Connect with us

बलिया

Ballia- थाने में जमा कराने होंगे शस्त्र, नहीं तो होगी कार्यवाही, इस क्षेत्र में इतने लाइसेंस धारी

Published

on

बलियाः आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासन सख्त हो गया है। चुनाव में किसी भी तरह का माहौल न बिगड़े इसलिए शस्त्र जमा करवाने की प्रकिया शुरु कर दी गई है। इसके तहत जनपद के सभी लाइसेंसधारी बंदूकधारियों को अपने असलहे क्षेत्रीय थाने में जमा कराने होंगे।  लाइसेंस मालिकों को खुद थाने में जाकर अपने असलहे जमा करने होंगे। इसके अलावा आयुध की दुकानों पर भी शस्त्र जमा करवा सकेंगे। आदेश के बाद भी अगर कोई असलहे जमा नहीं कराता तो उनके ऊपर पुलिसिया कार्यवाही की जाएगी।

हालांकि सुरक्षा गार्ड और अपराध पीड़ितों को इसमें रियायत का प्रावधान है। शासन का मानना है कि कुछ लोगों को सुरक्षा की सख्त जरूरत है। इसको देखते हुए उन्हें चुनाव के दौरान अपने पास असलहा रखने की छूट दी जाएगी। इसके लिए डीएम को प्रार्थना पत्र देना होगा। जिलाधिकारी की संस्तुति के बाद ही संबंधित व्यक्ति अपने पास लाइसेंसी असलहा रख सकता है। हालांकि इसके गलत इस्तेमाल पर लाइसेंस निरस्त भी किया जा सकता है।

बता दें कि जिले में लगभग 9000 लोगों के पास असलहा लाइसेंस है। इसमें बंदूक, राइफल व रिवाल्वर-पिस्टल के लाइसेंस दिए गए हैं। थानावार असलहों का सूची पहले ही तैयार कर इसे थानों को भेजी जा चुकी है। पुलिस की ओर से इस पर कार्रवाई भी शुरू कर दी गई है। अभी तक 40235 असलहे जमा कराए जा चुके हैं।  सर्वाधिक लाइसेंस की बात करें तो  कोतवाली नगर में 2094 असलहों के लाइसेंस हैं जबकि सबसे कम दोकटी थानाक्षेत्र में 146 लाइसेंस हैं। इससे अधिक दोकटी में 146 और खेजुरी थाना क्षेत्र में 154 लाइसेंस जारी किए गए है।
पकड़ी थाना क्षेत्र में 171, बैरिया में 517, बांसडीह रोड में 484 तो वहीं बांसडीह में 281 असलहों के लाइसेंस हैं। वहीं दुबहर में 218, हल्दी में 445, भीमपुरा थाना क्षेत्र में 230 लाइसेंस हैं। इसके अलावा चितबड़ागांव थाना क्षेत्र में 186, मनियर में 240 , नगरा में 309, गड़वार में 373,  सहतवार में 233 नरही में 269, फेफना में 356, रसड़ा में 586 , रेवतीथानाक्षेत्र में 231, और सिकंदरपुर थाना क्षेत्र में 254 लाइसेंस धारी हैं।

एएसपी विजय त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि विधानसभा चुनाव के दौरान विशेष परिस्थितियों में असलहा रखने की छूट मिलेगी। इसके लिए उन्हें प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराना होगा। जांच के लिए स्क्रीनिंग कमेटी गठित हैं। कुल 9702 लाइसेंस जमा कराने हैं। इसमें 4235 जमा कराए जा चुके हैं। एक सप्ताह का समय जमा कराने के लिए दिया गया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलियाः ग्राम सचिवालय में रखना होंगे ये 24 तरह के रिकोर्ड, वरना होगी कार्यवाई

Published

on

बलियाः जिला पंचायत राज विभाग की ओर से जिले के 940 पंचायतों को निर्देश जारी किए गए हैं, जिसके अनुसार मिनी सचिवालय में परिवार, जन्म मृत्यु, अचल संपत्ति, वित्त, पेंशन, मनरेगा, विकास कार्य, हैण्डपम्प, स्वच्छ भारत मिशन, पीएम आवास आदि 24 योजनाओं का रिकार्ड रखना आवश्यक है।

रिकार्ड नहीं रखे जाने पर सचिवों व प्रधानों पर कार्यवाही होगी। बता दें कि पंचायत भवनों में रख-रखवा के उचित इंतजाम नहीं होने पर प्रत्येक पंचायत भवनों में मिनी सचिवालय संचालित किए जा रहे हैं। जिनमें फर्नीचर, कम्प्यूटर, इन्वर्टर, सोलर पैनल आदि सुविधाएं उपलब्ध करा दी गयी हैं। यहां पंचायत सहायक कम डाटा इंट्री ऑपरेटर की तैनाती भी कर दी गयी है।

लेकिन फिर भी देखा जा रहा था कि अधिकांश मिनी सचिवालय में रिकार्ड ही नहीं है। जिसके चलते ग्रामीण परेशान हो रहे थे व सचिव और प्रधान की मनमानी भी सामने आ रही थी। इन्हीं समस्याओं को ध्यान में रखते हुए पंचायत राज विभाग ने मिनी सचिवालयों में 24 तरह के रिकार्ड रखने का निर्देश दिया है।

डीपीआरओ यतेंद्र सिंह का कहना है कि पंचायतों में मिनी सचिवालय संचालित हो गये हैं। ग्रामीणों को परिवार रजिस्टर, खतौनी, पीएम व सीएम आवास सहित अन्य अभिलेखों की फोटोकॉपी उपलब्ध होगी। यदि किसी व्यक्ति को पंचायत के मिनी सचिवालय में जाने पर यह नहीं मिलता है तो वह खंड विकास अधिकारी व जिला पंचायत राज अधिकारी से सम्पर्क कर सकता है।

Continue Reading

featured

ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे के लिए 500 करोड़ रुपये जारी, सर्वे व सीमांकन का काम तकरीबन हुआ पूरा

Published

on

बलिया के विकास की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे निर्माण के लिए परिवहन मंत्री ने पहली किश्त जारी कर दी है। पहली किश्त के रुप में 500 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं। फिलहाल जमीन अधिग्रहण का काम चल रहा है।

जनपद को अन्य हिस्सों से जोड़ने वाले ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस वे के निर्माण को लेकर क्षेत्रीय जनता उत्साहित है। लोग लंबे समय से एक्सप्रेस-वे के निर्माण की बांट जोह रहे हैं। अब पहली किश्त जारी होने के बाद निर्माण का रास्त साफ हो गया है।

बता दें कि गाजीपुर जिले के जंगीपुर से बलिया होते हुए बिहार के रिविलगंज तक करीब 118 किलोमीटर लंबे ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे का निर्माण होना है। एक्सप्रेस निर्माण में 6 हजार करोड़ की लागत आएगी। सीमांकन व अन्य सर्वे का काम तकरीबन पूरा हो गया है।

एक्सप्रेव वे निर्माण के लिए दो तहसीलों सदर व बैरिया के करीब 98 किसानों की भूमि अधिगृहित की जा रही है। किसानों से यूपीडा लगभग 460 हेक्टेयर भूमि लेगा। जमीन का अधिग्रहण भविष्य के हिसाब से 100 मीटर होगी, जिसमें से 60 मीटर पर फोर लेन सड़क बनेगी। यह सड़क सदर तहसील के 82 तथा बैरिया तहसील के 16 गांवों से यह सड़क गुजरेगी।

सूत्रों की मानें तो करीमुद्दीनपुर, चितबड़ागांव से होते हुए यह सड़क शहर के दक्षिण से होते हुए यह फोर लेन सड़क जनाड़ी गांव के पास उत्तर दिशा से बैरिया की तरफ जायेगी। इसके बाद टेंगरहीं गांव के पास एक बार यह रास्ता एनएच 31 को क्रास कर दक्षिण से होते हुए रिविलगंज तक पहुंचेगा। नियमानुसार दो माह में ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे की पूरी जमीन का अधिग्रहण कर लेना है।

वहीं सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त के प्रयास से परिवहन मंत्रालय की ओर से कार्यदायी संस्था यूपीडा को पांच सौ करोड़ रुपये की पहल किश्त भी जारी कर दी है। ऐसे में जल्द ही अधिग्रहण का काम पूरा कर निर्माण कार्य शुरु किया जाएगा।

Continue Reading

featured

बलिया में हादसेः कार की टक्कर से ठेला चालक की मौत, सड़क किनारे पलटी स्कार्पियो

Published

on

बलिया के रसड़ा में अलग अलग दुर्घटनाओं में 1 की मौत हो गई, जबकि 2 लोग घायल हैं। दोनों ही मामलों में पुलिस जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक पकवाइनर-सिधागरघाट मार्ग सिलहटा गांव के पास स्कॉर्पियो पुलिस के पास अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे पानी भरे गड्ढे में जा गिरी। हादसे में स्कॉर्पियो सवार मरदह थाना क्षेत्र के सिंगेरा निवासी 35 वर्षीय अंकुर सिंह और 22 वर्षीय चालक छोटे सिंह गंभीर रुप से घायल हो गए।

दोनों घायलों को स्थानीय सीएचसी पहुंचाया गया। जहां उनका प्राथमिक उपचार कराया गया। इसमें अंकुर की हालत गंभीर देखते हुए सदर अस्पताल रेफर कर दिया है। दूसरा हादसा रसड़ा के रसड़ा-मऊ मार्ग पर मोकलपुर गांव के पास रविवार को सुबह करीब सात बजे तेज रफ्तार इनोवा कार की ठेला में पीछे से टक्कर हो गई। हादसे में ठेला लेकर कबाड़ खरीदने जा रहे क्षेत्र के सुलुई गांव निवासी 52 वर्षीय राजन गुप्ता की मौके पर ही मौत हो गई। मौके से इनोवा चालक फरार हो गया।

जानकारी के मुताबिक राजन गुप्ता गांवों में घूमकर ठेले पर कबाड़ खरीदने का धंधा करते थे। सुबह में घर से पकवाइनार गांव की तरफ ठेला लेकर कबाड़ खरीदने के लिए जा रहे थे। तभी यह हादसा हुआ। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!