Connect with us

बलिया

समाजसेवी स्व. उषा राय की पुण्यतिथि पर ‘महिला सशक्तिकरण एवं भारत’ को ले वेबिनार का आयोजन

Published

on

नई दिल्ली डेस्क : युवा चेतना के तत्वावधान में स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी की माँ समाजसेवी स्व. उषा राय की तृतीय पुण्यतिथि पर “महिला सशक्तिकरण एवं भारत” विषयक वेबिनार का आयोजन किया। वेबिनार का उद्घाटन दीप प्रज्जवलित कर सिक्किम के राज्यपाल श्री गंगा प्रसाद ने किया। उद्घाटनकर्ता सिक्किम के राज्यपाल महामहिम गंगा प्रसाद ने कहा की स्व. उषा राय धर्मपरायण महिला थीं उन्होंने जीवन भर समाज के अंतिम व्यक्ति को मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास किया।

श्री गंगा प्रसाद ने कहा की महिला का सम्मान जिस समाज में न हो उस समाज का कोई अर्थ नहीं है।श्री प्रसाद ने कहा की जब तक समाज हर बेटी को अपनी बेटी नहीं समझेगा तबतक बेटीयाँ सुरक्षित नहीं रहेगी।श्री प्रसाद ने कहा की स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी देश भर में सनातन धर्म के विस्तार हेतु अच्छा कार्य कर रहे हैं।

महामहिम राज्यपाल गंगा प्रसाद ने कहा की युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह को समाज में नारी के सम्मान हेतु वैचारिक जनजागरण चलाना चाहिए। वेबिनार को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए सुप्रीम कोर्ट आफ इंडिया की पूर्व न्यायमूर्ति जस्टिस ज्ञानसुधा मिश्रा ने कहा की स्व. उषा राय के सामाजिक योगदान का सम्मान सबको करना चाहिए।

श्रीमती मिश्रा ने कहा की सीआरपीसी में संशोधन एवं फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट को अपने कार्य में महिला उत्पीड़न के संदर्भ में लाना चाहिए।श्रीमती मिश्रा ने कहा की महिला का सम्मान कोई भीख नहीं है बल्कि उसका अधिकार है।श्रीमती मिश्रा ने कहा की युवा चेतना को आगे बढ़कर नारी सम्मान की लड़ाई को आगे बढ़ाना चाहिए।

मुख्य वक्ता के रूप में काशी हिंदू विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति एवं उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा परिषद के अध्यक्ष डा. गिरीश चंद्र त्रिपाठी ने कहा की हमारे देश में महिलाओं का स्थान सर्वोच्च है।गौरीशंकर,सीताराम,राधाकृष्ण भगवान के नाम हैं जिनमे देवी के नाम पहले हैं।डा. त्रिपाठी ने कहा की भारत में नारी का सम्मान सबसे अधिक है परंतु कुछ कालनेमियों के कारण कुछ परेशानी उत्पन्न हुई है जिसका समाधान हमें करना होगा।

डा. त्रिपाठी ने कहा की भारत को विश्वगुरु बनाना ही हमारा लक्ष्य है। सम्मानित वक्ता राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ममता शर्मा ने कहा की उषा राय एक महान महिला थीं जिन्होंने अभिषेक ब्रह्मचारी जैसे राष्ट्रभक्त पुत्र को जन्मा।श्रीमती शर्मा ने कहा की महिलाओं के खिलाफ़ हो रहे अत्याचार के ख़िलाफ़ सबको आगे आना होगा।

संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी के कुलपति प्रो. राजाराम शुक्ला ने कहा की नारी सम्मान ही राष्ट्र सम्मान है। वेबिनार की अध्यक्षता करते हुए युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने कहा की स्व. उषा राय ने जीवन भर मानव सेवा में अपना समय व्यतीत किया।श्री सिंह ने कहा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अविलंब संसद में 33 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं के लिए सुनिश्चित कराना चाहिए।

श्री सिंह ने हाथरस में युवती के साथ हुए जघन्य घटना के विषय को वेबिनार में उठाया।श्री सिंह ने कहा की निर्भया के साथ जो हुआ अब हाथरस में आखिर यह कब रुकेगा।श्री सिंह ने कहा की महिलाओं के साथ जघन्य घटनाओं में तेज़ी आइ है सरकार को इस पर गम्भीर होना चाहिए।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलिया- करंट से झुलसे युवक की मौत, परिजनों में कोहराम

Published

on

बलिया। रसड़ा में करंट से झुलसे युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक 13 सितंबर को विद्युत लाइन की चपेट में आने से बुरी तरह झुलस गया था। इसका इलाज चल रहा था। हालात गंभीर होने पर युवक को वाराणसी भी रेफर किया गया था। लेकिन शनिवार की देर शाम युवक की मौत हो गई। पावर हाउस परिसर में हादसा हुआ था। जहां युवक घास काटने के लिए था। और हादसे का शिकार हो गया। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम है। क्षेत्र में भी मातम पसरा है।

दरअसल एक सप्ताह पहले गढिया गांव स्थित पावर हाउस के मैदान में विद्युत प्रवाहित विद्युत तार की चपेट में एक युवक आ गया था। हादसे में झुलसे सुलुई ग्राम निवासी युवक सत्यनारायण (40) पुत्र लालमन की शनिवार की देर शाम वाराणसी में इलाज के दौरान मौत हो गई। बता दें 13 सितंबर को युवक अपने गांव से पावर हाउस परिसर में घास काटने के लिए गया हुआ था, कि तभी अचानक नंगे विद्युत तारों में उलझकर वह बूरी तरह झुलस गया। विद्युत विभाग के अधिकारियों ने उसे तत्काल रसड़ा अस्पताल पहुंचाया जहां से उसे बलिया और वहां से वाराणसी रेफर कर दिया गया। जहां उसकी मौत हो गई।

Continue Reading

featured

डी. फार्मा. की परीक्षा में शाहीन परवीन ने किया बलिया टॉप, शहबान मेमोरियल कॉलेज ने लहराया परचम

Published

on

शाहीन परवीन ने डी. फार्मा. की परीक्षा में बलिया जनपद में टॉप किया है।

उत्तर प्रदेश प्राविधिक शिक्षा परिषद ने साल 2021 के मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया है। इस साल यह परीक्षा कोरोना महामारी की वजह से ऑनलाइन ही हुई थी। डिप्लोमा इन फार्मेसी में शाहीन परवीन ने पूरे बलिया जनपद में टॉप किया है। शाहीन परवीन ने डिप्लोमा इन फार्मेसी के अंतिम वर्ष की परीक्षा 90 फीसदी अंक हासिल किया है। शाहीन परवीन बलिया के नगरा स्थित मु. शहबान मेमोरियल कॉलेज ऑफ फार्मेसी की छात्रा हैं।

उत्तर प्रदेश प्राविधिक शिक्षा परिषद की 2021 के परीक्षा में मु. शहबान मेमोरियल कॉलेज ऑफ फार्मेसी के छात्र छात्राओं ने शानदार प्रदर्शन किया है। इस साल पूरे कॉलेज का रिजल्ट 96 फीसदी रहा है। कॉलेज में सबसे अधिक अंक शाहीन परवीन को मिला है। कॉलेज में दूसरा स्थान हासिल किया है नवाज़ अहमद ने। नवाज़ को 88 फीसदी अंक प्राप्त हुए हैं। संजीदा अतीक़ 86 फीसदी अंकों के साथ तीसरे स्थान पर काबिज हैं। जबकि विनीता रंजन और अभिषेक यादव क्रमशः 82.5 और 80.5 फीसदी अंकों के साथ चौथे और पांचवें स्थान पर हैं।

मु. शहबान मेमोरियल कॉलेज ऑफ फार्मेसी के प्रबंधक मुहम्मद इमरान ने कॉलेज के विद्यार्थियों की इस सफलता पर कहा कि “मैं अपनी संस्था की ओर से शाहीन परवीन को विशेष बधाई देता हूं। साथ ही अन्य परीक्षार्थियों को भी बहुत बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। बच्चों के परिवार वालों को भी बधाई।” उन्होंने आगे कहा कि “ऐसा पहली बार हुआ कि परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की गई। इसमें इंटरनेट एक बड़ी चिंता थी। परीक्षा के दौरान भी कई बार परीक्षार्थियों को इंटरनेट की दिक्कतों से सामना करना पड़ा। लेकिन अंत में सफलता हासिल हुई।”

Continue Reading

बलिया

नलकूप की समस्या से मिलेगी मुक्ति, तीन दिन में होगा शिकायत का निपटारा

Published

on

नलकूप की समस्या से मिलेगी मुक्ति, तीन दिन में होगा शिकायत का निपटारा।

बलिया के लोगों को अब खराब नलकूप की समस्या ज्यादा दिन तक झेलनी नहीं पड़ेगी। अब खराब हुए नलकूप की शिकायत मिलने के तीन दिनों के भीतर उसे ठीक कर दिया जाएगा। जिले के राजकीय नलकूप खराब होने की जानकारी मिलने के तीन दिनों के अंदर उसे दुरुस्त किया जा सकेगा। ऐसा नहीं होने पर संबंधित विभाग के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसे लेकर विभागों को निर्देशित किया जा चुका है।

बलिया जिले में कुल 17 ब्लॉक क्षेत्र हैं। इन 17 ब्लॉक क्षेत्रों में कुल 871 राजकीय नलकूप स्थापित हैं। इन नलकूपों के रखरखाव के लिए शासन की ओर से चार सहायक अभियंता और दर्जनभर अवर अभियंताओं की तैनाती की गई है। इसके बाद कई तकनीकी कारिगरों को भी काम पर लगाया गया है। फिर भी बलिया में आए दिन नलकूपों के बिगड़ने की खबरें सामने आती रहती हैं। नलकूपों के बिगड़ने के बाद इन्हें जल्दी मरम्मत नहीं किए जाने की शिकायत आती रहती है।

नलकूप खंड बलिया के अधिशासी अभियंता सुनील कुमार भारती ने नलकूप से जुड़े शिकायतों के निपटारे के लिए नई व्यवस्था बनाई है। ताकि नलकूपों को जल्द से जल्द ठीक किया जा सके। अधिशासी अभियंता के मुताबिक जिले में अब नलकूप बिगड़ने की शिकायत मिलते ही अगले तीन दिनों के भीतर उसका निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अगर ऐसा नहीं होता है तो जिम्मेदार अभियंता पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!