Connect with us

शिक्षा

बलिया- राजीव गांधी सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता का पुरस्कार वितरण समारोह आज

Published

on

बलिया डेस्क : उप्र कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर जिला कांग्रेस कमेटी •ावन पर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता द्वितीय का परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन 18 अक्टूबर को सतीश चन्द्र कालेज में पूर्वाह्न 11.30 बजे किया गया है।

इसमें चयनित छात्र-छात्राओं को उपस्थित होने की सूचना मोबाइल के माध्यम से दे दी गई है।
उक्त बातें कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश पाण्डेय ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में व्यक्त किया। श्री पाण्डेय ने चयनित छात्र-छात्राओं से अपील किया कि कार्यक्रम में मास्क लगाकर कोविड-19 का पालन करते हुए अपना-अपना आधार कार्ड लेकर आयें।

प्रथम पुरस्कार लैपटाप, द्वितीय मोबाइल एवं तृतीय पुरस्कार टैबलेट दिया जायेगा। इस अवसर पर अबरार •ााई, कमालुद्दीन, धनंजय यादव, ओमप्रकाश सिंह, फूलबदन तिवारी, सुनील सिंह, सिद्धार्थ राय, रवि प्रकाश दीक्षित आदि मौजूद रहे।

विज्ञापन

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया स्पेशल

तो जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित होगा चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय का शिक्षक सम्मान समारोह!

Published

on

शिक्षक सम्मान समारोह के जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित किए जाने की वजह है जलजमाव।

रविवार यानी 5 सितंबर को बलिया के जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय में शिक्षक दिवस के मौके पर शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा। जिसमें विश्वविद्यालय और उससे संबद्ध कॉलेजों के कुल 75 प्राध्यापकों को सम्मानित किया जाएगा। ये सभी ऐसे प्राध्यापक हैं जिन्होंने इस साल विश्वविद्यालय और अपने-अपने कॉलेजों के लिए उल्लेखनीय कार्य किया है।विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कलपलता पांडेय के दिशा निर्देशों के आधार पर बीते दिनों एक समिति का गठन किया गया था। इस समिति को विश्वविद्यालय और संबद्ध कॉलेजों के उत्कृष्ठ शिक्षकों की सूची बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। समिति ने सभी शिक्षकों के कार्यों का अवलोकन करके एक सूची तैयार की। जिसमें कुल 75 प्राध्यापकों के नाम शुमार हैं। अब इन्हें 5 सितंबर के दिन जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय की ओर से सम्मानित किया जाएगा।

जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित होगा सम्मान समारोह:

विश्वविद्यालय का यह शिक्षक सम्मान समारोह जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित होगा। जमुना राम पीजी कॉलेज चितबड़ागांव में स्थित है। शिक्षक सम्मान समारोह के जमुना राम पीजी कॉलेज में आयोजित किए जाने की वजह है जलजमाव। जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय के परिसर के चारों तरफ अभी भी जलभराव की स्थिति बनी हुई है। हर तरफ बाढ़ का पानी है। विश्वविद्यालय परिसर में प्रवेश करना मुश्किल है।

गौरतलब है कि गंगा नदी का जलस्तर बढ़ने के चलते बलिया के कई इलाकों में बाढ़ आ गई थी। जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय बसंतपुर के सुरहाताल के पास स्थित है। गंगा में जैसे ही जलस्तर में बढ़ोतरी हुई नदी का पानी कटहर नाले के जरिए सुरहाताल पहुंचता है। लेकिन नाले की स्थिति खराब होने की वजह से जल निकासी ठप हो गई। जिसका खामियाजा अब विश्वविद्यालय को भुगतना पड़ रहा है।जलजमाव के कारण विश्वविद्यालय में आवाजाही लगभग बंद है। छात्र-छात्राएं पहले ही परेशान हो चुके थे। अब विश्वविद्यालय के कार्यक्रमों का स्थान भी बदलने की नौबत आ गई है। पिछले दिनों विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. कल्पलता पांडेय ने इस मसले पर जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया था। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा मदद नहीं मिलने की भी बात कही थी।

विज्ञापन और जमीनी हकीकत:

बलिया के नगर विधायक हैं आनन्द स्वरूप शुक्ल। जो कि उत्तर प्रदेश सरकार में राज्य मंत्री भी हैं। उन्होंने कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर जनता को शुभकामनाएं देते हुए एक विज्ञापन छपवाया। विज्ञापन में आनन्द स्वरूप शुक्ल ने अपने कार्यों का विवरण दिया। लाखों रुपए के इस विज्ञापन में जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय मार्ग निर्माण की भी बात कही गई है।विज्ञापन में कहा गया है कि जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय मार्ग (5.5 किलोमीटर) 6 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन है। लाखों के विज्ञापन में करोड़ों के सड़क निर्माण का ब्योरा दिया गया है। विज्ञापन में ये मार्ग और इसकी लागत खूब चमकदार हैं। लेकिन जमीनी हकीकत ये है कि जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय जलजमाव की समस्या से आतुर हो गया है। विद्यार्थियों से लेकर कर्मचारियों और अधिकारियों के नाक में दम हो चुका है। विश्वविद्यालय के कार्यक्रमों का आयोजन जलभराव के कारण किसी अन्य कॉलेज में आयोजित की जा रही है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया: बिजली विभाग ने काटी 471 प्राथमिक स्कूलों की बिजली, बच्चे बेहाल मौज में अधिकारी

Published

on

करे कोई और भरे कोई, यह कहावत आपने सुनी होगी। कुछ ऐसा ही देखने को मिल रहा है बलिया के प्राथमिक स्कूल में, जहां विद्यालय प्रशासन की लारवाही का खामियाजा बच्चे उठा रहे हैं। भरी गर्मी में बच्चे बिना बिजली के पढ़ाई करने को मजबूर हैं। न तो विद्यालय में पंखा चल पा रहा है न लाइट है। बड़ी असुविधाओं के बीच बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। जनपद के कई प्राथमिक स्कूलों पर लंबे समय से बिजली बिल बकाया हैं जब उन्हें नहीं भरा गया तो सोमवार को बिजली विभाग ने 471 प्राथमिक स्कूल सहित कुल 516 सरकारी संस्थानों की बिजली काट दी थी, इसमें 38 आंगनबाड़ी केंद्र भी शामिल है।तभी से बच्चों का बुरा हाल है। गर्मी और उमस के बीच बच्चे पढ़ रहे हैं। शिक्षक भी परेशान हैं। बिना बिजली के पढ़ाई में असुविधा को देखते हुए अभ शिक्षकों ने जिलाधिकारी सहित सीडीओ तथा बीएसए से तत्काल रूप से विद्यालयों में बिजली आपूर्ति बहाल कराने की मांग की है।प्राथमिक शिक्षक संघ बेरूआरबारी के ब्लाक अध्यक्ष जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि बिजली विभाग द्वारा किसी विद्यालय पर न तो नोटिस दिया गया और न ही बिल ही दिया गया। बिना बताए ही कनेक्शन काट दिया गया। जब विभाग द्वारा स्कूल में मीटर लगाया गया तब समय से बिल भी भेजना चाहिए था, लेकिन विभाग ने ऐसा नहीं किया।

प्राथमिक शिक्षक संघ रसड़ा के ब्लाक अध्यक्ष तेज प्रताप सिंह ने बताया कि बिना नोटिस कोई भी विभाग किसी के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर सकता है। बेसिक शिक्षा महकमा को बिजली विभाग के खिलाफ तुरंत एक्शन लेना चाहिए। प्राथमिक शिक्षक संघ नगरा के ब्लाक अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार यादव ने बताया कि जिलाधिकारी इस गंभीर मुद्दे को तत्काल संज्ञान में लें, क्योंकि बच्चों का सवाल है। प्राथमिक शिक्षक संघ दुबहर के ब्लाक अध्यक्ष अजीत पांडेय ने बताया कि बिजली विभाग की यह कार्रवाई तानाशाहीपूर्ण है। विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों को शिक्षकों के बारे में न सही कम से कम बच्चों के बारे में सोचाना चाहिए था कि इस गर्मी वे कैसे पठन-पाठन करेंगे।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

शिक्षा विभाग में अनियमितता को लेकर बीएसए सख्त, लापरवाही बरतने पर प्रधानाध्यापक का वेतन रोका

Published

on

बलिया में शिक्षा व्यवस्था में अनियमितता को लेकर बीएसए एक्शन मूड में हैं। बीएसए शिवनारायण सिंह लगातार कार्यवाही कर रहे हैं। हाल ही में बीएसए ने लापरवाही बरतने पर खण्ड शिक्षा अधिकारी बेलहरी लालजी शर्मा की संस्तुति पर प्राथमिक विद्यालय पचरुखिया के प्रधानाध्यापक बब्बन का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया है।बताया जा रहा है कि प्राथमिक विद्यालय पचरुखिया में अतिरिक्त कक्षा-कक्ष का निर्माण कार्य भवन प्रभारी/प्रअ बब्बन द्वारा बार-बार निर्देश के बाद भी नहीं कराया जा रहा है। इस वजह से विभागीय सूचना प्रेषित करने में कठिनाई हो रही है।वहीं  प्रधानाध्यापक के इस कृत्य व लापरवाही के दृष्टिगत खंड शिक्षा अधिकारी ने अपनी आख्या बीएसए को प्रेषित की थी।

इसके आधार पर बीएसए ने यह पूरी कार्यवाही की है। वेतन रोकने के आदेश के साथ ही भवन प्रभारी को निर्देश किया है कि अतिरिक्त कक्षा कक्ष का निर्माण पूर्ण कराकर आख्या प्रस्तुत करें, अन्यथा की दशा में सम्पूर्ण उत्तरदायित्व भवन प्रभारी का होगा। आपको बता दे कि इससे पहले बीएसए ने लापरवाही बरतने पर शिक्षकों का वेतन रोकने के आदेश दिए थे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!