Connect with us

बैरिया

बलिया- सीट आरक्षित किए जाने पर बवाल, ग्रामीणों ने चुनाव का बहिष्कार करने की दी धमकी

Published

on

बलिया डेस्क : बलिया के बैरिया विधान सभा के तिवारी के मिल्की गांव का प्रधान पद अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित कर दिया गया है। जिसका गांव के लोगों ने विरोध करते हुए बुधवार को तहसील में ज़ोरदार प्रदर्शन किया।  गांव की प्रधान पद की सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किये जाने पर ग्रामीणों ने नाराज़गी जताते हुए कई बड़े आरोप लगाए।

गांव वालों का कहना है कि ब्लॉक प्रशासन ने अपने स्वार्थ के लिए गांव की जाति के आधार पर ग़लत जनसंख्या पेश की है, जिसके आधार पर गांव का प्रधान पद अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हो गया है।  प्रदर्शनकारी ग्रामीणों ने ब्लॉक प्रशासन पर मनमानी का आरोप लगाते हुए तहलीसदार शिवसागर दुबे को ज्ञापन सौंपा। जिसमें कहा गया कि अगर चकगिरधर ग्राम पंचायत की प्रधान पद की सीट का आरक्षण नहीं बदला गया तो ग्राम पंचायत के तमाम लोग मतदान का बहिष्कार करेंगे।

बता दें कि इस गांव में 2011 की जनगणना में सामान्य जाति के लोगों की जनसंख्या 298 बताई गई है, जबकि वहां मतदाता सूची के अनुसार मतदाताओं की संख्या 600 से ज़्यादा है। वहीं अनुसूचित जाति की जनसंख्या 262 बताई गई है, जबकि मतदाता सूची में उनकी संख्या 110 ही है।  तहसीलदार को ज्ञापन देने वालों का नेत़ृत्व रतन तिवारी ने किया।

इस दौरान उनके साथ शिवनारायण राम, सहदेव राम, अजय राम, अजय कुमार तिवारी, कमलाकर तिवारी, अनिल राम, अजय कुमार राम, रोहित राम, शैलेश कुमार राम, विद्यावती देवी, लीलावती देवी, सीमा देवी, लचिया देवी, उर्मिला देवी सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।
फिलहाल तहसीलदार शिवसागर दुबे ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर किसी तरह से वापस लौटा दिया है। तहसीलदार ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है कि किसी के साथ भी अन्याय नहीं होगा।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

featured

बलिया का एक गांव- जिसमें न बिजली, न सड़क, गांव वालों ने BJP नेताओं की एंट्री पर रोक लगाई

Published

on

बलिया।  जिले के एक गांव में बीजेपी नेताओं के आने पर गाँव वालों ने बैन लगा दिया है। ग्रामीणों ने बीजेपी के विधायकों और सांसद का प्रवेश वर्जित कर दिया है। यही नहीं नाराज़ ग्रामीणों ने हाथ में तख्ती लेकर बड़ा प्रदर्शन भी किया। गाँव वालों का कहना है कि, अगर गाँव में सड़क, बिजली नहीं तो गाँव मे बीजेपी नेताओं का प्रवेश नहीं होगा। गाँववालों का यह कोई पहला प्रदर्शन नहीं है,बल्कि इससे पहले भी रोड नहीं, बिजली नहीं तो वोट नही देने का गांव वाले कर प्रदर्शन कर चुके हैं। इस गाँव की हालत इतनी खराब है कि एक पलती से पगडण्डी पकड़कर चलने को मजबूर हैं।मरीज को चारपाई पर टाँग कर अस्पताल तक ले जाने को मजबूर हैं। नेता जी के बहुत कोशिश करने पर 6 साल में केवल बिजली के खंभे ही गाँववालों को नसीब हुए हैं। यह अभागा गाँव बैरिया विधानसभा के अंतर्गत आता है। गाँव का नाम फिरंगी टोला है। बैरिया के विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह हैं, जिनकी पार्टी की प्रदेश से लेकर केंद्र में सरकार है। विधायक जी की पार्टी बीजेपी दुनिया की सबसे ज्यादा कार्यकर्ता वाली पार्टी है। फिर भी बैरिया का फिरंगी टोला गाँव अपने मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहे है।

ग्रामीणों में इतनी नाराजगी है कि भाजपा नेताओं का गांव में प्रवेश वर्जित हो गया है। गावं वालों का कहना है कि जब तक मांग पूरी नही होगी वोट भी इस बार नही देंगे। वहीँ इलाके के सामाजिक कार्यकर्ता सूर्यभान सिंह की माने तो इस गांव में घूमने गए थे तो देखा कि यहाँ के लोग मूल सुविधाओं से वंचित हैं। सूर्यभान सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा है कि योगी आदित्यनाथ सरकार एक जातिविशेष का ज्यादा विकास कर रही है।वहीं  क्षेत्र में बीजेपी के विधायक और सांसद जनता से दूर हैं, चुनाव जीतने के बाद उन्हें यहाँ की याद नहीं कि जनता किस परेशानी से गुजर रही है। इसीलिए जनता का गुस्सा अब भाजपा नेताओं पर फूटने लगा है।

Continue Reading

featured

जानें कौन हैं यशवंत कुमार सिंह, जिन्होंने सेना में लेफ्टिनेंट बनकर बलिया का मान बढ़ाया

Published

on

बलिया के होनहार छात्र लगातार देश की प्रतिष्ठित नौकरियों में सफलता पा रहे हैं। इन युवाओं की सफलता देख कर माता-पिता अपने बच्चों को भी बड़ी नौकरियों में जाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। बैरिया के तालिमपू निवासी यशवंत कुमार सिंह, पुत्र संजय कुमार सिंह ने ,भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बंनकर पूरे जिले का नाम रोशन किया है। यशवंत सिंह अपनी प्रारंभिक शिक्षा दुआबा चिल्ड्रन स्कूल से की है। उसके बाद मधुपुर में कन्वेंट स्कूल में कक्षा आठवीं तक पढ़ाई की। फिर सैनिक स्कूल में कक्षा 12वीं तक की पढ़ाई पूरी की।

यशवंत सिंह ने नेशनल डिफेंस अकादमी पुणे में दाखिला लिया। यहाँ से वो आगे की तैयारी के लिए देहरादून चले गए, देहरादून जाकर यशवंत सिंह लेफ्टिनेंट बनकर निकले हैं। यशवंत को फिलहाल पहली पोस्टिंग अरुणाचल में मिली है। तालिमपुर के अन्य युवा यशवंत से आगे बढ़कर कुछ बड़ा करने की प्रेरणा ले रहे हैं। नौजवानों में एक नई उम्मीद की किरण जगी है, जिससे वो और ज़्यादा पढ़ाई में मेहनत कर रहे हैं। एक बातचीत में यशवंत सिंह ने बताया कि घर से नौकरी की वापसी के दौरान अगर अपने पोस्ट अरुणाचल में जाते हैं तो पूरी तरीके से देश के लिए लड़ाई के लिए मौजूद रहेंगे।

सेना में उत्कृष्ट स्थान हासिल कर यशवंत ने क्षेत्र ही नही ,पूरे जनपद को गौरवान्वित किया है। उनकी कामयाबी पर पूरे क्षेत्र में खुशी की माहौल है। बैरिया विधानसभा के बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने भी यशवंत को सेना में लेफ्टिनेंट बनने पर बधाईया दी और शामिल हुए।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया – दो पक्षों में झड़प,13 घायल, दो आरोपी गिरफ्तार

Published

on

बलिया । बैरिया क्षेत्र के इब्राहमाबाद उत्तर टोला गांव में विवाद को लेकर दो गुटों के बीच हुई झड़प में 13 लोग घायल हो गए। जिसमें से तीन की हालत गम्भीर है। बैरिया के थाना प्रभारी राजीव मिश्रा के अनुसार थाना क्षेत्र के इब्राहिमाबाद उत्तर टोला में रविवार को दो पक्षों के बीच विवाद के बाद हिंसक झड़प हो गयी ।

इस घटना में कामेश्वर सिंह (72), भवानी सिंह (60), चंद्रशेखर सिंह (40), श्रीकृष्ण सिंह (65), सत्येंद्र सिंह (40), जानकी शरण सिंह (35), विश्वजीत सिंह (28), अमित सिंह (25) , परमेश्वर यादव (55), रमेश यादव (50), उमेश यादव (25), छठिया देवी (60) व मंजू देवी (45) घायल हो गए।

सभी घायलों को सोनबरसा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। कामेश्वर सिंह, भवानी सिंह व चंद्रशेखर सिंह की हालत गम्भीर होने के कारण उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है थाना प्रभारी राजीव मिश्र ने बताया कि इस मामले में दोनों पक्षों की तरफ से कुल 12 व्यक्तियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है, तथा पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है ।

Continue Reading

TRENDING STORIES