Connect with us

Uncategorized

खो’खला दावा- 15 नवंबर तक सड़कों को गड्ढा-मु’क्त करना नामुमकिन, ऐसा है बलिया का हाल

Published

on

बलिया डेस्क: धरातल पर सड़कें गड्ढामुक्त करने का लाख दावा कर लें मुख्यमंत्री, नामुमकिन है। सरकार बनने के बाद पहले 15 जून 2017 तक गड्ढामुक्त करने की कवायद और अब 15 नवंबर तक सारी सड़कें गड्ढामुक्त करने का दावा एकदम कोरा और खोखला ही साबित होने वाला है। क्योंकि यह सिर्फ कागजों में मुमकिन है। हकीक़त से कोसो दूर। किसी भी सूरत में सड़कें 15 नवंबर तक गड्ढामुक्त नहीं हो सकता।

आलम यह है कि चुनिंदा सड़कों को छोड़ दिया जाय तो मुख्य मार्ग से लेकर संपर्क मार्ग, यहां तक कि नेशनल हाईवे में भी ऐसे-ऐसे गड्ढे है जो न सिर्फ बड़ी घटना का सबब बन सकते हैं, बल्कि अधिकारियों को भी सवालों के कटघरे में खड़ा करने के काफी हैं। हल्दी विकास खंड के बेलहरी अंतर्गत पिंडारी गांव में जाने वाले मुख्य मार्ग को 2001 में तत्कालीन विधायक भरत सिंह ने बनवाया था।

आज इसकी हालत बेहद खराब है। वहीँ रसड़ा क्षेत्र के गांवों को जोड़ने वाले अधिकांश संपर्क मार्ग जर्जर है। बलिया-लखनऊ मार्ग पर भी माधोपुर से चिंतामणि पुर तक जाने वाली सड़क की हालत बुरी है। अमर पट्टी दक्षिण से जाम को जाने वाली सड़क एवं ग्रामसभा माधोपुर के बन टोला हरिजन बस्ती में स्थित प्राइमरी स्कूल तक जाने वाली सड़क बदहाल है।

इसके अलावा मनियर बांसडीह व मनियर सिकंदरपुर के मुख्य मार्ग पर जगह-जगह गड्ढा हो गया है। बेल्थरारोड क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले लगभग सभी मार्ग जर्जर है। सीयर-पशुहारी मार्ग, कुंडैल-बहोरवा मार्ग, डीएसपी हेड मार्ग, फरसाटार-तेलमा- शाहपुर मार्ग समेत अनेक मार्ग जर्जरावस्था में दुर्घटना को दावत दे रहे हैं। सहतवार क्षेत्र के बिसौली मार्ग से बरियारपुर बेउर जाले वाली संपर्क मार्ग लगभग चार साल पहले बनी थी।

आज बेहद खराब हालत में है। बैरिया क्षेत्र अंतर्गत सुरेमनपुर-नारायणगढ़, भिखाछपरा-रानीगंज बाजार आदि दर्जनों सड़के जर्जर व गड्ढायुक्त हो गयी है। बड़ी बात यह है कि प्रदेश के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार उपेंद्र तिवारी के क्षेत्र की सड़कों की हालत भी कमोबेश ऐसी ही है। फेफना विधानसभा में कपिलेश्वरी भवानी मंदिर से गंगहरा तक लगभग डेढ़ किमी का रास्ता इतना जर्जर है कि पैदल चलना भी ख’तरे से खाली नहीं है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uncategorized

कोरोना से बचाव में बलिया ने किया कमाल, सीएम योगी ने की तारीफ़!

Published

on

बलिया: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं व विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कोरोना के रोकथाम के प्रयासों की भी जानकारी ली। लोकसभा सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त व रविन्द्र कुशवाहा, राज्यसभा सदस्य नीरज शेखर व सकलदीप राजभर के अलावा बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह, सिकन्दरपुर विधायक संजय यादव, बेल्थरा विधायक धनंजय कन्नौजिया, रसड़ा विधायक उमाशंकर सिंह भी जुड़े थे। इस सभी जनप्रतिनिधियों से मुख्यमंत्री ने जिले के विकास कार्यों व योजनाओं के बारे में फ़ीडबैक लिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना पर अंकुश पहले में बलिया में बढ़िया काम हुआ है। उन्होंने इसके लिए नोडल अधिकारी रंजन कुमार व सुजीत कुमार तथा जिलाधिकारी एसपी शाही की सराहना की। आगे भी लोगों को जागरुक करते रहने के लिए विभिन्न कार्यक्रम कराए जाने के निर्देश दिए।

समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री जी ने जिला प्रशासन को निर्देश दिए कि योजनाओं का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन हो। विकास कार्यों व बड़ी परियोजनाओं के निर्माण में गतिशीलता और गुणवत्ता बनी रहे जनशिकायतों के त्वरित समाधान के लिए तहसील व थाना समाधान दिवस शुरू कर जनता को न्याय दिलाएं। जहां विवाद हो वहां पहले से ही पाबंदी की कार्रवाई कर लें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर परियोजना के लिए एक-एक नोडल अधिकारी तैनात किया जाए, ताकि उसकी गुणवत्ता व समयबद्धता पर नजर रखी जा सके। जिले में अमृत योजना या पेयजल की कोई स्किम है तो उसकी प्रगति बनी रहे। उन्होंने कहा कि बलिया आर्सेनिक प्रभावित इलाका है।

इस समस्या के समाधान के लिए अधिकारी जनप्रतिनिधियों से सम्पर्क स्थापित कर प्रस्ताव बनवा लें। यह भी निर्देश दिए कि यूरिया व डीएपी की कालाबाजारी नहीं हो सके, इस पर खास ध्यान दें। खाद्यान्न वितरण पूरी पारदर्शी तरीके से हो। कहीं भी कोई शिकायत की नौबत नहीं आनी चाहिए।

विकास कार्यों के सम्बंध में कहा, ई-टेंडरिंग के माध्यम से पारदर्शी तरीके से ही कोई काम कराएं। शासन स्तर पर लंबित मामले भी निपटा कर विकास कार्यों के लिए तत्काल धन आवंटित करने के निर्देश लखनऊ में मौजिद शासन स्तर से अधिकारियों को दिया।

कोविड-19 में मण्डल में अव्वल रहा बलिया- मुख्यमंत्री जी ने कोविड-19 के प्रसार पर रोकथाम के प्रयासों की समीक्षा की। मण्डलायुक्त ने बताया कि बलिया में कोरोना पर काफी कंट्रोल है। कुल जांच के मुकाबले 5.96 प्रतिशत पॉजिटिव केस मिल रहे हैं। कुल 4267 केस में 12 प्रतिशत एक्टिव केस रह गए हैं। जिले में बसन्तपुर में एल-2 अस्पताल का काम करीब पूरा हो चुका है। सिर्फ एकाध मशीनें आनी बाकी है, जिसके लिए जिलाधिकारी स्वयं नजर बनाए हुए हैं। मण्डल के तीनों जिलों में बलिया की स्थिति बेहतर रही।

 

Continue Reading

Uncategorized

बलिया में छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़, एग्ज़ाम में सवाल ज़्यादा, समय कम!

Published

on

बलिया डेस्क : जननायक चंद्रशेखर यूनिवर्सिटी से संबद्ध सभी महाविद्यालय में लास्ट ईयर और सेमेस्टर का एग्ज़ाम आज 7 तारीख़ से शुरू हो गया है लेकिन इसके साथ ही छात्रों के लिए एक बड़ी परेशानी झेलने पड़ रही है. दरअसल मामला कुछ यूँ है कि पहला एग्ज़ाम ख़त्म होने के साथ ही छात्रों ने शिकायत की है कि इस एग्ज़ाम में वक़्त कम दिया गया है जिसकी वजह से तमाम छात्रों के सवाल छूट गए.

छात्रों की शिकायत है कि यूनिवर्सिटी ने एग्ज़ाम के लिए जो वक़्त निर्धारित किया है, सवालों के हिसाब से वह बेहद कम है और तय समय में पूरा पेपर कर पाना काफ़ी मुश्किल है. आज कई छात्रों के तमाम सवाल कम वक़्त होने की वजह से छूट गए.

ऐसे में छात्रों ने परीक्षा नियंत्रक और यूनिवर्सिटी प्रशासन से अपील की है कि एग्ज़ाम के लिए निर्धारित समय सीमा को बढ़ाया जाए ताकी किसी भी छात्र का कोई सवाल न छूट पाए और उनका रिज़ल्ट ख़राब न हो. छात्रों का कहना है कि यह सवाल हमारे भविष्य से जुड़ा है.

ऐसे में यूनिवर्सिटी को तत्काल इस दिशा में कदम उठाना होगा. इसके अलावा छात्रों ने परीक्षा नियंत्रक के नाम एक लेटर भी लिखा है और कल यूनिवर्सिटी जाकर उनसे मुलाक़ात भी करेंगे. ऐसे में देखना है इस मामले में प्रशासन क्या फ़ैसला लेता है लेकिन इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि अगर निर्धारित समय सीमा में सुधार नहीं हुआ तो छात्रों का काफ़ी नुक़सान हो सकता है.

Continue Reading

Uncategorized

बेरोजगारी के खिलाफ बलिया कांग्रेस ने ताली-थाली बजाकर कर किया प्रदर्शन

Published

on

बलिया डेस्क : युवा कांग्रेस और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने शनिवार को बेरोजगारी के खिलाफ ताली-थाली बजाकर पैदल मार्च किया और  ताली व थाली बजाकर विरोध प्रदर्शन किया।   बलिया शहर में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन देश में बढ़ती बेरोजगारी, लूट, हत्या व महंगाई के खिलाफ कार्यकर्ता सड़क पर उतर गए और प्रदर्शन किया।

कार्यकर्ताओं ने कहा कि भाजपा सरकार देश के युवाओं के भविष्य के साथ खेल रही है।  पार्टी कार्यकर्ता अब सड़क पर उतरकर केंद्र व प्रदेश सरकार की नाकामी गिनाएगी। युवाओं के साथ धोखा किया जा रहा है। रोजगार देने के नाम पर सत्ता में आई भाजपा अब रोजगार छीनने पर तुली हुई है।

कांग्रेस युवाओं की आवाज सड़क से लेकर संसद तक मजबूती से उठाएगी। जो सरकार रोजगार न दे सके उसे सत्ता में रहने का कोई हक नहीं है। सभी ने एक सुर में कहा की छात्रों की हक की लड़ाई लड़ने में अगर जेल भी जाना पड़े तो वह पीछे नहीं हटेंगे।  इस मौके पर कांग्रेस के तमाम कार्यकता मौजूद रहे।

 

Continue Reading

Trending