काला जादू की निशानिया और अलामत, हज़रत अली रज़ि० का वाकिया…

0

आज हम आपको बतायगे काला जादू कर बारे में काला जादू क्या है इसकी निशानियां और इससे कैसे छुटकारा मिले?तो आइए जानते है काला जादू क्या है? जादू में शैतान और इब्लीस से मदद मांगी जाती है जो मंत्र पढ़े जाते हैं उसमें अल्लाह और उसके रसूल का इंकार और उन की शान में गुस्ताखी की जाती है। इब्लीस या उसकी औलाद को माबूद मानकर उस से मदद मांगी जाती है कठिन जादू में कुरान को उल्टा करके पढ़ा और लिखा जाता है या हराम और गंदी स्याही से लिखा जाता है और इन्हीं वजह से हजरत अली रज़ी अल्लाह ने जो ऐसा जादू करते थे.

उन्हें चुन चुन कर मारा है और मारने का हुक्म दिया है और उनकी गर्दन उड़ाने का हुक्म दिया था और उस ज़माने में बहुत सारे जादूगरों की गर्दन उड़ाई गई थी। इससे आप जान सकते हैं कि यह अमल कितना बुरा अमल हो सकता है। आजकल तो हर तकलीफ और परेशानी की वजह जादू को दे दी जाती है कि फलाने जादू करवा दिया तो कारोबार नहीं चल रहा फलाने जादू करवा दिया तो यह बीमारी हो गई है तो किसी को बच्चे नहीं हो रहा है तो जादू करवा दिया किसी के रिश्ते नहीं आते तो वह समझते हैं कि किसी की सुस्ती और काहिली की वजह से दुकान नहीं चलती तो कहते हैं कि जादू करवा हर परेशानी का जिम्मेदार जादू को बताया जाता है .

ऐसा लगता है कि अल्लाह ताला ने दुनिया बना करके के जादूगरों करम पर छोड़ दिया। यह जानने के लिए कि जादू हुआ है कि नहीं इसकी कुछ निशानियां इन की निशानियां को देखना होगा तो आइए जानते हैं जिन पर जादू होता है की क्या निशानी है। किसी आदमी में 70 परसेंट अगर यह निशानियां दिख रही है तो समझ लें कि जादू किया गया है ख्वाब में जानवर हाथी ,शेर, भालू,कुर्बानी के जानवर सांप ,खिनज़ीर,बन्दर छिपकली जो भी खतरनाक जानवर है देखना। नींद में रोना,चिल्लाना, हंसना या आवाज़े देना ,झटके लगाना जैसे किसी ने पकड़ कर हिलाया हो, किसी को अपना पीछा करते देखना, और खौफ पैदा हो कर भागना ,डरावनी शक्ल देखना, खुद को ऊंची जगह से गिरते देखना नींद का कच्चा होना, रात को नींद ना आना, नींद में सख्ती से होंठ को चबाना , खंडहरों में खुद को देखना, वीरान जगह पर खुद को देखना मुर्दों को देखना, सोते में कोई चीज खाते हुए देखना जैसे कोई चीज खिलाई जा रही हो और सुबह उठकर उसे खाया हो ऐसा महसूस करना यह सारी चीजें जादू की निशानियां हैं ।

जब यह पता चले तो आप समझ जाए कि आपके ऊपर किसी ने जादू कर आया है अभी जो निशानियां मैं आपको बताने जा रहा हूं इस से आदमी की मौत भी हो सकती है जागने के बाद बहुत थकावट महसूस करना शरीर दर्द होना छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आना गलती अपनी हो तभी गलती को ना मानना रिश्तेदारों दोस्तों और परिवार में बिला वजह बड़े बड़े झगड़े पैदा हो जाना घरवालों बीवी बच्चों और वालदेन से नफरत महसूस हो, सर, कमर के निचले हिस्से और कंधों पर दबाव महसूस हो ,ऐसा महसूस करना कि सर और कमर में सुइयाँ चुभ रही हो,

नमाज कुरान तिलावत से दूर भागना। हां दिन के बारे में बुरे भले ख्यालात आना, मस्जिद जाने से दिल घबराना जिस्म पर कट लगना खून गिरना बाल नजर बहुत से दफा जादू की वजह से मियां बीवी के रिश्ते का खराब होना रिश्ते में नफरत आना हर रिश्ते का टूट जाना मियां बीवी बाद में बात पर लड़ते हैं और ऐसे करते-करते बात तलाक तक पहुंच जाती।

अब हम आपको बताएंगे यादों को खत्म करने के उपाय। इसके असर को खत्म करने के लिए सूरः बकरा कुरआन की सूरः को 10 बार पानी पर दम करके सभी घरवाले सुबह नेहार मूंह पिले।जिस्म में मौजूद जादू पिशाब के आते ही खत्म होजायेगा।जादू के असर जो घर मे मौजूद है उनको खत्म करने के लिए हर कोने में उसी पानी से चिरकाओ करदे यानी पानी डाल दें और हर कोने में 1 बार आज़ान देदे।इन्शा अल्लाह इस अमल से जादू का खात्मा 1 दिन में हो जायेगा।

याद रहे 1 ही दिन में 10 बार सूरः बकरा पढ़नी है आप खुद पढ़े या घर के सभी लोग मिलकर पढ़े।दोसर अमल रात सोने से पहले अव्वल आखिर 5 बार दरूदशरीफ पढ़कर 300 बार अलजब्बार और अलकहार पढ़े।जिसने भी ये जादू किया होगा उसका चेहरा सोने में दिखजयगा या ताबीज़ कहा है पता चलजयगा।किसी से बात किये बिना पढ़कर सोजाना है।ये अमल 4 दिन लगातार करना है।इससे आपका काला जादू खत्म होजायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here