Connect with us

उत्तर प्रदेश

15 दिन में 60 पशु अज्ञात कारण से मरें

Published

on

बलिया में लगातार क्यों हो रही पशुओं की मौत
15 दिन में 60 पशु अज्ञात कारण से मरें
बैरिया (बलिया)। बैरिया के विभिन्न गांवों में लगातार जानवरों की मौत के मामले सामने आ रहे है, कारण अबतक पता नहीं लग पाया है। बलिया क्षेत्र में 15 दिन के अंदर अज्ञात बीमारी से करीब 60 पशुओं की मौत हो गई। जिससे पशुपालक परेशान हैं। क्षेत्र के किसी भी पशु चिकित्सालय में चिकित्सक अ​धिकारी न होने से इलाज के आसार भी नजर नहीं आ रहे है। क्षेत्र के धतुरीटोला में पांच, शिवाला मठिया में पांच, गोपालनगर में सात, टोला फत्तेराय में तीन, गुमानी के टोला में चार मवेशी कालकवलित हो गए हैं। वहीं भरतछपरा गांव में नरेश, जयराम, प्रभुनाथ, मोनू समेत छह लोगों की गायें एक सप्ताह के भीतर मर गईं।
पशुपालकों ने बताया कि घुटनों में सूजन के बाद मवेशी मरते जा रहे हैं। ऐसे ही कई गांवों के मामले सामने आए हैं। पशुओं में अज्ञात बीमारी फैलने से पशुपालक परेशान हैं। वहीं राजकीय पशु चिकित्सालय सोनबरसा, मुरलीछपरा, लालगंज, करमानपुर, कर्णछपरा जयप्रकाशनगर समेत कई पशु चिकित्सालयों में चिकित्सक तैनात नहीं है। छह से अधिक पशुचिकित्सालयों का चार्ज राजकीय पशुचिकित्सालय रेवती के प्रभारी डा.ओमप्रकाश के जिम्मे है। रेवती के प्रभारी पशुचिकित्साधिकारी डा.ओमप्रकाश ने बताया कि प्रदूषित चारा खाने या चरने से यह बीमारी हो रही है। इसे फंगल इंफेक्शन कहा जाता है। पशुओं में इस तरह का लक्षण मिल तो तुंरत पास के पशु चिकित्सालय से संपर्क करें।

Advertisement  
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

featured

बसपा विधायक उमाशंकर सिंह समेत 5 विधायक बनें जननायक चंद्रशेखर यूनिवर्सिटी के सदस्य

Published

on

बलिया के 2 विधायकों समेत 5 विधायकों को जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय का सदस्य नामित किया गया है। जिले के 2 विधायकों में जिले के बांसडीह विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुनी गई भाजपा की केतकी सिंह और रसड़ा विधानसभा से तीसरी बार विधायक चुने गए बसपा के उमाशंकर सिंह शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष सतीश महाना ने चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के लिए कुल पांच विधायकों को नामित किया है। यह सदस्य संगत अधिनियम के तहत सदन द्वारा विधिवत निर्वाचित माने जाएंगे। इसकी अधिसूचना शनिवार को जारी कर दी गई।

प्रमुख सचिव द्वारा जारी किए गए आदेश में केतकी सिंह और उमाशंकर सिंह के अलावा आजमगढ़ की गोपालपुर विधानसभा क्षेत्र से दूसरी बार विधायक चुने गए सपा के नफीस अहमद और देवरिया जिले से विधायक डॉ. शलभ मणि त्रिपाठी और सुरेंद्र चौरसिया को विश्वविद्यालय की सभा का सदस्य नामित किया गया है।

Continue Reading

featured

आज बलिया आएंगे सपा मुखिया अखिलेश यादव, यहां देखें मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम

Published

on

बलिया में 27 मई को यानि आज समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव बलिया में आ रहे हैं। वे ढ़ड़सरा थाना पकड़ी में छात्र नेता स्वर्गीय हेमन्त यादव को श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। इसके बाद रसड़ा अन्तर्गत अजीजपुर गांव में समाजवादी पार्टी युवाजन सभा के निवर्तमान अध्यक्ष अरविन्द गिरी के स्वर्गीय पिता को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

कार्यक्रम के अनुसार, सपा प्रमुख दोपहर बाद 1 बजकर 40 मिनट पर पकड़ी क्षेत्र के धड़सरा गांव में हेलीकॉप्टर से पहुंचेंगे। वहां से छात्रनेता स्व. हेमंत यादव को श्रद्धांजलि देंगे और परिजनों से मुलाकात करेंगे। यहां से 2 बजकर 10 मिनट पर रवाना होकर ढाई बजे रसड़ा क्षेत्र के खड़सरा अजीजपुर गांव पहुंचेंगे। यहां पूर्व सीएम समाजवादी युवजन सभा के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष अरविंद गिरि के पिता को श्रद्धांजलि देंगे। यहां वे तीन बजे तक रहेंगे। इसके बाद सपा अध्यक्ष दोपहर 3 बजे लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे।

20 मई को बलिया में दौरे पर आना था
बता दें कि इससे पहले अखिलेश यादव को 20 मई को बलिया दौरे पर आना था। लेकिन उनकी ताई के अचानक निधन के कारण उन्हें दौरा रद्द करना पड़ा था।

अखिलेश यादव की ताई और पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव की दादी समंद्रा देवी (84) का निधन 20 मई को हुआ था। उस समय बलिया दौरे पर निकलने को तैयार अखिलेश यादव को इसकी सूचना मिली तो उन्होंने सूचना मिलते ही सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए थे। इसके बाद अखिलेश ताई के अंतिम संस्‍कार में शामिल होने के लिए सैफई पहुंचे थे।

 

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

कर्नाटक के नतीजों पर जेडीयू के अवलेश सिंह बोले- नैरेटिव बनाने से चुनाव में कुछ नहीं होगा

Published

on

बलिया। कर्नाटक में कांग्रेस की जीत पर जेडीयू के प्रदेश महासचिव अवलेश सिंह  ने बयान दिया है. उन्होंने इसे लेकर केंद्र की बीजेपी सरकार पर हमला बोला है.

अवलेश सिंह ने कहा की कांग्रेस की जीत ये साबित करती है कि नैरेटिव बनाने से चुनाव में कुछ नहीं होगा. उन्होंने कहा,  कर्नाटक का परिणाम देश के कई मायने में निर्णायक है.

यह उन लोगों को एक जोरदार और स्पष्ट संदेश दे रहा है, जो मुद्रास्फीति, मूल्यवृद्धि, बेरोजगारी जैसे वास्तविक मुद्दों से भटकाने के लिए केवल नैरेटिव सेट करने, धार्मिक गुंडागर्दी करने और समाज में विभाजन पैदा करने में विश्वास करते हैं.”

“कांग्रेस पार्टी को जनादेश देने के लिए हम कर्नाटक के लोगों को धन्यवाद देते हैं. कर्नाटक के लोगों ने जिस तरह से फैसला किया है. यह देश के बाकी हिस्सों के लिए एक अच्छा संदेश है.”

 

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!