Connect with us

शिक्षा

टीडी कालेज के छात्रों का पर्दर्शन , प्राचार्य का पुतला फूंका

Published

on

बलिया : भारतीय छात्र  मोर्चा के बैनर तले टीडी कालेज के छात्रों ने आठ सूत्रीय मांगों के समर्थन में चौथे दिन भी क्रमिक अनशन जारी रखा। सोमवार को अनशनकारी छात्रों के समर्थन में टीडी कालेज चौराहे पर कालेज के प्राचार्य दिलीप श्रीवास्तव का पुतला फूंका गया। कालेज के छात्र अजय अंबेडकर ने कहा कि अनशनरत छात्रों की समस्या का समाधान नहीं हुआ इससे सिद्ध होता है कि उच्चाधिकारियों व प्राचार्य में मिलीभगत है। छात्रनेता गणेश यादव ने कहा कि बार-बार पत्रक देने व आंदोलन करने के बावजूद भी शासन प्रशासन चुप्पी साधे हुए है। मंटू साहनी ने कहा कि यदि हमारी मांगें पूरी नहीं की जाती हैं तो छात्र-छात्राएं जिलाधिकारी कार्यालय का घेराव करेंगे। इस मौके पर राजू कुमार भारती, रवि प्रताप यादव, विपिन कुमार, राजेश राजभर, आदर्श कुमार सिन्हा, चंदन राव, वैभव ¨सह, अर¨वद कुमार, धर्मेंद्र राजभर, दिलीप कुमार, हिमांशु गौतम, अमित गुप्त, शिवशंकर प्रसाद आदि मौजूद थे।

Continue Reading
Advertisement />
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

शिक्षा

बलिया- बीए फस्ट ईयर में एडमिशन को लेकर छात्रों का हंगामा, कॉलेज पर लगाए गंभीर आरोप !

Published

on

बलिया । सतीशचंद्र कॉलेज में बीए फस्ट ईयर में एडमिशन को लेकर छात्रों ने हंगामा कर दिया। छात्रों ने 33 फीसद बढ़ी सीटों में धांधली करने का आरोप तक लगाया। छात्रों का कहना है कि एडमिशन देने में मनमानी की जा रही है। एडमिशन प्रक्रिया शक के घेरे में है। इतना ही नहीं छात्रों ने एडमिशन करने को लेकर जांच की मांग भी उठाई। इसके अलावा कॉलेज की प्रबंध समिति भंग कर फिर से गठन करने की भी मांग की। साथ ही मांग पूरी न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी।

दरअसल फस्ट ईयर में एडमिशन को लेकर छात्रों ने सतीशचंद्र कॉलेज पर रविवार को जमकर हंगामा किया। छात्रों का आरोप था कि 33 फीसद बढ़ी सीटों में धांधली की गई है। कुछ छात्रों के प्रवेश के बाद कॉलेज प्रशासन ने प्रवेश बंद कर दिया। छात्र नेता अविनाश सिंह ने कहा कि प्रवेश में मनमानी की जा रही है। पूर्व अध्यक्ष विवेक पाठक ने कहा कि प्रवेश प्रक्रिया संदेह के घेरे में है। छात्र नेता हिमांशु उपाध्याय ने कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए।

यदि ऐसा नहीं हुआ तो छात्र उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। वर्तमान अध्यक्ष राहुल यादव ने कहा कि कॉलेज की प्रबंध समिति भंग कर फिर से गठित की जाए। मुकेश यादव, आशुतोष पांडेय, भोला यादव, रमेश पांडेय, सुजीत तिवारी, मनीष तिवारी, साहिल चौरसिया आदि मौजूद रहे।

Continue Reading

बलिया

आधे से अधिक विद्यार्थियों के फेल होने का मामला- छात्र नेताओं ने JNCU की कुलपति को सौंपा पत्रक

Published

on

कुंवर सिंह महाविद्यालय के छात्र नेताओं ने गुरूवार को जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कल्पलता पाण्डेय को पत्रक सौंपा।

कुंवर सिंह महाविद्यालय के छात्र नेताओं ने गुरूवार को जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कल्पलता पाण्डेय को पत्रक सौंपा। छात्र नेताओं ने शिकायत की है कि बी. ए. द्वितीय वर्ष के आधे से अधिक विद्यार्थियों को फेल कर दिया गया है। कुंवर सिंह महाविद्यालय बलिया के जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय से संबद्ध है। कुलपति प्रो. कल्पलता पाण्डेय को अपना ज्ञापन सौंपने के बाद महाविद्यालय के छात्र संघ भवन में बैठक भी की।

छात्र संघ भवन में पूर्व अध्यक्ष नितेश यादव ने कहा कि “कोरोना काल के दौरान कुलपति ने कहा था कि महाविद्यालयों में पढ़ाई नहीं हुई है इसलिए सभी छात्रों को पास कर दिया जाएगा। लेकिन स्नातक द्वितीय वर्ष के ज्यादातर छात्रों को फेल कर दिया गया है। जननायक विश्वविद्यालय इस तरह रिजल्ट जारी करके छात्रों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रहा है।” नितेश यादव ने सवाल उठाया कि “बगैर परीक्षा के कैसे निर्णय लिया गया कि कौन पास होगा और कौन फेल?”

जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कल्पलता पाण्डेय से मुलाकात कर छात्र नेताओं ने मांग की है कि बी. ए. द्वितीय वर्ष के सभी विद्यार्थियों को पास किया जाए। क्योंकि कोरोना महामारी की वजह से न ही पढ़ाई हुई और न ही परीक्षा। ऐसी स्थिति में विद्यार्थियों को फेल करना सरासर नाइंसाफी है। छात्र नेताओं ने विश्वविद्यालय प्रशासन को यह चेतावनी दी है कि अगर परीक्षा परिणाम को लेकर हमारी मांगें स्वीकार नहीं हुईं तो जल्द ही एक बड़ा आंदोलन भी शुरू होगा। जिसकी पूरी जिम्मेदारी विश्वविद्यालय प्रशासन और जिला प्रशासन की होगी।

जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय की कुलपति को पत्रक सौंपते वक्त कुंवर सिंह महाविद्यालय के शमशेर यादव, गुड्डू यादव, उपेन्द्र वर्मा, अभिषेक उपाध्याय, सुरज शर्मा, बलजीत राज, दयाशंकर, अकिंत सिंह, मिन्टू ठाकुर, अजीत, सोनू, अलोक भारती, मोहित, पंकज यादव व अन्य छात्र नेता मौजूद रहे।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

तो जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित होगा चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय का शिक्षक सम्मान समारोह!

Published

on

शिक्षक सम्मान समारोह के जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित किए जाने की वजह है जलजमाव।

रविवार यानी 5 सितंबर को बलिया के जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय में शिक्षक दिवस के मौके पर शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा। जिसमें विश्वविद्यालय और उससे संबद्ध कॉलेजों के कुल 75 प्राध्यापकों को सम्मानित किया जाएगा। ये सभी ऐसे प्राध्यापक हैं जिन्होंने इस साल विश्वविद्यालय और अपने-अपने कॉलेजों के लिए उल्लेखनीय कार्य किया है।विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कलपलता पांडेय के दिशा निर्देशों के आधार पर बीते दिनों एक समिति का गठन किया गया था। इस समिति को विश्वविद्यालय और संबद्ध कॉलेजों के उत्कृष्ठ शिक्षकों की सूची बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। समिति ने सभी शिक्षकों के कार्यों का अवलोकन करके एक सूची तैयार की। जिसमें कुल 75 प्राध्यापकों के नाम शुमार हैं। अब इन्हें 5 सितंबर के दिन जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय की ओर से सम्मानित किया जाएगा।

जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित होगा सम्मान समारोह:

विश्वविद्यालय का यह शिक्षक सम्मान समारोह जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित होगा। जमुना राम पीजी कॉलेज चितबड़ागांव में स्थित है। शिक्षक सम्मान समारोह के जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित किए जाने की वजह है जलजमाव। जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय के परिसर के चारों तरफ अभी भी जलभराव की स्थिति बनी हुई है। हर तरफ बाढ़ का पानी है। विश्वविद्यालय परिसर में प्रवेश करना मुश्किल है।

गौरतलब है कि गंगा नदी का जलस्तर बढ़ने के चलते बलिया के कई इलाकों में बाढ़ आ गई थी। जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय बसंतपुर के सुरहाताल के पास स्थित है। गंगा में जैसे ही जलस्तर में बढ़ोतरी हुई नदी का पानी कटहर नाले के जरिए सुरहाताल पहुंचता है। लेकिन नाले की स्थिति खराब होने की वजह से जल निकासी ठप हो गई। जिसका खामियाजा अब विश्वविद्यालय को भुगतना पड़ रहा है।जलजमाव के कारण विश्वविद्यालय में आवाजाही लगभग बंद है। छात्र-छात्राएं पहले ही परेशान हो चुके थे। अब विश्वविद्यालय के कार्यक्रमों का स्थान भी बदलने की नौबत आ गई है। पिछले दिनों विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कल्पलता पांडेय ने इस मसले पर जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया था। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा मदद नहीं मिलने की भी बात कही थी।

विज्ञापन और जमीनी हकीकत:

बलिया के नगर विधायक हैं आनन्द स्वरूप शुक्ल। जो कि उत्तर प्रदेश सरकार में राज्य मंत्री भी हैं। उन्होंने कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर जनता को शुभकामनाएं देते हुए एक विज्ञापन छपवाया। विज्ञापन में आनन्द स्वरूप शुक्ल ने अपने कार्यों का विवरण दिया। लाखों रुपए के इस विज्ञापन में जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय मार्ग निर्माण की भी बात कही गई है।विज्ञापन में कहा गया है कि जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय मार्ग (5.5 किलोमीटर) 6 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन है। लाखों के विज्ञापन में करोड़ों के सड़क निर्माण का ब्योरा दिया गया है। विज्ञापन में ये मार्ग और इसकी लागत खूब चमकदार हैं। लेकिन जमीनी हकीकत ये है कि जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय जलजमाव की समस्या से आतुर हो गया है। विद्यार्थियों से लेकर कर्मचारियों और अधिकारियों के नाक में दम हो चुका है। विश्वविद्यालय के कार्यक्रमों का आयोजन जलभराव के कारण किसी अन्य कॉलेज में आयोजित की जा रही है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!