंसान डिस्चार्ज हो जाए बीवी के मुंह में तुझे बिल्कुल हराम है बिल्कुल गलत है और बिल्कुल नाजायज है क्योंकि मनी एक बिल्कुल नापाक और गलील चीज है बॉस हजरत यह कहते हैं कि मनी पाक है लेकिन याद रखिए मनी के पास होने की दलाल मजबूत नहीं है और नापाक होने की दलील मजबूत है सबसे पहली दलील यह है कि कुरान ए मजीद ने लपक फरमाता है कि हमने तुमको वरील और जलील पानी से नापाक पानी से पैदा किया तू इसमें भी इशारा है कि मनी नापाक चीज है.

एक हदीस है कि हजरत आयशा रजि अल्लाह ताला अनु रसूल अल्लाह सल्लल्लाहो वाले वसल्लम की कपड़े पर लगी मनी को कुरूच साफ करती हूं बाद हजरात कहते हैं कि खुरिछ के साफ करने से मालूम होता है कि मनी पाक है क्युकी अगर मनी नापाक होता तो हजरत आयशा रजि अल्लाह ताला अन्हा उसको धोती लेकिन दोस्तों ऐसा बिल्कुल नहीं है दोस्तों नीजासत अगर खुरूच कर हटा दी जाए तो इंसान का जिस्म और कपड़ा पाक हो जाता है और रसुल्लह का कपड़ा नापाक था तभी तो आयशा रजि अल्लाह ताला अनु उसको खुरुच रही थी।। आगे देखें वीडियो में।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *