Connect with us

बलिया

बलिया में बिजली कटौती से मिलेगी मुक्ती, है कोई शिकायत तो इस नंबर पर करें फोन

Published

on

बलिया जिले में हर दिन अतिरिक्त चार घंटे की बिजली कटौती पर रोक लगाने के निर्देश दिए गए हैं। (प्रतिकात्मक तस्वीर)

बलिया जिले में बिजली की अतिरिक्त कटौती से राहत मिलने की उम्मीद है। जिले में हर दिन अतिरिक्त चार घंटे की बिजली कटौती पर रोक लगाने के निर्देश दिए गए हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के निर्देश पर विद्युत विभाग की ओर से यह पहल की गई है। कोयला संकट के कारण विद्युत उत्पादन में आई कमी के बाद बलिया को दो भागों में बांटकर अलग-अलग फीडरों से चार घंटे बिजली काटने की व्यवस्था की गई थी।

मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद इस व्यवस्था को खत्म कर दिया गया है। अब जिले में पहले की ही तरह शहरी और ग्रामीण इलाकों में रोस्टर के हिसाब से बिजली आपूर्ति की जाएगी। बिजली विभाग के जिला नोडल अधिकारी और विद्युत वितरण खंड (द्वितीय) के अधिशासी अभियंता चंद्रेश उपाध्याय के मुताबिक “बिजली आपूर्ति की समस्या अब जल्द ही खत्म हो जाएगी। पहले की ही तरह रोस्टर के अनुसार शहर में चौबीस घंटे और गांवों में अठारह घंटे विद्युत सप्लाई की जाएगी। जिले को दो भागों में बांटकर चार-चार घंटे की अतिरिक्त कटौती को अब खत्म कर दिया गया है।”

चंद्रेश उपाध्याय ने बताया कि बिजली आपूर्ति में किसी भी वजह से कोई बाधा न आए इसके लिए बलिया में एक कमेटी गठित की गई है। कमेटी की जिम्मेदारी है कि शाम छह बजे से सुबह सात बजे तक बिना किसी रोक-टोक के लगातार बिजली आपूर्ति हो। इसमें तार टूटने, पोल की गड़बड़ी या फिर ट्रांसफार्मर में आई सभी समस्याओं का समाधान कमेटी ही करेगी। इसके अलावा जिले में बिजली से जुड़ी शिकायतों का निस्तारण भी कमेटी के जिम्मे है। जिले का कोई भी व्यक्ति 1912 पर फोन करके अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है।

गोरतलब है कि कोयले के संकट के कारण विद्युत उत्पादन में कमी आई है। इसे लेकर चारों तरफ बहस छिड़ी हुई है। उत्तर प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने पिछले दिनों इस बाबत एक ट्वीट कर जानकारी दी थी। श्रीकांत शर्मा ने बताया था कि कोयला खनन कम होने के कारण बिजली उत्पादन में कमी आई है। लेकिन केंद्र सरकार इस मसले को निपटाने में लगी है। बता दें कि देश भर में सत्तर फीसदी बिजली का उत्पादन आज भी कोयले से ही होती है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

UP बोर्ड परीक्षाएं आज से शुरू, बलिया में बने 177 केंद्र, प्रशासन ने की 7 लेयर सुरक्षा व्यवस्था

Published

on

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPSEB) की 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं आज से शुरू हो गई हैं। 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं उत्तर प्रदेश के 75 जिलों के लगभग 8,265 केंद्रों पर आयोजित की जाएंगी।

बलिया में 177 सेंटरों बनाए गए है। जिसमें हाई स्कूल एवं इंटर मीडिएट के 1 लाख 38 हजार छात्र -छात्राएं सम्मिलित होंगे। इसमें हाई स्कूल के 659008 विद्यार्थी और इंटर मीडिएट के 72798 विद्यार्थी हैं।

जिला विद्यालय निरीक्षक रमेश सिंह ने बताया कि पूरे जिले में 1 लाख 38 हजार परीक्षार्थी हैं। हम लोगों ने 7 लेयर की सुरक्षा व्यवस्था की है। प्रथम लेयर केन्द्र व्यवस्थापक के रूप में द्वितीय लेयर आंतरिक सचल दस्ता के रूप में, तीसरा लेयर वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक के रूप में,चौथा लेयर स्टेटिक मजिस्ट्रेट के रूप में, पांचवां लेयर है। सेक्टर मजिस्ट्रेट के रूप में, छठा लेयर जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में हैं।

जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि प्रत्येक क्रेंद्र में चेकिंग व्यवस्था की गई है। इससे कोई बाहरी छात्र क्लास में प्रवेश नहीं कर सकता है। परीक्षा केंद्र के 100 मीटर की परिधि में कोई प्रवेश नहीं कर सकेगा। कोई कोचिंग इंस्टिट्यूट नहीं खुलेगा। इसके बाद फोर्स की पूरी व्यवस्था रहेगी।

फ्लाइंग स्कार्ट में 50 लोगों की ड्यूटी लगाई गई है। कंट्रोल रूम में 22-22 की संख्या में तीन शिफ्टों में ड्यूटी लगाई गई है। स्ट्रांग रूम के अंदर तथा बाहर दोनों तरफ का कैमरे लगाए गए हैं।

बता दें कि बलिया समेत मथुरा, अलीगढ़, मऊ, कौशांबी, प्रयागराज, चंदौली, जौनपुर, देवरिया, गाजीपुर, मैनपुरी, एटा, हरदोई, आजमगढ़, गोंडा और बागपत संवेदनशील जिले हैं। इन जिलों में नकल रोकने के लिए विशेष सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

Continue Reading

featured

बलिया में दर्दनाक सड़क हादसा, 4 की मौत

Published

on

बलिया में सड़कों पर हादसों में लगातार वृद्धि हो रही है। आज मंगलवार सुबह भी जिले के नगरा थाना क्षेत्र में ट्रैक्टर और बाइक टक्कर हो गई। शुरुआती जानकारी के मुताबिक हादसे में अबतक चार लोगों की मौत हो गई। वहीं  कुछ लोग गंभीर रूप से घायल भी बताए जा रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक नगरा थाना क्षेत्र के गोठाई तिलकारी गांव के पास सोमवार की देर रात ट्रैक्टर और बाइक की आमने सामने जोरदार टक्कर हो गई। जिसमें चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय पहुंचाया। वहीं शवों को पोस्टमार्टम हाउस में रखवाया। उधर घटना की सूचना मिलते ही मृतक के घरों में कोहराम मच गया। मृतक होने वालों में  थाना नगरा में खनवर  के वहीं एक  थाना हलधरपुर जनपद मऊ का बताया जा रहा है वहीं एक अज्ञात जिसका शिनाख्त नहीं हो सका है। जबकि एक घायल था, जिसको उपचार कर छोड़ दिया गया।

Continue Reading

बलिया

पुणे में दर्दनाक सड़क हादसे में बलिया निवासी 2 चचेरे भाईयों की मौत

Published

on

पुणे में नौकरी कर रहे बलिया निवासी 2 चचेरे भाइयों की सड़क हादसे में मौत हो गई। इस घटना के बाद से परिजनों में कोहराम मच गया। मृतकों में रोशन खरवार और दीपक खरवार शामिल हैं। इनमें मृतक रोशन खरवार की शादी हो चुकी थी और डेढ़ साल का एक पुत्र है। जबकि मृतक दीपक खरवार की अभी शादी नहीं हुई थी।

जानकारी के मुताबिक, घटना के समय दोनों चचेरे भाई पुणे के एक कंपनी से ड्यूटी के बाद तीसरे साथी के साथ पैदल ही कमरे पर जा रहे थे। इस बीच बीती रात 10 बजे के आसपास तेज रफ्तार बोलेरो ने तीनों को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। जिससे दोनों चचेरे भाइयों की मौत हो गई। जबकि तीसरा गंभीर रूप से घायल बताया जा रहा है।

वहीं परिजनों का अपने पुत्र के अंतिम दर्शन की उम्मीद में रो रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा है कि दोनों मृतक के पिता सहोदर भाई है और दोनों की मां भी आपस में बहन है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!