Connect with us

Uncategorized

बदले समीकरणों के बलिया में गठबंधन ने दी भाजपा को कड़ी टक्कर !

Published

on

लोकसभा चुनाव 2019 के सातवें चरण के ल‍िए 19 मई रव‍िवार को वोट डाले गए. यहां पर 53.51 प्रतिशत वोट डाले गए.

बलिया प्राचीन समय में कोसल साम्राज्य का एक भाग था। यह भी कुछ समय के लिए बौद्ध प्रभाव में आया था। पहले यह गाजीपुर जिले का एक हिस्सा था, लेकिन बाद में इसे जिला बना दिया गया। बलिया को राजा बलि की धरती मानी जाती हैं। उन्ही के नाम पर इसका नाम बलिया पड़ा।

भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में इस जिले के निवासियों के विद्रोही तेवर के कारण इसे बागी बलिया के नाम से भी जाना जाता है। यह क्षेत्र गंगा और घाघरा के बीच के जलोढ़ मैदानों में स्थित है।

भारत के पूर्व प्रधान मन्त्री चन्द्रशेखर भी इसी जिले के मूल निवासी थे। आपात काल के बाद हुई क्रांति के जनक तथा महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जयप्रकाश नारायण भी इसी जिले के मूल निवासी थे। समाजवादी चिंतक तथा देश में ‘छोटे लोहिया’ के नाम से विख्यात जनेश्वर मिश्र भी यही के निवासी थे।

बलिया का चुनावी इतिहास भी काफी रोचक रहा है। 1977 में जब चंद्रशेखर पूरी तरह राजनीति में सक्रिय हुए तब से आठ बार अकेले चंद्रशेखर ही यहां के प्रतिनिधि चुने गए। उनके गुजरने के बाद दो बार उनके पुत्र को बलिया की जनता ने अपना आशीर्वाद दिया। चंद्रशेखर के निधन के बाद 2007 में उपचुनाव कराये गए थे, जिसमें उनके बेटे नीरज शेखर को जीत मिली थी। उसके बाद 2009 के लोकसभा चुनाव में भी नीरज शेखर जीत दर्ज करने में कामयाब रहे थे।

पिछली बार 2014 के लोकसभा चुनाव में बलिया की जनता ने पहली बार भाजपा प्रत्याशी को जिताया। एक तरीके से यह कहा जा सकता है कि पहली बार इस क्षेत्र में चंद्रशेखर की विरासत के खिलाफ वोट पड़ा। चंद्रशेखर 10 नवंबर, 1990 में देश के नौंवे प्रधानमंत्री बने थे, लेकिन गठबंधन की सरकार महज सात महीने ही चल पाई और 21 जून 1991 को चंद्रशेखर सरकार गिर गई।

इस बार भाजपा ने अपनी प्रत्याशी बदल दिया है और यहां से विरेंद्र सिंह मस्त यहां से चुनाव लड़ रहे हैं। समाजवादी पार्टी से सनातन पांडेय चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

पिछली बार के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के भरत सिंह यहां से विजयी हुए थे। भरत सिंह को 359,758 वोट मिले थे। दूसरे नंबर पर समाजवादी पार्टी के नीरज शेखर थे, उन्हें 2,20,324 वोट मिले थे। तीसरे नंबर कौमी एकता दल के अफजल अंसारी थे। अफजल को 1,63,943 वोट मिले थे। बसपा प्रत्याशी विरेंद्र चौथे नंबर पर थे।

बलिया 1952 में गाजीपुर के साथ संयुक्त संसदीय क्षेत्र के रूप में शामिल था और राम नगीना सिंह यहां से पहले सांसद बने थे।

2014 के आंकड़ों के मुताबिक यहां पर कुल 17,68,271 मतदाता हैं, जिनमें 973,384 पुरुष और 7,94,830 महिला मतदाता है।

बलिया लोकसभा सीट पर सवर्ण मतदाताओं की संख्या सबसे अधिक है। बलिया मुस्लिम आबादी लगभग सात प्रतिशत है। यहां पर ईसाइयों की आबादी है।

सपा-बसपा गठबंधन के बाद चुनावी समीकरण काफी बदल गए हैं। इसलिए सपा प्रत्याशी सनातन पांडेय  ने भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी को कड़ी टक्कर दी हैं।  वैसे अब 23 मई को ही तय होगा की बलिया का नया सिकंदर कौन होने वाला है ।

 

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

Uncategorized

Ballia- खबर का असर, तमंचे पर डिस्को करने वाला युवक गिरफ्तार

Published

on

बेलथरा रोड। अवैध तमंचा लहराने का वीडियो वायरल होने के मामले में बलिया खबर की खबर का असर हुआ है। जहां अब उभाव थाना क्षेत्र की पुलिस ने कार्रवाई की है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। आकाश यादव और अरविंद गोंड को तुर्तीपार रेगुलेटर से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने अवैध तमंचा और कारतूस भी बरामद कर लिया गया है।

जिसके बाद अब आगे की कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि उभाव थाना क्षेत्र के अंतर्गत तुर्तीपार पर गांव में एक ब्रह्मभोज कार्यक्रम में वीडियो में हाथ में तमंचा लेकर डांस करते युवक का वीडियो सामने आया था। और इस वीडियो को बलिया खबर ने सोशल मीडिया के जरिये शेयर किया था। जिसके वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की है।

जिसमें उभांव पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आकाश यादव और अरविंद गोंड को तुर्तीपार रेगुलेटर से रात्रि को गिरफ्तार कर लिया है। तमंचा और कारतूस भी बरामद कर लिया गया है। अब पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।

Continue Reading

Uncategorized

बलिया- दबंगों से परेशान नौजवान ने गंगा में लगाई झलांग, पुलिस की मुस्तैदी से बची जान !

Published

on

बलिया। जनेश्वर मिश्र सेतु से कूदकर एक युवक ने आत्महत्या करने की कोशिश की। गनीगत रही कि पीकेट पर तैनात दुबहर थाने की पुलिस ने युवक को देख लिया और तत्काल नौकायान करते मल्लाहओ के सहयोग से उसे बाहर निकाल लिया। वहीं युवक का कहना है कि वह एक जन्मदिन में पार्टी में गया। जहां उसके साथ मारपीट की गई। जिससे आहत होकर उसने आत्महत्या करने का फैसला लिया। मामले में पुलिस ने परिजनों को युवक की जानकारी दी और युवक को उन्हें सौंप। फिलहाल पुलिस को मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है।

जानकारी के मुताबिक शहर के कृष्णा नगर जापलीन गंज थाना कोतवाली निवासी रोहित कुमार पाण्डेय (18 साल) पुत्र परमात्मा नंद पांडे शुक्रवार की शाम लगभग 5 बजे जनेश्वर मिश्र सेतु पर पहुंचा और गंगा नदी में छलांग लगा दी। उसे छलांग लगाता देख पास ही पिकेट पर तैनात दुबहर थाने के सिपाही ने देख लिया। शोर मचाते हुए नदी में नौका पर सवार मल्लाहो को घटना की जानकारी दी। मल्लाहों ने तुरन्त युवक को नदी से बाहर निकालने में जुट गए । तत्काल ही रोहित को बाहर निकाला गया। तब तक दुबहर थाने के थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए।

घटना के कारण के बारे में रोहित ने दुबहर थानाध्यक्ष सिंह को बताया कि वह एक युवक के घर जन्मदिन की पार्टी में गया था। जहां अकारण उसकी बेल्ट से पिटाई की गई। इससे दुःखी होकर उसने आत्महत्या करने का फैसला लिया और उसने गंगा नदी में छलांग लगा दी। पुलिस ने युवक के परिजनों को सूचना देकर बुलाया और युवक को सौंप दिया। इस सम्बंध में पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है।

Continue Reading

Uncategorized

चाय समोसे की दुकान पर अवैध शराब की बिक्री! पुलिस ने दबिश देकर तस्कर को पकड़ा

Published

on

बेलथरा रोड। अवैध शराब के परिवहन और बिक्री पर लगाम लगाने के लिए बलिया पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है। इसी बीच पुलिस ने सुबह बड़ी कार्यवाही करते एक चाय-नाश्ते की दुकान पर दबिश दी और अवैध शराब तस्कर को गिरफ्तार किया।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने तस्कर के पास से कई शराब की बोतलें की बरामद की हैं। उभांव थाने के प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेश्वर मिश्र और आबकारी निरीक्षक विनोद कुमार एवं निर्मल श्रीवास्तव ने पूरी कार्यवाही की।

अधिकारियों ने कार्यवाही करते हुए अखोप चट्टी नहर के पास स्थित चाय-समोसे की दुकान पर दबिश दी। तो दुकान में मौजूद एक व्यक्ति झोले को छुपाने का प्रयास करने लगा। टीम ने झोले सहित व्यक्ति को पकड़ लिया गया। जब झोले को खोला गया तो उसमें से कुल 28 शीशी बंटी-बबली लाइम ब्रांड देसी शराब बरामद हुई।

हालांकि वो अंग्रेजी ठेके के शराब से भिन्न पाई गई। अभियुक्त सतीश कुमार मौर्या पुत्र रामनयन मौर्या निवासी अखोप चट्टी को जेल भेज दिया गया। फिलहाल पूरे मामले में कार्यवाही जारी है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!