ओमप्रकाश राजभर का NDA से अलग होने का एलान,कहा- अबकी बार भाजपा गईल !

0

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्‍याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने एनडीए से अलग होने का एलान कर दिया है. साथ ही उन्होंने प्रदेश की सभी 80 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ने का एलान भी किया है. राजभर ने आज एक कार्यक्रम में बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है.

रसोइयां महासंघ के सम्‍मेलन में भाग लेने आए ओम प्रकाश राजभर ने कहा, ”हम अपने दम पर एनडीए से अलग होंगे. ‘उनकर मानदेय 33 से बढ़ाकर 175 रुपया ना भईल, त भाजपा गईल.’ हम लोग अपने अधिकार के लिए पागल हो जाएं, तो नेता लोग पागल होकर पैसा दे देंगे.” उन्होंने कहा, ”वे लोग खाली गुमराह कर रहे हैं. वे कुछ करेंगे नहीं. वे (बीजेपी) घबराएं नहीं, हम आज भीख मांग रहे हैं. लेकिन, अभी एक महीने का समय है. हमारी बात नहीं मानें तो अभी 14 साल के बाद नंबर आया है. अब 24 साल के बाद नंबर आएगा.”

 

राजभनर ने आगे कहा, ”गरीब गुस्‍से में आ गया तो उलाट देगा. लोग सोचते होंगे कि ये मंत्री होकर सरकार के खिलाफ बोलता है. सपा-बसपा और कांग्रेस के पास भी हिम्‍मत नहीं है.” उन्‍होंने राम तेरी गंगा मैली फिल्‍म का उदाहरण देते हुए कहा, ”हीरो उसमें गाना गाता है कि सबका पाप धोते-धोते खुद ही गंगा मैली हो गई. पूरे देश का दरिद्र प्रयागराज में धो रहे हैं, तो कैसे गंगा स्‍वच्‍छ होगी.”

 

राजभर ने कहा, ”हम बनारस जा रहे हैं. वहां भी वे आग सुलगाएंगे. वहां से प्रधानमंत्री जी ने बहुत चुनाव जीता है. वे गरीबों के हीरो बनते हैं. लेकिन  ये तो टाटा-बिरला हैं. गरीबों की शिक्षा, रोजगार, आवास की ओर उनका ध्‍यान नहीं है. जो पात्र नहीं है उसे आवास मिल रहा है. जो पात्र हैं उन्‍हें आवास नहीं मिल रहा है.” उन्‍होंने कहा’, ”आज जब चुनाव करीब आ रहा है तो भगवान और उन्‍हें राम मंदिर और अयोध्‍या याद आ रहा है. चुनाव के पहले मंदिर की किसी की औकात नहीं कि बनाने का काम शुरू कर दे. मामला कोर्ट में है और लोगों की भावनाओं को भड़काकर उनका वोट लेने का इरादा है.”

 

उन्‍होंने कहा कि 15 माह पहले ही उन्‍होंने यूपी में शराब बंद करने के लिए कहा था. लेकिन, उनकी बात नहीं सुनी गई. उन्‍होंने कहा कि जब बिहार और गुजरात में शराब बंद हो सकती है, तो यहां पर क्‍यों नहीं. जहरीली शराब पीने से रोज मौत हो रही है. आज भी मौतें हुई हैं. लेकिन, उनकी नहीं सुनी गई. राजभर ने कहा कि वे 24 को बनारस में जनसभा करेंगे. एक लाख लोगों की भीड़ जुटाएंगे और तसला बजाकर ये ऐलान करेंगे कि उनकी जाति के लोगों को आरक्षण नहीं मिला, तो भाजपा गई. उन्‍होंने कहा कि वे मंत्री होकर भाजपा की सरकार में परेशान हैं. मेरी खुद कोई नहीं सुन रहा है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here