Connect with us

बलिया स्पेशल

बलिया को क्यों याद आते हैं एसपी प्रभाकर चौधरी

Published

on

राहुल राज को बलिया का एसपी बनाया गया था। बलिया ही उनका गृह जनपद था। इस लिए आईपीएस राहुल राज का तबादला निरस्त कर अब बलिया की नई एसपी श्रीपर्णा गांगुली को जिले का कप्तान बनाया गया है ।

यूँ तो आईपीएस अधिकारीयों के तब्दाले के बाद हलचल होना लाजमी है। नया कप्तान नियुक्त होते ही नए कप्तान को लेकर हर जगह चर्चा का दौर शुरू हो जाता  है। अधिकारी आते हैं और कुछ दिनों, कुछ सालों में वो दुसरे जिले को चले जाते हैं लेकिन कुछ ही अधिकारी बलिया को मिले जिनके काम आज भी बलिया के लोगों को याद  है।

चर्चित  नरही कांड के जिले में  तैनात एसपी मनोज कुमार झा को शासन द्वारा सस्पेंड कर दिया गया था, उसके बाद ही जनपद में नए पुलिस अधीक्षक के रूप में प्रभाकर चौधरी ने कमान संभाला था।

प्रभाकर चौधरी जब बलिया में एसपी रहे थे लेकिन इतने चर्चित की आज भी लोग  इन्हें दिल से याद करते हैं । इस जिले में प्रभाकर चौधरी ने काफी काम किया था बलिया सहित कई जिले में एसएसपी के पद पर अपनी सेवा दे चुके है 

जिस किसी भी जिले में इन्होंने SP पद पर अपना कार्यभार संभाला वहां की जनता उनके काम करने के अंदाज को देख उनकी दीवानी हो गई। प्रभाकर चौधरी वर्ष 2010 बैच के आईपीएस है।

जब वह एसपी बलिया के पद पर तैनात थे, तब उनका तबादला कानपुर देहात जिले के एसपी पद पर कर दिया गया था। जिसके बाद नये  जिले का चार्ज लेने लखनऊ से रोडवेज की सरकारी बस से पहुंचे। इस बारे में चौधरी ने कहा था कि इसमें कौन से नयी बात है जब मैं सरकारी डयूटी पर नही होता हूं तो मैं सरकारी बस से ही यात्रा करता हूं लेकिन जब क्षेत्र में दौरा करने जाता हूं तो मैं सरकारी वाहन का प्रयोग करता हूं, आखिर क्यों मैं अपनी पर्सनल यात्रा के लिये सरकारी वाहन का इस्तेमाल करूं।

सादगी पसंद और मृदुभाषी चौधरी व्यवहार में जहां बहुत ही कोमल है वहीं अपराधियों और बदमाशों के खिलाफ बहुत ही सख्त।

प्रभाकर चौधरी युवा होने के चलते पुलिस महकमे में नए प्रयोग भी करने के लिए जाने जाते हैं। 2010 बैच के आईपीएस देवरिया में बतौर एसपी पोस्टिंग के दौरान उन्होंने जोड़-जुगाड़ की जगह योग्य थानेदारों की तैनाती का सिस्टम तैयार किया।

इसके लिए दारोगाओं की परीक्षा ली जाती थी। मेरिट के आधार पर थाने बंटते थे। किसी नेता विधायक या मंत्री की कोई सिफारिश नहीं चलती थी, जिससे थानों से जनता को काफी हद तक न्याय मिलने लगा था।  इस वक्त प्रभाकर चौधरी एसएसपी मथुरा  मे तैनात हैं ।

वही सोशल मीडिया पर भी लोग जब भी जिले का नया कप्तान बदला जाता है लोग प्रभाकर चौधरी को याद करने से नहीं चुकते। राकेश पाण्डेय नाम के फसबुक यूजर ने लिखा है ”  कुछ साल पहले यहाँ प्रभाकर चौधरी यहाँ आये थे जिले का बहुत तेज़ी से किया लेकिन कुछ नेताओं को बलिया का बदलाव पसंद नहीं आया जिससे उनका ट्रान्सफर करा दिया गया ।

 

 

featured

बलिया में सुंदरता अभियान- जब सड़क पर उतर डीएम ने पेंटिंग कर की शुरुआत

Published

on

बलिया डेस्क  : गणतंत्र दिवस के अवसर पर सभी चौराहों को भी सुंदर बनाने की पहल जिला प्रशासन ने की है। इसके लिए पहले तो हर चौराहों, खासकर जहां महापुरुषों की मूर्ति लगी है, उनकी अच्छे से साफ-सफाई कराई गई। उसके बाद अब रंगोली के जरिए चौराहों की सुंदरता को और बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है।

जिलाधिकारी एसपी शाही ने रविवार को टीडी कालेज चौराहे पर रंगोली बनाकर इसकी शुरूआत की। उनके साथ-साथ नगरपालिका चेयरमैन अजय कुमार और यातायात निरीक्षक सुरेश चंद्र द्विवेदी ने भी कलर पेंटिंग कर इस अभियान का हिस्सा बने। कला शिक्षक इफ्तेखार खां की देखरेख में राजकीय इंटर कॉलेज के छात्रों द्वारा यह रंगोली बनाई जा रही है।

शुभारंभ के बाद जिलाधिकारी ने नया चौक चौराहा, ओकडेनगंज, रेलवे स्टेशन होकर कुंवर सिंह चौराहे पर गए और देखा। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सभी छात्रों का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि चौराहे पर साफ-सफाई रख कर हम महापुरुषों का सम्मान कायम रख सकते हैं। जिला प्रशासन के संबंधित अधिकारी और नगरपालिका की जिम्मेदारी है कि इन चौराहों पर सफाई बनी रहे। एक बार फिर दोहराया कि कोई पोस्टर बैनर चिपकाए तो सख्ती से कार्रवाई हो।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया में Missing Cat के पोस्टर वायरल, खोजने वाले को मिलेगा इनाम !

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया में लापता बिल्ली के पोस्टर सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वायरल हो रहे हैं। सुनकर आपको थोड़ा अजीब जरूर लग सकता है, पर है सोलह आने सच। पोस्टर में एक सफेद रंग की एक खूबसूरत सी बिल्ली बनी हुई है, जिसकी एक आंख भूरी और दूसरी ब्लू है।  कैट की तस्वीर के साथ उसकी पहचान भी बताई गई है।

साथ ही दो मोबाइल नंबर (9415658949, 8840096304) शेयर किया गया है, जिस पर सूचना मिलने पर जानकारी देने का अनुरोध किया गया है। साथ ही लोगों से अपील की गई है कि इस पोस्टर को सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफॉर्म्स पर शेयर करें, ताकि जल्द से जल्द उसे खोजा जा सके।

बिल्ली जिसके लापता होने के पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल है , वही जब हमने पोस्टर पर दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर इस बारे में जानने की कोशिश की तो पालतू बिल्ली की मालिक कुंवर मनोज कुमार सिंह ने बताया की जो पोस्टर वायरल हो रहे हैं वो हमने ही सोशल मीडिया पर शेयर किया है वह 3 दिन से तीखमपुर शारदा हॉस्पिटल के पास से गायब है।

तमाम कोशिशों के बाद भी नहीं मिलने पर हमने बिल्ली का पोस्टर सोशल मीडिया पर जारी किया था। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि अगर आप को इस बिल्ली को बलिया में कहीं पाते हैं तो इस नंबर पर संपर्क करें। पहुचाने वाले को उचित इनाम भी दिया जाएगा।

Continue Reading

बैरिया

बलिया: सड़क हादसे में किशोर की गई जान, विरोध में लोगों ने किया चक्का जाम, मौक़े पर पहुँचे सांसद

Published

on

बैरिया डेस्क : यातायात नियमों का अनुपालन न होने तथा रफ्तार की मार से  बलिया में सड़क हादसे रुकने का नाम ही नहीं ले रही है। प्रशासन की ओर से जागरुकता अभियान चलाने के बाद भी हादसे थमने का नाम ही नहीं ले रहा। रविवार को भी  हादसा किशोर के साथ पेश आया जहाँ उसकी जान चली गई ।

बताया जाता है कि खेत मे सिचांई कर रहे पिता को खाना पहुचां कर घर लौट रहे किशोर को सोनबरसा गांव के समीप एनएच 31 पर पिकअप ने रौंदा डाला। जिसके बाद घटना स्थल पर ही किशोर की हुई मौत चालक पिकअप लेकर फरार हो गया। विरोध में ग्रामीणों ने एनएच 31 घण्टो जाम कर दिया।

जानकारी के मुताबिक सुनील माली 15 वर्ष पुत्र भूलन माली निवासी सोनबरसा रविवार को दिन में लगभग 11 बजे खेत मे काम कर रहे पिता को खाना पहुचां कर घर वापस लौट रहा था। कि सोनबरसा गांव के सामने एनएच 31 पर बिहार से तेज रफ्तार आ रही पिकअप ने सुनील को रौंद दिया,जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गयी।

ग्रामीण जब तक मौके पर जुटते पिकअप चालक पिकअप लेकर मौके से फरार हो गया।विरोध में शव को सड़क पर रखकर ग्रामीणों ने एनएच 31 को जाम कर दिया,जिससे वाहनों की लम्बी कतार एनएच पर लग गयी,और जाम की स्थिति पैदा हो गयी। मौके पर पहुचे एसएचओ संजय त्रिपाठी ने जाम कर रहे ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया किन्तु ग्रामीण पुलिस को देखते ही उग्र हो गए और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारे लगाने लगे।

घटना स्थल पर पहुचे सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त ने ग्रामीणों से बातचीत के बाद मौके से ही डीएम,एसडीएम व सीओ से बात की और तत्काल मौके पर पहुचंकर जाम समाप्त कराने और मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता दिलवाने को कहा। जिसके बाद सपा नेता मनोज सिंह अपने लाव लश्कर के साथ मौके पर पहुचकर सड़क दुर्घटना पर नाराजगी जताते हुए प्रशासन को जिम्मेवार ठहराया और तत्काल पीड़ित को आर्थिक सहायता देने की मांग की।

दुर्घटना के लगभग तीन घण्टे बाद क्षेत्राधिकारी आर के तिवारी के साथ मौके पर पहुचे उपजिलाधिकारी प्रशान्त कुमार नायक ने 10 दिनों के भीतर मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने व सोनबरसा मोड़ पर गति अवरोधक बनवाने का आश्वासन दिया। इसके बाद सड़क जाम समाप्त हो गया।

एसएचओ संजय त्रिपाठी ने बताया कि दुर्घटना करने वाली पिकअप को बरामद कर चालक प्रिंस मिश्र निवासी केवरा थाना बांसडीह कोतवाली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।पिता के तहरीर पर सम्बन्धितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

 

Continue Reading

TRENDING STORIES