हज़रत बीबी फातिमा रज़ि० की ज़िन्दगी का वाक़िया…

0

दोस्तों आप को आज बीबी फातिमा रज़ि० का एक ऐसा वाक़्या बताने जा रहे है जो एक नसीयत भरा है, आप जानते है बीबी फातिमा रज़ि० हज़रत मोहम्मद मुस्तफा सल्ला० और खदीजा रज़ि० की बेटी थी, और अली रज़ि० की पत्नी थी और हुसैन रज़ी० और हसन रज़ि० की माँ थी . बीबी फातिमा रज़ि० को हज़रत फ़ातिमा ज़हरा सलामुल्लाह अलैह कहा जाता है, अहले बैत हैं. फातिमा की शादी हज़रत अली से हुई थी.

तो आए बात करते है बीबी फातिमा रज़ी० के उस वाक़िए की गरीबी है कपडे पर पेवंद लगे है और शादी हो रही है मदीने में यहूदि लड़की की शादी और बड़े धूम धाम से शादी हो रही है सारे यहूदी औरतो को बुलाया गया खाने पीने का इंतज़ाम भी किया गया अचानक उन औरतो ने एक मश्वरा किया और जिस यहूदि लड़की की शादी हो रही थी उससे कहा की तू भी उठ और हम लोग भी चलते है हम फातिमा के घर पर जाते है .

और फातिमा को दावत देते है की तुम भी शादी में आउ और जब फातिमा शादी में आएगी तो हमरे कपडे तो चम्क्ते दमकते रहेंगे और जब फातिमा आएगी तो उसके पुराने फटे चिप्पी पेवन लगे हुए कपडे होंगे तो फिर हम छेड़ेंगे और फातिमा को कहेंगे जब तू गरीब है तो तेरा बाप भी गरीब है तेरा खानदान भी गरीब है तो ऐसे गरीब खानदान में आने की क्या ज़रुरत है इस तरह से फातिमा रज़ि० को सताने की खतरनाक प्लानिंग की गई .

उसके बाद यह यहूदि लड़की उठी और उसके साथ दूसरी औरते भी चली हज़रत फातिमा रज़ि० के घर पर पहुंचे फातिमा रज़ि० अपने घर में आटे का काम कर रही थी चक्की पीसने का काम कर रही . इतने में आकर फातिमा र.अ. का छोटा सा झोपड़ा पूरा घेर लिया ,और बहुत तारीफ की कहा तू तो मोहम्मद की बेटी है तू तो नबी की बेटी है तू तो इतने बड़े शख्स की बेटी है और शख्स बड़ा होगा तो बेटी भी बड़ी होगी तुझे तो शादी में आना ही पड़ेगा और हज़रत फातिमा रज़ि० बार बार कहती रही की नहीं मुझे मत कहो मै नहीं आउंगी मै दुआ देती हु अल्लाह मिया बीवी में खूब बरकत देवे अल्लाह तुम्हारे जोड़े को सलामत रक्खे लेकिन मुझे मतब बुलाऊ , औरतो ने बहुत ज़बरदस्ती की क्यों की इनको तो मजाक उड़ानी थी इसलिए बहुत ज़बरदस्ती की अब बेचारी फातिमा करती तो क्या करती तो कहा तुम जाऊ मै तुम्हारे पीछे आ रही हु …. पुरे वाक़िए के लिए आगे देखिये वीडियो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here