इस छोटी सी दुआ से हो जायेंगे आपके गुनाह माफ़, फ़रिश्ते भी पढ़ते हैं ये दुआ…

0

अल्लाह के नबी सल्लाo का मकाम सभी नबियों में सबसे अफज़ल है अल्लाह पाक ने हुजुर सल्लाo की तारीफ करते हुए कुरान और हदीस में कई बाते बताई हैं अल्लाह पाक ने कुरान मजीद में फरमाया है कि अल्लाह पाक नबी पर रहमत नाजिल फरमाता है और फरिश्ते भी नबी के लिए दुआ करते हैं तो अल्लाह पाक ने इंसानों को भी हुक्म दिया कि तुम भी नबी पर दुरूद भेजा करो अल्लाह पाक ने कुरान की आयत में मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का मकाम बताया जो कि आसमान से उनको मिला है और इसमें अल्लाह ताला ने बताया है कि वह हजरत मोहम्मद मुस्तफा सल्लल्लाहो वाले वसल्लम पर मत हासिल करते हैं.

और सलामती भेजते हैं फरिश्ते भी मोहम्मद सल्लल्लाहो वाले वसल्लम के लिए दुआ करते हैं और उनके दरजात के बुलंदी के लिए दुआ करते हैं जिसके बाद अल्लाह पाक ने जमीन वालों को भी हुकुम दिया कि वह आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम पर दुरुद भेजा करें जब ये आयात उतरी तो उन्होंने अर्ज किया या रसूलल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम हम किस तरह से आप पर दुरूद किस तरह भेजा करें तो.

आप सल्लल्लाहो वाले वसल्लम ने इरशाद फरमाया दुरूद ए इब्राहिम पढ़ा करो यानी की जो तरुण नमाज में पढ़ी जाती है यह देश सही बुखारी की है दोस्तों आपको बता दें कि अल्लाह पाक का नबी पर दुरूर भेजना यह मतलब है कि अल्लाह पाक उन पर रहमत नाजिल फरमाता है और फरिश्तों की महफिल में उनकी जिक्र करता है दोस्तों अल्लाह के नबी की एक हदीस है.

कि जो शख्स मुझ पर जितनी दुरूद भेजेगा वो क़यामत के दिन मुझसे उतना ही करीब रहेगा यह हदीस तिर्मीजी शरीफ की है अल्लाह के नबी के एक और हदीस है कि रुसवा हो जाए वह शख्स जिसने मेरा नाम आने पर मुझ पर दुरूद ना भेजे हो दोस्तों आपको बता दें कि दुरूद शरीफ कई तरीके की होती है लेकिन सल्लल्लाहो वाले वसल्लम भी कहना दुरूद शरीफ है।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here