Connect with us

बलिया

महिला सशक्तिकरण की मिसाल हैं बलिया की ये बेटी, बीडीसी का चुनाव लड़ पेश कर रही नजीर !

Published

on

बलिया डेस्क: बलिया के नरही थाना क्षेत्र के पिपरा कलां गांव में चुनावी रंजिश में कहासुनी के बाद ईंट पत्थर चलने के साथ ही फायरिंग हो गई वाली घटना तो आपको याद ही होगी। अगर नहीं जानते हैं तो हम आपको इस घटना के बारे में बताएंगे। दरअसल जिले का पंचायती चुनाव में बवाल का यह सबसे चर्चित मामला है। जिसने पुलिस प्रशासन तक पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया था। घटना को हम आपको बताएंगे लेकिन जिले में इस घटना ने महिला सशक्तिकरण का एक ऐसा उदाहरण पेश किया है जो जिले की हर बेटी के लिए नजीर बन सकता हैं।

इस घटना में घायल चंद्रभान सिंह की बेटी में महिला सशक्तिकरण के लिए वास्तव में एक मिसाल पेश की किया। उनके पिता के साथ हुए मारपीट के बावजूद भी इस लड़की ने हार नहीं मानी और आज अपना बीडीसी चुनाव के लिए पर्चा भरा। हालांकि दबंगों ने इनको चुप कराने के लिए अपने स्तर से कोई प्रयास नहीं छोड़ा। परंतु इस गांव की बेटी ने बिल्कुल हार नहीं मानी। दिलचस्प बात यह है जिले की पिपरा कला गांव की इस बेटी ने एक ऐसा मिसाल कायम किया। जिसे जानकर आपको गर्व की अनुभूति होगी। दरअसल अमृता सिंह आजादी के बाद इस गांव की पहली बेटी हैं जिन्होंने चुनाव लड़ने का फैसला किया। जो वास्तव में सराहनीय है।

अब आप यह भी जान लीजिए कि मामला क्या था?

विकासखंड सोहांव में ब्लाक प्रमुख पद इस बार अनारक्षित है। इसको लेकर सम्भावित प्रमुख पद के प्रत्याशी क्षेत्र पंचायत सदस्य (BDC) का चुनाव जीतने को अपने क्षेत्र में डटे थे। दावतों का भी दौर चल रहा था। इसी कड़ी में पिपरा कलां गांव में शुक्रवार की रात क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के दो दावेदारों की पार्टी अलग-अलग चल रही थी। दोनों दावेदार क्षेत्र पंचायत सदस्य की एक ही सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं। दोनों का घर पास में ही है।

एक पक्ष के आकाश सिंह की दावत रात के 9:00 बजे खत्म हो गई, जबकि दूसरे पक्ष के मनीष सिंह धीरज की दावत विक्रमा सिंह के दरवाजे पर चल रही थी। आरोप हैं कि उसी दौरान मनीष सिंह धीरज की तरफ से छींटाकशी की गई, जिसका प्रतिरोध आकाश सिंह के समर्थकों ने किया तो दोनों पक्ष में कहासुनी होने के बाद ईंट पत्थर चलने लगे। इसमें आकाश सिंह के पिता चंद्रभान सिंह को सिर पर गंभीर चोटें आई। इसके बाद हो-हल्ला मचने पर फायरिंग शुरू हो गई। सूचना मिलते ही नरही थाना प्रभारी योगेंद्र बहादुर सिंह मौके पर पहुंच गये। तब तक चितबड़ागांव और फेफना थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसी समय पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा भी मौके पर पहुंच गए।

पुलिस ने रात में ही दबिश देनी शुरू कर दी। इसमें दोनों पक्षों से 7 लोगों को हिरासत में लिया गया। इसमें प्रथम पक्ष से विजय सिंह उर्फ बागी पुत्र परमात्मा सिंह, रविशंकर सिंह उर्फ सीटू पुत्र हरिशंकर सिंह, धर्मेंद्र नाथ सिंह पुत्र स्व. प्रसिद्ध नाथ सिंह निवासी पिपरां कलां तथा दूसरे पक्ष से लक्ष्मण सिंह पुत्र स्व. रामचंद्र सिंह, संतोष सिंह पुत्र स्व. गुप्तेश्वर सिंह, दिग्विजय सिंह पुत्र स्व. चंद्रबली सिंह निवासी पिपरा कला एवं संजय सिंह यादव पुत्र रामराज सिंह यादव निवासी खैराबारी थाना भांवरकोल गिरफ्तार किए गए।

घटना में बुरी तरह से घायल चंद्रभान सिंह को इलाज के लिए रात में ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरही पर लाया गया, जहां उनकी हालत को गंभीर देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। लेकिन वहां से भी उन्हें वाराणसी रेफर किया गया है। उनका इलाज ट्रामा सेंटर वाराणसी में चल रहा है।

इस घटना में घायल चंद्रभान सिंह की पुत्री ने बलिया के एसपी को पत्र लिखकर गंभीर आरोप लगाया था

इस घटना के बाद घायल चंद्रभान सिंह की पुत्री ने बलिया के एसपी को पत्र लिखकर दूसरे पक्ष पर गंभीर आरोप लगाने के साथ-साथ अपने जीवन की सुरक्षा की भी मांग की थी । दरअसल चंद्रभान सिंह की पुत्री अमृता सिंह ने बलिया एसपी को पत्र लिखते हुए कहा कि दूसरे पक्ष के लोगों ने हमारे घर वालों के ऊपर लाठी-डंडों के साथ गोलीबारी, फरसा से हमला किये। जिसे मेरे पिता चंद्रभान सिंह बुरे तरीके से घायल हो गये।

जिनका इलाज बीएचयू के ट्रामा सेंटर में चल रहा है जो जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे हैं। इसके साथ-साथ उन्होंने पत्र लिखते हुए आरोप लगाया कि मेरे पिताजी जब घायल हुए थे तो, उनके एंबुलेंस को रोका गया और एंबुलेंस में तोड़फोड़ की गई। उन्होंने आगे अपनी सुरक्षा की मांग करते हुए कहा, कि मेरे घर में अभी कोई पुरुष इस वक्त मौजूद नहीं है , उन्होंने पत्र में पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि थाना नरही को लेकर विपक्षी हमारे घर आते हैं और अश्लील हरकत हम बच्चियों के साथ करते हैं घर में तोड़फोड़ और अपमान भी करते हैं।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि छत के ऊपर से लोग घर में प्रवेश कर करते हैं और तोड़फोड़ करते हैं उन्होंने यह भी कहा कि मेरे घर में मेरी बहन के बक्से को तोड़कर 35000 की नगदी एवं ज्वेलरी भी चुरा ले गए हैं, पुलिस की उपस्थिति में इस कार्य के होने से मेरे परिवार के औरतों का जीवन जीना दुर्लभ हो गया है इसके साथ ही उसने यह भी आरोप लगाया कि इस चुनाव से दूरी बनाने हेतु उनसे सभी कारगुजारी भी कर रहे हैं। जिससे मेरे जीवन को भी खतरा है ऐसी स्थिति में उन्होंने पुलिस से न्याय संगत जांच करने की मांग करती हैं।

बलिया

बलिया – RTI पर सूचना उपलब्ध नहीं करवाने वाले बीडीओ से अर्थदंड की वसूली का निर्देश

Published

on

बलिया के एक बीडीओ ने चार साल पहले आरटीआई के तहत किए गए आवेदन पर कोई भी सूचना उपलब्ध नहीं कराई। जिस कारण 1 वर्ष पूर्व बीडीओ पर 10 हजार का अर्थदंड लगाया गया था। लेकिन 2020 में लगे अर्थदंड का भुगतान बीडीओ ने नहीं किया। जिसके बाद अब राज्य सूचना आयोग ने सीडीओ को अर्थदंड की वसूली के निर्देश दिए हैं।

बता दें कि रेवती निवासी रवि महर्षि ने बताया कि 27 फरवरी 2018 को ग्राम सभा भोपतपुर के विकास कार्य के आय-व्यय का विवरण मांगा था। लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। जिसके बाद प्रथम अपील 29 मार्च के बाद 8 जून को राज्य सूचना आयोग में अपील की। मामले में लापरवाही बरतने वाले बीडीओ पर आयोग ने वर्ष 2020 में 10 हजार का जुर्माना लगाया लेकिन बीडीओ ने अभी तक जुर्माना राशि का भुगतान

नहीं किया। अब मामले में फिर से सुनवाई करते हुए राज्य सूचना आयोग ने 15 नवम्बर 2021 को सीडीओ को निर्देशित किया है कि बीडीओ के वेतन से अर्थ दण्ड की वसूली की जाए।

Continue Reading

बलिया

एनसीसी दिवस पर केपी मेमोरियल में हुआ खास आयोजन, NCC कैडेट्स ने की परेड

Published

on

बलिया में राष्ट्रीय कैडेट कोर यानि एनसीसी दिवस को लेकर कई तरह के आयोजन हो रहे हैं। इसके तहत जनपद के कपिल देव परेश्वरी मेमोरियल महाविद्यालय, सुहवाँ रतसर के प्रांगड़ में एनसीसी दिवस मनाया गया और विशेष कार्यक्रम रखा गया।

एनसीसी दिवस पर आयोजित हुए कार्यक्रम में एनसीसी कैडेट्स ने शानदार परेड का प्रदर्शन किया। परेड की सलामी महाविद्यालय के प्रबंधक अमित कुमार यादव ने ली।  कार्यक्रम के दौरान एनसीसी कैडेट्स ने अपनी कला का प्रदर्शन किया।

जिससे खुश होकर प्रबंधक अमित कुमार ने सबका परिचय लेते हुए उनकी हौसलाफजाई की। और कहा कि देश में जब भी आवश्यकता महसूस हुई, एनसीसी कैडेट्स ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया, चाहे वह कोई जागरूकता अभियान हो या सैन्य सहयोग से जुड़ा मामला हो। उन्होंने कहा कि शारीरिक श्रम के साथ ही बौद्धिक स्तर पर निर्णय लेने की क्षमता, सुदूर क्षेत्रों में जीवन की कठिनाइयों, टीम वर्क के साथ विशिष्ट लक्ष्य को प्राप्त करने में एनसीसी प्रशिक्षण सहायक होती है।

उन्होंने आगे कहा कि परेड में कैडेट्स का जो उत्साह दिख रहा है, यह उत्साह और मेहनत उनके वैयक्तिक विकास में भी सहायक होगी। इस अवसर उन्होंने सभी कैडेट्स को मेडल देकर सम्मानित करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर आदर्श महाविद्यालय, हरिहा कला के प्रबंधक जितेंद्र यादव, जयराम सहित कालेज के छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

Continue Reading

बलिया

छात्रा के साथ छेड़छाड़ का आरोपी गिरफ्तार, सिकंदरपुर पुलिस ने की कार्यवाही

Published

on

सिंकदरपुर पुलिस ने छात्रा से छेड़खानी और मारपीट करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा के साथ छेड़खानी की थी। मामले में कार्यवाही करते हुए पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को जेल भेजा है।

जानकारी के मुताबिक क्षेत्र के एक गांव की युवती महिला महाविद्यालय में बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा है। शुक्रवार को वह महाविद्यालय की बस से गांव स्थित काजीपुर चट्टी पर अपनी बहन तथा अन्य सहपाठी छात्राओं के साथ उतर कर घर जा रही थी। तभी उसके साथ छेड़खानी हुई।

चट्टी पर मौजूद भूपेंद्र राम नाम का आरोपी दोनों युवतियों के साथ छेड़छाड़ करने लगा। जब दोनों युवतियों ने इसका विरोध किया तो युवक ने गाली-गलौज की। इतना ही नहीं युवक ने एक छात्रा के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट तक कर दी। स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे तब तक आरोपी धमकी देते हुए बाइक से भाग निकला। छात्र के मुताबिक युवक कई दिनों से परेशान कर रहा था। छात्रा ने परिजनों को घटना के बारे में बताकर सूचना डायल 1090 को दी।

युवक को गिरफ्तार करने डायल 1090 युवक के घर पहुंची लेकिन युवक भाग गया। थोड़ी देर बाद जानकारी मिली कि युवक सिकंदरपुर की तरफ बाइक द्वारा कहीं भाग रहा है, जिस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए जलालीपुर चट्टी के समीप उसे पकड़कर थाने ले आई। पीड़िता के दिए तहरीर पर पुलिस ने संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर युवक को चालान कर दिया। मामले को लेकर सिकंदरपुर सीओ राजेश त्रिपाठी ने बताया कि मुदकमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!