मौलाना तारिक जमील साहब ने तबलीगी जमात के अमीर मौलाना साद साहब के बारे में ये क्या कह दिया?

Uncategorized

दोस्तों को अस्सलाम वालेकुम रहमतुल्लाह व बरकातहू दोस्तों हजरत मौलाना तारिक जमील साहब अपने एक बयान में कहते हैं कि अल्लाह पाक का बहुत बड़ा एहसान और करम है कि अल्लाह पाक ने हमें तो तबलीग के काम से जोड़ रखा है और पूरी दुनिया में यह काम हो रहा है और निजामुद्दीन की बरकत से अल्लाह पाक इस पूरी दुनिया को इस काम के जरिए फैजेआब कर रहा है दोस्तों मोलना तारीक जमील साहब कहते हैं कि निजामुद्दीन दिल्ली की एक बस्ती है जहां हजरत निजामुद्दीन औलिया रहमतुल्ला अलेह की दरगाह है और मौलाना फरमाते हैं.

कि मैं वहां दो बार गया हूं तू उसी की निस्बत और उसी वजह से उस बस्ती को निजामुद्दीन कहा जाता है वहां से मौलाना इलियास साहब रहमतुल्लाह अलेह ने 1926 में यह काम शुरू किया और 1946 में उनका इंतकाल हुआ तो उनके बेटे हजरत मौलाना युसूफ साहब रहमतुल्ला अलेह ने इस काम को संभाला और पूरी दुनिया में फैलाने का जरिया बने फिर उनका इंतकाल सन 1965 में हुआ.

फिर उसके बाद मौलाना इनामुल हसन साहब रहमतुल्ला अलेह उनकी जगह अमीर बने फिर पूरी दुनिया में और दुनिया की आखिरी किनारे तक यह काम पहुंचा मौलाना फरमाते हैं कि अल्लाह ने मुझे दुनिया की आखिरी तक पहुंचाया हुआ है फिर उनका इंतकाल सन 1995 में हुआ तो फिर एक सुरह बनी जिसमें मौलाना युसूफ साहब रहमतुल्ला अलेह के पोती हजरत मौलाना साद साहब दमत बरकातहू अल्लाह उनकी उम्र में सेहत में और इल्म में बरकत दे.

उनके जरिए उनके जरिए से बहुत फ़ैज़ फैल रहा है और मौलाना इलियास साहब रहमतुल्लाह आले की बेटी मौलाना यूसुफ हसन साहब रहमतुल्ला अलेह जिनका इंतकाल हो गया तो इन हजरत की मशवरे से मेहनत से अल्लाह ने तबलीग को पूरे दुनिया में फैलाया बहुत ही खूबसूरत अंदाज में इन लोगों ने पूरी दुनिया को दिन पर लाने का काम बनाया है अल्लाह इनको सेहत अता फरमाए।।आगे देखें वीडियो में।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *