Connect with us

बलिया

बलिया- ऐसे स्कूलों पर नहीं बनेगे सेंटर, पास होना है तो शुरू कर दें मेहनत, नकलविहीन होगी परीक्षा !

Published

on

बलिया: बोर्ड परीक्षा केंद्र निर्धारण को लेकर जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने कलेक्ट्रेट सभागार में सभी एसडीएम व माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों संग बैठक की। उन्होंने स्पष्ट कहा कि शासन की ओर से निर्धारित मानक पर खरा उतरने वाले विद्यालयों को ही परीक्षा केंद्र बनाया जाएगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि फिलहाल जिन 240 विद्यालयों को सेंटर बनाया जाना है, एसडीएम के नेतृत्व में बनी तहसील स्तरीय टीम एक-एक स्कूल को चेक करेगी। शासन के मानक के अनुसार जो नहीं मिलेगा, उस विद्यालय पर भी केंद्र नहीं बनेगा। इसके अलावा जहां बाहरी प्रान्त के छात्रों की संख्या ज्यादा होगी उन विद्यालयों पर भी तगड़ी निगहबानी होगी।

पास होना है तो शुरू कर दें मेहनत, नकलविहीन होगी परीक्षा

डीआईओएस ब्रजेश मिश्र ने भी स्पष्ट कर दिया है कि इस बार नकल की हर सम्भावनाओं को समाप्त कर दिया जाएगा। नकल करने या कराने का प्रयास भी किसी ने किया तो उस पर विभागीय के साथ सख्त कानूनी कार्रवाई भी होगी। इसलिए छात्र-छात्राएं भी अभी से मेहनत करना शुरू कर दें। बोर्ड परीक्षा पास करना है तो उसका एकमात्र सहारा पढ़ाई ही है। बाहरी छात्र भी अगर सिर्फ नकल के भरोसे ही यहां नामांकन कराए होंगे तो वे जान लें कि इस बार सख्त माहौल में नकलविहीन परीक्षा होगी। नकल की सोच मन में लेकर आएं ही नहीं तो बेहतर होगा। जीआईसी के प्रभारी प्रधानाचार्य, डीआईओएस आफिस के अतुल कुमार, संजय यादव, राजेन्द्र गुप्ता आदि मौजूद थे।

कौशल विकास मिशन कमेटी की बैठक

बलिया: कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को कौशल विकास मिशन कमेटी की बैठक में जिलाधिकारी एसपी शाही ने कहा कि हम सबका यह प्रयास हो कि जिले के अधिक से अधिक युवा किसी न किसी तकनीकी क्षेत्र में कुशल हों। उन्होंने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के क्रियान्वयन से सम्बंधित पूछताछ आईटीआई प्रिंसिपल से की। मिशन के तहत चल रहे कुछ केंद्र संचालकों से जरूरी जानकारी भी ली। जिलाधिकारी ने कहा कि कौशल विकास मिशन के तहत जिले में जो केंद्र चलते हैं, उनका समय-समय पर निरीक्षण भी होता रहे।

बैठक में सीडीओ विपिन जैन ने कहा कि बहुत जल्द जलजीवन मिशन में 12 हजार लोगों को ट्रेनिंग दी जानी है। इसमें इलेक्ट्रिशियन व फीटर ट्रेड वालों को ट्रेनिंग दी जाएगी। कौशल विकास मिशन व पेयजल स्वच्छता मिशन के सौजन्य से यह ट्रेंनिग दी जाएगी। कमेटी के सदस्य के रूप में सीए ईश्वरन, नेहरू युवा केन्द्र के शलभ उपाध्याय व केंद्र संचालक मौजूद थे।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन के तहत राज्यमंत्री ने 9 लाभार्थियों को बांटे 68 लाख के लोन

Published

on

बलिया। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत जिले के 9 लाभार्थियों को विकास भवन स्थित एनआईसी कक्ष में बुधवार को ऋण का स्वीकृति पत्र वितरित किया गया। बतौर मुख्य अतिथि संसदीय कार्य एवं ग्राम्य विकास राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने खादी ग्रामोद्योग विभाग के तीन तथा जिला उद्योग केंद्र के छह लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र दिया। लोन की सुविधा का लाभ लेने वाले लाभार्थियों को बधाई देते हुए रोजगार में सफल होकर आर्थिक उत्थान करने की शुभकामनाएं दी। बता दें कि लखनऊ में आयोजित एमएसएमई लोन मेला में मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम को जनपद स्तर पर एनआईसी कक्ष में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दिखाया गया। इस अवसर पर राज्यमंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि प्रदेश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम यूनिट्स ने अच्छा काम किया है, जिसका नतीजा है कि देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य और सर्वाधिक युवा होने के बाद भी बेरोजगारी दर सबसे कम है। सरकार ने पूरी पारदर्शिता से युवाओं को रोजगार से जोड़ा है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के स्पष्ट निर्देश ​है कि जिस प्रकार प्रदेश स्तर पर लोन मेला का आयोजन हुआ, उसी प्रकार जिले स्तर पर भी आयोजन हो। हम सबका प्रयास है कि अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार व स्वरोजगार से जोड़ा जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि पारदर्शी व सुविधाजनक तरीके से लोगों को लोन उपलब्ध कराया जाए।

ऋण का उपयोग इन धन्धों में करेंगे लाभा​र्थी– प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत जिला उद्योग केंद्र की ओर से रसड़ा निवासी राकेश श्रीवास्तव को पांच लाख रूपए रेडीमेड गारमेंट के लिए, नवानगर निवासी नवीन तिवारी को 25 लाख का ऋण इंटरलॉकिंग ईंट के धन्धे के लिए, बलिया शहर निवासी राणा यादव को पांच लाख आटा-चक्की उद्योग शुरू करने के लिए, माधोपुर रसड़ा निवासी अफजाल अहमद को दस लाख रूपए प्लम्बरिंग धन्धा के लिए मिला। इसके अलावा एक जनपद एक उत्पाद के तहत मुदासिर अंसारी व मकसूद अंसारी को कटिंग व टेलरिंग के लिए प्रशिक्षण व टूल किट का वितरण किया जा चुका है। इसी प्रकार खादी ग्रामोद्योग विभाग की ओर से मधु तिवारी निवासी सीताकुंड को तीन लाख रेडीमेड गारमेंट उद्योग शुरू करने के लिए तथा रामपुर असली, गड़वार निवासी संतोष सिंह व संदीप प्रजापति को दस-दस लाख का ऋण क्रमश: दोना—पत्तल मशीन लगवाने व सीमेंट ईंट उद्योग के लिए मिला है। इस अवसर पर डीएम अदिति सिंह, सीडीओ प्रवीण वर्मा, खादी ग्रामोद्योग अधिकारी रामसहाय प्रजापति व जिला उद्योग केंद्र के अधिकारी मौजूद थे।

Continue Reading

बलिया

बलिया- CM योगी की आपत्तिजनक तस्वीर पोस्ट करने वाला युवक गिरफ्तार

Published

on

बलिया। सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक आपत्तिजनक तस्वीर  पोस्ट करने के आरोप में  चौबे छपरा निवासी आदर्श चौबे को गिरफ्तार किया गया है।बताया गया है कि युवक सोशल नेटवर्किंग साइट्स  पर अनाप-शनाप पोस्ट करता रहता था।शिकायत पर पुलिस ने आरोपी युवक के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर उसको गिरफ्तार कर लिया है। अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव ने शनिवार को बताया कि फेसबुक पर शुक्रवार को जिले के रेवती क्षेत्र के चौबे छपरा गांव के आदर्श चौबे ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का एक आपत्तिजनक

तस्वीर पोस्ट कर दिया। पुलिस ने इसकी जानकारी मिलने के बाद छानबीन की तथा इसके बाद शनिवार को रेवती थाना में उप निरीक्षक बीपी पांडेय की शिकायत पर आदर्श चौबे के ख़िलाफ़ सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज किया गया है. थाना प्रभारी यादवेंद्र पांडेय ने बताया कि पुलिस ने आरोपी आदर्श चौबे को गिरफ्तार कर लिया है।प्रभारी निरीक्षक पाण्डेय ने बताया कि थाना क्षेत्र के चौबे छपरा निवासी आदर्श चौबे उर्फ छोटू ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का फोटो महिला के रूप में बनाकर पोस्ट कर दिया था।

यही नहीं एनएच 31 पर चलने पर गान लाल जैसे पोस्ट भी किया है। बताया कि मुखबीर की सूचना पर एसआई बीपी पाण्डेय, राम अनन्त यादव,सोनू रजक आदि की टीम ने उक्त आदर्श चौबे को गंगा पाण्डेय के टोला से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने धारा 504,505 तथा 67 आईटी एक्ट के तहत मामला पंजीकृत कर गिरफ्तार आरोपी को चालान न्यायालय कर दिया।

Continue Reading

featured

अंबिका चौधरी ने बसपा छोड़ा तो उमाशंकर सिंह ने भी बड़ी बात कह दी

Published

on

बलिया। अंबिका चौधरी के बसपा से इस्तीफा देते ही जिले में राजनीतिक हलचल मच गई है। अब अंबिका चौधरी पर बसपा विधानमंडल दल के उप नेता और रसड़ा से बसपा विधायक उमाशंकर सिंह ने कई आरोप लगाए हैं।

उमा शंकर सिंह ने अपने बयान में क्या कहा है? -उमाशंकर सिंह ने अंबिका चौधरी पर विश्वासघात का आरोप लगाते हुए कहा, ‘अंबिका ने अपने आचरण के अनुरूप कदम उठाया है जब उन्हें सपा से निकाल दिया गया तो बसपा ने उन्हें सम्मान दिया और अपने अपने क्षेत्र से अपना उम्मीदवार बनाया और अब उन्होंने ऐसा किया है। अंबिका चौधरी के बेटे आनंद चौधरी के चुनाव जीतने का जिक्र करते हुए उमाशंकर सिंह ने आगे कहा, ‘उनके बेटे आनंद बसपा के उम्मीदवार के रूप में ही चुनाव जीते और उन्हें बसपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद हेतु अपना उम्मीदवार भी घोषित कर दिया था’

बसपा में नाराजगी है? जाहिर है उक्त बयान से बसपा की नाराजगी भी साफ झलक रही है। उमाशंकर सिंह का ऐसा कहना बताता है कि बसपा में अंबिका चौधरी के इस कदम को लेकर काफी रोष है। बताते चलें कि 19 जून को ही समाजवादी पार्टी ने आनंद चौधरी को अपना अधिकृत जिला पंचायत अध्यक्ष पद का प्रत्याशी बनाया है। आनंद अंबिका चौधरी के बेटे हैं और वार्ड नंबर से जिला पंचायत सदस्य हैं। आनंद चौधरी के सपा प्रत्याशी बनते ही अंबिका चौधरी ने भी बसपा से इस्तीफा दे दिया। जिले में एक ही दिन में यहा दो बड़ी राजनीतिक घटनाएं हुई जिसकी चर्चा बनी हुई है

Continue Reading

TRENDING STORIES