Connect with us

बांसडीह

बलिया- मऊ को 28 रनों से हराकर गाजीपुर सेमीफाइनल में पंहुची

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया के चिलकहर में चल रही अंतर्राज्यीय 20-20 क्रिकेट प्रतियोगिता में बृहस्पतिवार को गाज़ीपुर क्रिकेट एकेडमी ने अभिषेक के शानदार 62 रनों की बदौलत मऊ को 28 रनों से पराजित कर सेमी फाइनल में प्रवेश कर लिया ।

टॉस जीतकर गाज़ीपुर क्रिकेट एकेडमी के कप्तान ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट की क्षति पर 149 रन बनाए, जिसमें अभिषेक ने 62 रन (16,64) सौरव ने 25 (16,44) तथा विशाल ने 21(14,61) रनों का योगदान दिया।मऊ की तरफ से गेंदबाजी करते हुए निगम व राहुल ने क्रमशः 2-2 तथा आलोक व अवनीत ने 1-1 विकेट प्राप्त किए।

150 रनों के जवाब में खेलने उतरी मऊ की पूरी टीम गाज़ीपुर क्रिकेट एकेडमी की साधी गेंदबाज़ी के आगे 121 रनों पर आल आउट हो गई , जिसमे गामा ने 30 रन (62) , राहुल ने 25 रन (43) बनाएं, गाज़ीपुर क्रिकेट एकेडमी की ओर से अश्विनी व विशाल यादव ने 2-2, सौरव,अजय तथा अभिनव ने 1-1विकेट प्राप्त किए , अश्विनी ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में एक मेडन के साथ मात्र 10 रन दिए ।

रिपोर्ट- विनय राठौर

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बांसडीह

बलिया- मनियर से किशोरी किडनैप, तांत्रिक पर लगा आरोप, तलाश में पुलिस

Published

on

बलिया। एक किशोरी के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है। अपहरण का आरोप एक तांत्रिक पर लगा है। फिलहाल स्थानीय पुलिस ने मनियर निवासी अभिजीत उर्फ जोगा बाबा नामक व्यक्ति के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर किशोरी का पता लगा लिया जाएगा। एसएचओ यादवेंद्र पांडेय का कहना है कि इलाके की एक 17 वर्षीय किशोरी 29 जून को मनियर में स्थित ब्रह्म बाबा के स्थापन पर गयी थी।

वहां पर झाड़-फूंक करने वाले जोगा ने लड़की को गायब कर दिया। पहले तो परिजनों ने उसकी खोजबीन की, लेकिन जब सुराग नहीं लग सका तो मामले से पुलिस को अवगत कराया। घरवालों की तहरीर पर तांत्रिक के खिलाफ धारा 363 व 366 के तहत केस दर्ज कर आरोपित व किशोरी की तलाश की जा रही है। मामले में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस जल्द ही किशोरी को बरामद करने का दावा कर रही हैं। हालांकि देखना होगा कि पुलिस को कब तक मामले में कामयाबी हाथ लगती है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया- विवाहिता की संदिग्ध मौत, दहेज हत्या का मामला दर्ज

Published

on

बलिया। बांसडीहोड थाना क्षेत्र में विवाहिता की मौत का सनसनी खेज मामला सामने आया है। जहां फंदे पर विवाहिता का शव मिला है। और ससूराल पक्ष पर दहेज को लेकर हत्या करने का आरोप लगा है। फिलहाल पुलिस ने शव को फंदे से उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। और मामले की जांच शुरू कर दी है। मामला छोटकी सराक गांव के राजभर बस्ती का है, जहां घर के कमरे में पंखे के लिए लगे हुक में विवाहिता का शव लटका मिला। बताया जा रहा है कि छोटकी सराक गांव निवासी राजमुनि देवी (21) पत्नी जयप्रकाश राजभर बुधवार को घर में अकेले थी।

घर के परिजन खेतों में काम करने गए थे। शाम में लोग घर लौटे तो विवाहिता के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। आवाज लगाने पर अंदर से कुछ आहट नहीं मिलने पर खिड़की से देखा तो महिला पंखे के हुक में लटकती हुई मिली।
घटना की जानकारी के बाद गांव में सनसनी फैल गई। मौके पर काफी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को हुक से उतारा और पोस्टमार्टम के लिए भेजा। उधर, देर रात घटना की सूचना पाकर थाने पहुंचे मृतका के पिता अमर राजभर ने बेटी की हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी।

थानाध्यक्ष सुनील लांबा ने बताया कि मृतका के पिता की शिकायत पर पुलिस ने सास और ससुर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। साथ ही पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है। सभी के बयान लिए जा रहे हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर पुलिस की जांच में और तेजी आ जाएगी। और जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

Continue Reading

featured

बलिया के रहने वाले BSF के डीआईजी अरूण सिंह को गृहमंत्री ने दिया पदक, इस सेवा के लिए मिला सम्मान

Published

on

बलिया के खेवसर गांव के रघुवरनगर गांव निवासी बीएसएफ के डीआईजी अरुण कुमार सिंह को गृह मंत्री अमित शाह ने सम्मानित किया है। उन्हें अदम्य साहस, शौर्य, वीरता व उत्कृष्ट सेवा के लिए सम्मानित किया गया है। पिछले दिनों दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित समारोह में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देश के कुल 23 अधिकारियों को पदक देकर सम्मानित किया था। जिसमें डीआईजी अरुण कुमार सिंह भी शामिल थे।

बता दें कि सीमा सुरक्षा बल उत्तरी के उपमहानिरीक्षक अरुण सिंह इस समय राजस्थान के जैसलमेर में तैनात हैं। उनके पिता नन्दकुमार सिंह भी सेना से सेवानिवृत्त डेंटल सर्जन है। अरुण सिंह में शुरुआत से ही देशसेवा का जज्बा था। उन्होंने कड़ी मेहनत की, पुलिस अधिकारी बने और जनता की सेवा में लगे रहे। पुलिस सेवा के दौरान उन्होंने साहस का परिचय दिया। सूझबूझ से अपनी ड्यूटी निभाई। इसी उत्कृष्ट सेवा के लिए गृहमंत्री ने उन्हें पदक देकर सम्मानित किया है।

वहीं अरूण सिंह को पदक मिलने पर गांव मे खुशी है। गांव के प्रधान अवधपुरी, सोनू पांडे, अरुण मिश्र आदि ने बधाई दी है। अरूण सिंह सभी युवाओं के प्रेरणा हैं। एक छोटे से गांव से निकलकर उन्होंने दिन रात मेहनत कर पुलिस सेवा में बड़ा पद पाया और अब उन्हें खुद केंद्रीय गृहमंत्री ने सम्मानित किया। इसको लेकर गांव का हर परिवार जश्न मना रहा है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!