Connect with us

बलिया स्पेशल

क्या बलिया पुलिस के नाक के निचे चल रहा था फ़र्ज़ी बैंक से पैसा लूटने का कारोबार?

Published

on

बलिया में  क्या पुलिस के नाक के निचे चल रहा था फ़र्ज़ी बैंक ?  जी हाँ  फर्जी बैंक का खुलासा होने के बाद बलिया पुलिस और लोकल इंटेलिजेंस सवालों के घेरे में है  ? ऐसा कैसे हो सकता है 2 महीने से चल रहे फ़र्ज़ी बैक के बारे में पुलिस को कानो कानो तक खबर नहीं हुई? कई ऐसे सवाल हैं जो बलिया पुलिस से पूछे जाने जरुरी है।

हालंकि पुलिस ने इस केस में मुतैदी दिखाते हुए मुलायम नगर में कर्नाटका बैंक की फर्जी शाखा चला रहे वयक्ति को बुधवार की दोपहर गिरफ्तार कर लिया। उस पर लाखों रुपये की ठगी करने का आरोप है।

उसके पास से फर्जी दस्तावेजों के साथ तीन कंप्यूटर, एक लैपटाप,184 पासबुक समेत एक लाख 37 हजार रुपये कैश व अन्य सामान बरामद हुए।  दिल्ली से आए कर्नाटका बैंक के असिस्टेंट जनरल मैनेजर बीवीएच उपाध्याय की तहरीर पर कोतवाली में फर्जी शाखा प्रबंधक के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है। वहां काम कर रही तीन महिलाओं को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही थी।

उप्र के बदायू जिले के भंद्रा थाना के उसहरपुर निवासी अफाक अहमद पुत्र अंसार अहमद ने फर्जी नाम विनोद कुमार कांबले, निवासी बिखरौली ईस्ट, मुंबई की आईडी बनाकर करीब एक माह पूर्व जिले के फेफना थाने के गड़वार रोड स्थित मुलायम नगर में 32 हजार रुपये मासिक किराये पर मकान लिया और उसमें कर्नाटका बैंक की फर्जी शाखा खोली थी।

यहां ग्राहकों से पैसा जमा कराने के साथ वह ग्रामीण इलाकों में फ्रेंचाइजी खोलने के लिए आवेदन भी ले रहा था। फ्रेंचाइजी की सिक्योरिटी के रूप में 60 हजार रुपये की डिमांड करता था। मंगलवार को एक व्यक्ति ने फ्रेंचाइजी के लिए उससे मुलाकात की और उस बारे में जानकारी ली।

अब पुलिस का प्रयास पर्दें के पीछे से पूरे ‘खेल’ को अंजाम देने वालों तक पहुंचना है। जांच में जुटी पुलिस बैंक से मिले रिकार्ड तथा मोबाइलों को खंगाल रही है।

 

पुलिस की जांच में यह भी तथ्य सामने आया है कि इस गिरोह के सम्पर्क में कुछ स्थानीय लोग भी है जिनकी मदद से फर्जी बैंक खोला गया था। छापेमारी के दौरान पुलिस के हाथ लगे कम्प्यूटर, लैपटॉप व मोबाइल के जरिये पुलिस अंदरखाने तक पहुंचने का प्रयास कर रही है।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मोबाइल के सीडीआर (कॉल डिटेल्स रिकार्ड) निकलवाये जा रहे हैं। कथित बैंक मैनेजर के मोबाइल के जरिये ही पुलिस गिरोह के बाकी सदस्यों के बारे में सुराग लगा रही है।

फर्जी बैंक में फर्जी नाम व पता के सहारे लोगों को चूना लगा रहा अफाक अहमद शहर में होटल में रहता था। पुलिस सूत्रों की मानें तो वह पहले जिस होटल में रहता था उसे चार-पांच दिनों पहले छोड़ दिया था। वर्तमान समय में वह रेलवे स्टेशन के सामने के एक होटल में रहता था। फर्जी बैंक में हुई छापेमारी में गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने होटल में पहुंचकर उसके कमरे की भी तलाशी। छानबीन में आरोपित के कमरे से बड़ी संख्या में बैंक के दस्तावेज व फर्जी प्रमाण पत्र हाथ लगे हैं।

फर्जी बैंक का भंडाफोड़ होने के बाद से लोग सकते में हैं। शहर के साथ ही चट्टी-चौराहों पर चल रही माइक्रो फाइनेंस कम्पनियां अब तक कई लोगों को चूना लगाकर फरार हो चुकी हैं। जानकारी के अभाव में लोग कम्पनियों के एजेंटों के जॉल में फंस जाते हैं, जबकि पुलिस-प्रशासन बगैर शिकायत उनकी जांच-पड़ताल नहीं करती।

वैसे फर्जी बैंक पकड़े जाने का पहला मामला नहीं है। कुछ माह पूर्व बिल्थरारोड व कुछ साल पहले सिकन्दरपुर कस्बे से फर्जी माइक्रो फाइनेंस कम्पनियां लोगों को लाखों रुपये का चुना लगाकर फरार हो गयी गयी थी। इंवेस्टमेंट में ज्यादा लाभ का झांसा देकर कंपनियों के संचालक लोगों की खून-पसीने की कमाई को जमा कराते हैं। इसके लोकल लोग एजेंट के रुप में काम करते हैं तथा वही गांव-घर व नाते-रिश्तेदारों का पैसा जमा कराते हैं। लाखों रुपये हो जाने के बाद जालसाज अचानक गायब हो जाते हैं। जालसाजों के फेर में रुपये गंवाने वाले इंसाफ के लिए थानों का चक्कर लगाते हैं, लेकिन उनका पैसा मिलना मुमकिन नहीं हो पाता।

फर्जी कर्नाटक बैंक का पर्दाफाश हो जाने के बाद से लोगों में चर्चाएं तेज हो गयी है। वर्तमान समय में भी दर्जनों जगहों पर माइक्रो फाइनेंस कम्पनियों का संचालन हो रहा है। शुरुआती दौर में आसानी से अधिक लाभ का भुगतान देकर कंपनी संचालक अपने एजेंट्स व ग्राहकों की संख्या बढ़ाते है। विश्वास पक्का करने के बाद संचालक पैसा समेटकर भाग जाते हैं। खास बात यह है कि फर्जी बैंक संचालन महिलाओं को झांसा देकर एजेंट बनाते हैं। कम्पनियों की ओर से दिये गये लक्ष्य को पूरा करने के लिये एजेंट अपने परिचितों, रिश्तेदारों से रुपए जमा कराती हैं।

 

Advertisement src="https://kbuccket.sgp1.digitaloceanspaces.com/balliakhabar/2022/10/12114756/Mantan.jpg" alt="" width="1138" height="1280" class="alignnone size-full wp-image-50647" />  
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

featured

बलिया पुलिस का ट्विटर हैंडल 24 घंटे बाद भी नहीं हुआ रिकवर !

Published

on

बलिया। बलिया पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को हैक हुए 24 घंटे से ज्यादा बीत चुके हैं लेकिन अब तक सफलता हाथ नहीं लगी है.  ट्विटर अकाउंट कब तक रिकवर हो जाएगा इस पर कोई भी उच्च अधिकारी बात करने को तैयार नहीं है. हालांकि बलिया पुलिस दावा है कि जांच प्रणाली तैयार कर ली गई है और हैक किए गए ट्विटर हैंडल को जल्द से जल्द बहाल किया जाएगा.

बता दें कि हैकर्स ने बलिया पुलिस का आधिकारिक ट्विटर अकाउंट बृहस्पतिवार की भोर में हैक किया गया है. हैकर्स ने अकाउंट हैक करने के बाद डीपी हटा दी है और ऑनलाइन गेम से संबंधित ट्वीट रीट्वीट किए हैं. बलिया पुलिस का आधिकारिक ट्विटर हैंडल वेरिफाइड है और @balliapolice के नाम से अकाउंट हैं. अकाउंट को 53.1K हजार लोग फॉलो करते हैं.   

Continue Reading

featured

बलिया- यात्रियों की बढ़ेगी परेशानी, स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस सहित 29 जोडी ट्रेनें निरस्त

Published

on

बलिया :  रेलवे प्रशासन की ओर से सर्दियों में घने कोहरे की स्थिति को ध्यान में रखते हुए कई ट्रेनों के फेरे कम किए जाएंगे। फलस्वरूप यह गाड़ियां सप्ताह में कुछ दिन निरस्त रहेंगी, शेष दिन चलेगी। इसी क्रम में वाराणसी मंडल से होकर गुजरने वाली 29 जोड़ी ट्रेनों को सप्ताह में कुछ दिन निरस्त कर दिया गया है।

वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि बलिया से गुजरने वाली 15159 दुर्ग-छपरा सारनाथ एक्स. तीन दिसंबर से 27 फरवरी तक सोमवार, बुधवार, शनिवार व 15160 छपरा- दुर्ग सारनाथ एक्स. चार दिसंबर से 28 फरवरी तक गुरुवार, मंगलवार एवं रविवार को निरस्त रहेगी। 15054 लखनऊ-छपरा एक्स. एक दिसंबर से 26 फरवरी तक बुधवार गुरुवार, शनिवार, रविवार और

15053 छपरा-लखनऊ एक्स. चार दिसंबर से एक मार्च तक मंगलवार, बुधवार, शनिवार एवं रविवार को निरस्त रहेगी। 15083 छपरा- फरूखाबाद एक्स. दो दिसम्बर से 27 फरवरी तक सोमवार, गुरुवार, शुक्रवार, रविवार और 15084 फरूखाबाद – छपरा एक्स. तीन दिसंबर से 28 फरवरी तक सोमवार, मंगलवार, शुक्रवार एवं शनिवार को निरस्त रहेगी। जयनगर से चलने वाली 12561 जयनगर-नई दिल्ली स्वतंत्रता सेनानी एक्स. एक दिसंबर से 23 फ़रवरी तक प्रत्येक बुधवार और 12562 नईदिल्ली-जयनगर स्वतंत्रता सेनानी एक्स. दो दिसंबर से 24 फरवरी तक प्रत्येक शुक्रवार को निरस्त रहेगी।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

‘बलिया में सुरहाताल का होगा ईकोटूरिज्म के रूप में विकास’

Published

on

बलिया। जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने ग्राम पंचायत बसंतपुर में स्थित सुरहाताल पक्षी विहार में इकोटूरिज्म को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट कैंपस में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक की। बैठक के दौरान उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि इकोटूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सुरहाताल के आसपास साफ-सफाई की व्यवस्था की जाए। साथ ही वहां पर लोगों के उठने बैठने और घूमने के लिए बेंचे लगवाई जाए।

महिलाओं और बच्चों की सुविधा के लिए शौचालयों की व्यवस्था की जाए। 10 दिसंबर से सुरहा ताल में नौकायन शुरू हो जाएगा। उसके मद्देनजर अभी से वहां पर स्कूली बच्चों का आगमन शुरू हो जाएगा। जिसको देखते हुए वहां पर पर्याप्त पुलिस सुरक्षा बल की व्यवस्था की जाए। डीआईओएस को उन्होंने निर्देश दिया कि स्कूली बच्चों को सुरहा ताल घुमाने के लिए लाया जाए ताकि बच्चे पर्यावरण से जुड़ सके और उसके महत्व को अपने जीवन में अपना सकें।ताल में लोगों को घूमने के लिए नाव की व्यवस्था की जाए और खाने-पीने की दुकाने अभी से लगवा दी जाएं। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि इकोटूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सुरहाताल के आसपास विकास के अवसर तलासे जाए जिससे अधिक से अधिक संख्या में लोग वहां पर आकर विदेशी पक्षियों को देख सकें और पर्यावरण से जुड़ सकें।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!