Connect with us

खेल कूद

चैपल विवाद को लेकर सौरव गांगुली का अबतक का सबसे बड़ा खुलासा, पढ़कर हैरान रह जाएंगे आप

Published

on

ग्रेग चैपल को 2005 में भारतीय टीम का कोच बनाने को लेकर यहां तक कि उनके भाई इयान चैपल का रवैया भी सकारात्मक नहीं था और सुनील गावस्कर की भी सोच ऐसी ही थी लेकिन सौरव गांगुली ने कहा कि उन्होंने इन सभी चेतावनियों को नजरअंदाज करने का फैसला करके उनकी नियुक्ति को लेकर अपनी अंतररात्मा की आवाज पर विश्वास किया। चैपल की कोच पद पर नियुक्ति से पहले गांगुली ने उनकी मदद ली थी।

यहां तक वह 2003 के ऑस्ट्रेलिया दौर से पहले वहां के मैदानों की जानकारी लेने तथा खुद की और अपने साथियों की तैयारियों के सिलसिले में गोपनीय दौरे पर भी गए थे। उन्होंने चैपल से संपर्क किया क्योंकि उनका मानना था कि उनके मिशन में मदद करने के लिये सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति होंगे। गांगुली ने अपनी आत्मकथा ‘‘ए सेंचुरी इज नॉट इनफ’ में लिखा है- अपनी पिछली बैठकों में उन्होंने मुझे अपने क्रिकेटिया ज्ञान से काफी प्रभावित किया था।

गांगुली को तब पता नहीं था कि यह साथ उस दौर का सबसे विवादास्पद साथ बन जाएगा। ग्रेग की नियुक्ति के बारे में इस पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि 2004 में जब जान राइट की जगह पर नए कोच की नियुक्ति पर चर्चा हुई तो उनके दिमाग में सबसे पहला नाम चैपल का आया। उन्होंने लिखा- मुझे लगा कि ग्रेग चैपल हमें चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में नंबर एक तक ले जाने के लिए सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति होंगे। मैंने जगमोहन डालमिया को अपनी पसंद बता दी थी। गांगुली ने कहा- कुछ लोगों ने मुझे ऐसा कदम नहीं उठाने की सलाह दी थी।

सुनील गावस्कर भी उनमें से एक थे। उन्होंने कहा था सौरव इस बारे में फिर से सोचो। उसके (ग्रेग) साथ रहते हुए तुम्हें टीम के साथ दिक्कतें हो सकती हैं। उसका कोचिंग का पिछला रिकॉर्ड भी बहुत अच्छा नहीं रहा है। उन्होंने कहा कि डालमिया ने भी एक सुबह उन्हें फोन करके अनिवार्य चर्चा के लिए अपने आवास पर बुलाया था। गांगुली ने कहा- उन्होंने विश्वास के साथ यह बात साझा की कि यहां तक उनके (ग्रेग के) भाई इयान का भी मानना है कि ग्रेग भारत के लिए सही पसंद नहीं हो सकते हैं।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

खेल कूद

स्टेट चैम्पियनशिप में बलिया की सुरभि सिंह का कमाल, कुश्ती में जीता कांस्य पदक

Published

on

बलिया। राज्य कुश्ती चैम्पियनशिप में बलिया की सुरभि सिंह ने कांस्य पदक जीतकर जिले का नाम रोशन किया। सुरभि ने 68 किग्रा भार वर्ग में कांस्य पदक पर कब्जा जमाया है।उन्होंने मथुरा की पूजा को 6-3 से पराजित कर कांस्य पदक अपने नाम किया। बता दें उत्तर प्रदेश कुश्ती एसोसिएशन की ओर से गाजियाबाद में 28 से 30 जुलाई तक आयोजित कुश्ती प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें कांस्य पदक जीतकर सुरभी ने बलिया का मान बढ़ाया है।

विकास खंड सोहांव के कथरिया गांव की रहने वाली सुरभि ने 2017 में कुश्ती से अपने सफर की शुरुआत की थी। किसान कन्हैया सिंह और गृहणी नीलम की बेटी सुरभि ने कम समय में ही अपनी प्रतिभा की बदौलत कुश्ती में अपनी पहचान बनाई। अब तक 4 जूनियर नेशनल कुश्ती चैम्पियनशिप और खेलो इंडिया में प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर सुरभि जनपद को गौरवान्वित कर चुकी हैं। पहलवान विनेश फोगाट को अपना आदर्श मानने वाली सुरभि ओलम्पिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने का संकल्प लेकर कुश्ती के मैट पर प्रतिदिन कठिन अभ्यास करती हैं।

स्टेट चैंपियनशिप में पदक विजेता होने पर सुरभि को उप क्रीड़ाधिकारी अजय प्रताप साहू, मारूति नंदन राय, प्रभुनाथ यादव, धनंजय मौर्या आदि ने बधाई दी है। सुरभि बालिकाओं के लिए प्रेरणास्रोत है कुश्ती में जिले का नाम रोशन करने वाली सुरभि लड़कियों के लिये प्रेरणास्रोत है। गांव की पगडंडी से निकलकर यह मुकाम हासिल करने वाली सुरभि ने कड़ा संघर्ष किया है। वह पढ़ाई के साथ-साथ पहलवानी करती रही। इसमें उसकी मदद परिवार के साथ ही स्कूलों के शिक्षक भी करते रहे हैं।

Continue Reading

Uncategorized

बलिया- इन खेलों के खिलाडि़यों को मौका, इस दिन होगा ट्रायल

Published

on

बलिया। यह खबर खेल जगत से जुड़ी है। हास्टल में रहकर खेल की तैयारी करने का सपना संजोए खिलाड़ियों के लिए अच्छी खबर है। उन्हें एक बार फिर से हास्टल के लिए ट्रायल देने का मौका मिल रहा है। ट्रायल में सफल होने वाले खिलाड़ी विशेष प्रशिक्षकों द्वारा स्टेडियम में वर्ष भर प्रशिक्षित किए जाएंगे। उन्हें विश्वस्तरीय सुविधाएं देकर उनकी प्रतिभा को निखारा जाएगा। साथ ही उन्हें विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने का मौका भी मिलेगा।

उप क्रीड़ा अधिकारी अजय प्रताप साहू ने बताया है कि वर्ष 2022-23 में आवासीय क्रीड़ा छात्रावास में प्रवेश हेतु आयोजित किये गये केन्द्रिय प्रशिक्षण शिविरों के अंतिम चयन / ट्रायल्स उपरान्त प्राप्त मेरिट सूची के अनुसार खिलाड़ियों का प्रवेश हास्टल में किये जाने के बाद भी कुछ खेलों में रिक्त रह गये स्थानों के दृष्टिगत बालिका वर्ग में टेबल-टेनिस, बास्केटबाल एवं तीरंदाजी तथा बालक वर्ग में कबड्डी खेल के राज्य स्तरीय कम्बाइन्ड चयन / ट्रायल्स दिनांक 14 एवं 15 जुलाई, 2022 को के०डी०सिंह बाबू स्टेडियम, लखनऊ में प्रातः 07:00 बजे से किया जायेगा।

जिला स्तरीय बालिका वर्ग में टेबल-टेनिस, बास्केटबाल एवं तीरंदाजी तथा बालक वर्ग में कबड्डी खेल हेतु चयन/ट्रायल का आयोजन दिनांक 08 जुलाई, 2022 को वीर लोरिक स्पोर्ट्स स्टेडियम, बलिया में प्रातः10.00 बजे से किया जायेगा। दिनांक 01 अप्रैल, 2022 को 15 वर्ष से कम आयु के खिलाड़ी उपरोक्त चयन/ट्रायल में प्रतिभाग कर सकते हैं। जिला स्तर पर चयनित खिलाड़ी दिनांक 12 जुलाई, 2022 को सुखदेव पहलवान स्टेडियम, आजमगढ़ में आयोजित मण्डलीय चयन/ट्रायल्स में प्रतिभाग करेंगे।

चयन / ट्रायल्स में भाग लेने के इच्छुक बालक / बालिका निर्धारित तिथियों में चयन/ट्रायल्स प्रारम्भ होने से पूर्व अपना आवेदन पत्र उपरोक्त समस्त औपचारिकताएं पूर्ण कर जिला खेल कार्यालय, स्पोर्ट्स स्टेडियम बलिया में जमा करके चयन/ट्रायल्स में भाग ले सकते हैं। आवासीय क्रीड़ा छात्रावास खेल निदेशालय उ०प्र० द्वारा संचालित एक महत्वपूर्ण योजना है । इसके अन्तर्गत प्रदेश स्तर पर चयनित खिलाड़ियों को आवासीय क्रीड़ा छात्रावासों में प्रवेश देकर विभिन्न खेलो मे नियमित रूप से खेलों के विशेष प्रशिक्षण के साथ ही पढ़ाई, आवास, भोजन, चिकित्सा आदि की सुविधा भी उपलब्ध करायी जाती है।

जिसके परिणामस्वरूप प्रदेश के विभिन्न खेल छात्रावासों में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले उत्तर प्रदेश के खिलाड़ी राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओ में सराहनीय प्रदर्शन करते रहे हैं। आवासीय क्रीड़ा छात्रावास में प्रवेश हेतु चयन / ट्रायल्स से सम्बन्धित अधिक जानकारी हेतु जिला खेल कार्यालय, बलिया में किसी भी कार्य दिवस में सम्पर्क किया जा सकता है।

Continue Reading

खेल कूद

नेशनल यूथ वॉलीबॉल चैम्पियनशिप में बलिया के नीरज को यूपी की कमान!

Published

on

बलिया। उत्तर प्रदेश यूथ पुरुष टीम के मैनेजर की जिम्मेदारी बलिया के नरहीं निवासी नीरज राय को मिली है। टीम भारतीय वॉलीबॉल महासंघ के तत्वावधान में रुद्रपुर (उत्तराखंड) में आगामी 11 से 16 अप्रैल तक आयोजित होने वाली ’23वीं राष्ट्रीय यूथ वॉलीबॉल चैम्पियनशिप’ में भाग लेने वाली है। बता दें नीरज राय वॉलीबॉल एसोसिएशन बलिया की तदर्थ समिति के सदस्य हैं और बेसिक शिक्षा परिषद में प्रधानाध्यापक के पद तैनात हैं। जिन्हें अब बड़ी जिम्मेदारी दी गई है।उत्तर प्रदेश वॉलीबॉल एसोसिएशन के महासचिव सुनील कुमार तिवारी ने नीरज राय को नामित किए जाने की सूचना दी है।

गौरतलब है कि खेल निदेशालय उत्तर प्रदेश और उत्तर प्रदेश वॉलीबॉल एसोसिएशन के समन्वय से उत्तर प्रदेश यूथ पुरुष और महिला वॉलीबॉल टीम का प्रशिक्षण शिविर 1 से 10 अप्रैल तक स्पोर्ट्स स्टेडियम पीलीभीत में संचालित हो रहा है। जहां से चयनित वॉलीबॉल टीम 10 अप्रैल को रुद्रपुर के लिए रवाना होगी।वहीं नीरज राय को मैनेजर बनाए जाने पर जिला वॉलीबॉल एसोसिएशन ने उत्तर प्रदेश वॉलीबॉल एसोसिएशन का आभार जताया।नीरज की इस उपलब्धि पर बलिया खेल अधिकारी डॉ. अतुल सिन्हा, उप्र वॉलीबॉल एसोसिएशन के उपाध्याय बीएन मिश्रा, प्रयागराज वॉलीबॉल एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रभात कुमार राय, स्वैग कमेटी के चेयरमैन पवन कुमार राय, अजय प्रताप साहू, संजय सिंह, मोहम्मद इरफान, मोहम्मद शोएब, प्रदीप कुमार आदि ने बधाई देते हुए उत्तर प्रदेश यूथ वॉलीबॉल टीम को बेहतरीन प्रदर्शन की शुभकामनाएं दी हैं।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!