Connect with us

बलिया

बलिया- JNCU का चौथा दीक्षांत समारोह; राज्यपाल ने की यूनिवर्सिटी की तारीफ, इसरो के मानद प्रोफेसर ने दिए सफलता के मंत्र

Published

on

बलिया। जनननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय का चौथा दीक्षांत समारोह राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की अध्यक्षता में हुआ। समारोह में कुल 25 हजार 220 छात्र-छात्राओं को उपाधि दी गई, जिसमें 22 हजार 421 स्नातक स्तर और 2 हजार 799 स्नातकोत्तर स्तर के छात्र सम्मिलित हैं। 34 मेधावियों को गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया, जिसमें 28 छात्राएं और 6 छात्र हैं। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि इसरो के मानद प्रोफेसर पद्मश्री वाईएस राजन और विशिष्ट अतिथि प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय सम्मिलित हुए।

राज्यपाल ने की यूनिवर्सिटी की तारीफ– राज्यपाल ने कहा कि दीक्षांत समारोह शैक्षणिक यात्रा का महत्वपूर्ण पड़ाव है। यह खुशी की बात है कि विश्वविद्यालय बलिया जनपद की सांस्कृतिक विरासतों को खोजने और संरक्षित रखने की दिशा में काम कर रहा है। गोल्ड मेडलिस्ट में छात्राओं की संख्या 80 फीसदी होने पर हर्ष जताया। यह दौर विज्ञान और तकनीकी का है, इसके साथ कदमताल को तैयार रहना होगा। आत्मनिर्भर भारत का संकल्प इसी दिशा में बढ़ाया गया सार्थक कदम है। स्टार्टअप इण्डिया, स्टैण्डअप इण्डिया, पीएम स्कॉलरशिप जैसे कार्यक्रम उद्यमशील युवाओं के लिए नई सम्भावना हैं। विश्वविद्यालय ने बलिया जनपद की मिट्टी से जुड़े ख्याति प्राप्त व्यक्तियों को ‘लिविंग लिजेंड्स ऑफ बलिया‘ फोरम से जोड़ने की अभिनव कोशिश की।

परिषदीय विद्यालय के बच्चों को दुलारा-राज्यपाल आनंदीबेन पटेल दीक्षांत समारोह में परिषदीय विद्यालय के बच्चों से भी मिली। बच्चों को खुब दुलारा, उन्हें बैग और अन्य पढ़ाई-लिखाई से सम्बन्धित उपहार भेंट किए। बच्चों ने भी अपनी ओर से नये साल के अवसर पर ग्रिटिंग कार्ड, पेंटिंग आदि दिए, जिसे पाकर राज्यपाल काफी प्रफुल्लित हुईं। उन्होंने कहा कि छोटी उम्र में ही बच्चे जो देखते हैं, वह सीखते हैं। यहां से बच्चे घर जाएंगे तो एक सकारात्मक विचार लेकर जाएंगे। यहां का चित्रण अपने घर और आस-पड़ोस में करेंगे, जिससे अन्य बच्चों ने प्रेरणा का भार पैदा होगा।

इसरो के मानद प्रोफेसर ने दिए सफलता के मंत्र- दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि इसरो के मानद प्रोफेसर वाईएस राजन ने विभिन्न विषय वर्ग के विद्यार्थियों को उनके क्षेत्र से सम्बन्धित सफलता की सम्भावनाओं के कई मंत्र दिए। कहा कि सफल होने के लिए सबसे जरूरी है- जीवन, शरीर और मन को स्वस्थ और स्वच्छ रखना। उन्होंने तीन शब्द ‘एब्यूज, डिस्यूज और मिस्यूज‘ यानि दुर्व्यवहार, अनुपयोग और दुरूपयोग से बचने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि काफी लोग सरकारी नौकरी ही चाहते हैं, पर सरकारी नौकरियां सीमित है। अब भी भारत में अधिकतर रोजगार असंगठित क्षेत्रों से है, जैसे-स्वव्यवसाय, दुकानदार, कार्मिक आदि। उन्होंने अतिरिक्त तकनीकी कौशल अर्जित करने पर भी जोर दिया।

लक्ष्य प्राप्ति में सरकार की योजनाएं सहायक– विशिष्ट अतिथि योगेंद्र उपाध्याय ने बलिया की महान विभूतियों को नमन कर सम्बोधन दिया। कहा कि कोई दीक्षांत समारोह किसी भी यूनिवर्सिटी के लिए विशिष्ट होता है। यह क्षण विद्यार्थियों और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने वाले शिक्षकों को प्रफुल्लित करने वाला होता है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के क्रियान्वयन की दृष्टि से विवि महत्वपूर्ण केंद्र बन चुका है। यह पहला विश्वविद्यालय है, जहां राष्ट्रीय शिक्षा नीति के कार्यान्वयन के लिए आंतरिक मूल्यांकन और आंकलन सम्बन्धी प्रशिक्षण को सम्पन्न कराया गया।

कुलपति ने जताया आभार– विषम परिस्थितियों में बलिया आने के लिए कुलपति ने राज्यपाल का आभार जताया और फिर वि​श्वविद्यालय की अब तक उपलब्धियों को विस्तार से बताया। उन्होंने मिसाईल मैन डॉ. कलाम साहब के साथ ‘बियोंड 2020’ नामक पुस्तक की रचना करने वाले इसरो के मानद प्रोफेसर पद्मश्री वाईएस राजन के प्रति भी आभार जताते हुए कहा कि प्रो. राजन का सम्बोधन विद्यार्थियों के लिए काफी प्रेरणादायी होगा। समारोह में राज्यसभा सांसद नीरज शेखर, जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल, एसपी राजकरन नैय्यर, एसडीएम सदर प्रशांत नायक सहित विवि के स्टाफ व विभिन्न कालेज के प्रबंधक मौजूद थे।

बलिया

अखिलेश यादव के नामांकन में पहुंचे बलिया के समाजवादी नेता

Published

on

सामाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तरप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने आज उत्तरप्रदेश की कन्नौज सीट से पर्चा दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ कार्यकर्ताओं का हुजूम उमड़ा। अखिलेश यादव अपने समर्थकों के साथ कार्यालय पहुंचे और पर्चा भरा।

इस दौरान समाजवादी पार्टी से पूर्व मंत्री रामगोविन्द चौधरी और बलिया के वरिष्ठ नेता अवलेश सिंह भी शामिल रहे। मीडिया से चर्चा के दौरान जेडीयू छोड़ कर सपा में आए अवलेश सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में समाजवादी पार्टी की लहर चल रही है। क्षेत्रीय जनता भी पार्टी पर भरोसा जता रही है। पार्टी के प्रत्याशी भी जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने के काम करेंगे। इसके अलावा अवलेश सिंह ने अखिलेश यादव के समर्थन में वोट देने की अपील की।

गौरतलब है कि सपा ने दो दिन पहले तेज प्रताप यादव को कन्नौज सीट से उम्मीदवार घोषित किया था लेकिन कार्यकर्ताओं की मांग पर अखिलेश ने खुद कन्नौज के चुनाव मैदान में उतरने का एलान किया।

Continue Reading

बलिया

बलिया के बैरिया में बोलेरो ने बाइक सवारों को मारी टक्कर, 2 की मौत

Published

on

बलिया के बैरिया थाना क्षेत्र के NH-31 पर स्थित जयप्रभा सेतु पर बुधवार की सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। यहां एक तेज़ रफ्तार बोलेरो ने 2 बाइक पर सवारों को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में बाइक पर सवार 3 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसमें से एक की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में मौत हो गई। जबकि दूसरे की इलाज के दौरान मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि छपरा शहर के मंगाईडीह से लौट रही बारात में शामिल बोलेरो के सामने जयप्रभा सेतु पर ओवरटेक के दौरान अचानक 2 बाइक आ गई। इससे बोलेरो और बाइक की आपस में जोरदार टक्कर हो गई। टक्कर इतनी तेज़ थी कि बाइक सवार 3 लोग फिल्मी स्टाइल में हवा में उछलकर सेतु पर दूर जा गिरे। इसमें मांझी के जैतपुर उच्च विद्यालय में तैनात शिक्षक और बिहार प्रान्त के बक्सर जिले के रघुनाथपुर निवासी फहीमुद्दीन अहमद, बक्सर के मदहां गांव निवासी विनायक सिंह और दूसरी बाइक पर सवार सिवान के हुसेनगंज ब्लॉक में अमीन के पद पर तैनात व बक्सर निवासी सचिन कुमार साहनी गम्भीर रूप से जख्मी हो गए।

सूचना पर पहुंची माझी पुलिस ने तीनों घायलों को माझी सीएचसी उपचार के लिए ले जा रहे थे जिसमें फहीमुद्दीन अहमद की रास्ते में ही मौत हो गई। जबकि अस्पताल में इलाज के दौरान सचिन साहनी की भी मौत हो गई। माझी पुलिस ने दोनों साहू को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया

इधर सड़क हादसे के बाद बोलेरो में सवार बराती व चालक गाड़ी में ही सारा सामान छोड़कर भाग निकले। बराती व बोलेरो चालक सिताब दियारा के बताए जाते हैं। यूपी के बैरिया थाना के चौकी चांददीयर की पुलिस ने क्षतिग्रस्त दोनों बाइक व बोलेरो को कब्जे में ले लिया।

Continue Reading

featured

बलिया में दूल्हे पर एसिड अटैक, पूर्व प्रेमिका ने दिया वारदात को अंजाम

Published

on

बलिया के बांसडीह थाना क्षेत्र में एक हैरान कर देने वाले घटना सामने आई हैं। यहां शादी की रस्मों के दौरान एक युवती ने दूल्हे पर तेजाब फेंक दिया, इससे दूल्हा गंभीर रूप से झुलस गया। मौके पर मौजूद महिलाओं ने युवती को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। फिलहाल पुलिस बारीकी से पूरे मामले की जांच कर रही है।

बताया जा रहा है की घटना को अंजाम देने वाली युवती दूल्हे की पूर्व प्रेमिका है। उसका थाना क्षेत्र के गांव डुमरी निवासी राकेश बिंद के साथ बीते कई वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवती ने युवक से शादी करने का कई बार दबाव बनाया, लेकिन युवक ने शादी करने से इन्कार कर दिया। इस मामले में कई बार थाना और गांव में पंचायत भी हुई, लेकिन मामला सुलझा नहीं।

इसी बीच राकेश की शादी कहीं ओर तय हो गई। मंगलवार की शाम राकेश की बारात बेल्थरारोड क्षेत्र के एक गांव में जा रही थी। महिलाएं मंगल गीत गाते हुए दूल्हे के साथ परिछावन करने के लिए गांव के शिव मंदिर पर पहुंचीं। तभी घूंघट में एक युवती पहुंची और दूल्हे पर तेजाब फेंक दिया। इस घटना से दूल्हे के पास में खड़ा 14 वर्षीय राज बिंद भी घायल हो गया। दूल्हे के चीखने चिल्लाने से मौके पर हड़कंप मच गया। आनन फानन में दूल्हे को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

मौके पर पहुंची पुलिस युवती को थाने ले गई और दूल्हे को जिला अस्पताल भेज दिया। थानाध्यक्ष अखिलेश चंद्र पांडेय ने कहा कि तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!