Connect with us

बलिया

बलिया का स्वास्थ्य विभाग बना ‘अंधा’, कहीं कूड़े में फिक रही तो कहीं पैसों में बिक रही की दवाईयां!

Published

on

चलिए आज आपको बलिया के सरकारी अस्पताल के नजारों से रुबरु कराते हैं जहां सुविधाएं अलविदा बोल चुकी हैं और अव्यवस्थाएं घर कर चुकी हैं। हालात यह हैं कि कोई मरीज अपना इलाज कराने अस्पताल आए तो बहुत मुश्किल है कि डॉक्टर और दवाईयां दोनों मिलें। डॉक्टर अक्सर नदारद रहते हैं और मुफ्त दवाईयों की बात तो छोड़ ही दीजिए।

गरीब सरकारी अस्पताल में अपना इलाज कराने जाते हैं ताकि उन्हें अच्छा इलाज मिल सकें। सही दवाईयां मिल सके। लेकिन सरकारी अस्पताल में नजारा बिल्कुल अलग है। कुछ दिनों पहले ही नगरा क्षेत्र के रसड़ा मार्ग पर सड़क किनारे झाड़ियों में अस्पतालों की एक्सपायर दवाएं फेकी हुई पायी गयी थी। इस मामले में जमकर किरकिरी हुई थी।

अब ताजा मामला बुधवार को सामने आया जहां रसड़ा क्षेत्र के सराय भारती पीएचसी पर तैनात कर्मचारी अस्पताल से फ्री मिलने वाली दवाईयां गरीबों को पैसा लेकर दे रहा है। जिसका वीडियो बनाकर किसी ने वायरल कर दिया है। मामला उजागर होने के बाद अस्पताल की पोल खुल गई है।

खुलेआम सरकारी दवाईयों को बेचने का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो बलिया के रसड़ा स्थित सरायभारती  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का है । जिसमें वहां तैनात फार्मासिस्ट गंगा सागर यादव गरीब मरीजों से खुलेआम पैसे लेकर सरकारी दवाओं की बिक्री करते हुए दिखायी दे रहा है। वीडियो वायरल होने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हलचल मची हुई है। पूरे मामले में CMO तनमय कक्कड़ ने वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए जांच के आदेश दिए। कहा दोषी पाए जाने पर कार्यवाई की जाएगी।

दोनों घटनाओं से सरकारी अस्पताल में व्यवस्थाओं की पोल खुल गई है। कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। सवाल है कि एक तरफ दवाएं एक्सपायर होने के बाद झाड़ियों में फेंक दी जाती है वहीं दूसरी तरफ बिना पैसे के दवाईयां नहीं दी जाती है। यानी पैसा न मिलने पर दवाईयां नहीं दी जाती है जिससे रखे रखे दवाएं एक्सपायर हो जाती है। और कूड़े में फेंक दी जाती है। इस तरह के खराब प्रबंधन के कारण ही गरीबों तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने में भारत अभी भी असक्षम है।

Continue Reading
Advertisement />
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

प्रतियोगी परीक्षा की फ्री कोचिंग के लिए रजिस्ट्रेशन शुरु, इस तारीख तक करें आवेदन

Published

on

बलियाः प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है। सरकार प्रतिभावान छात्रों को मुफ्त कोचिंग देने जा रही है। इसके लिए जनपद के विद्यार्थी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत 20 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

बता दें कि प्रदेश सरकार ने पढ़ाई में अव्वल प्रतिभाओं को निखारने के लिए बीते वर्ष मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की शुरुआत की। इसके तहत प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवाओं को मुफ्त कोचिंग का प्रावधान है। पहले योजना सिर्फ मंडल मुख्यालय वाले शहरों तक सीमित थी। अब इसका दायरा बढ़ाया गया है। जिससे बलिया के बच्चों को भी इसका फायदा मिलेगा।

बलिया में शासन के निर्देश के बाद समाज कल्याण विभाग की ओर से अस्पताल रोड स्थित जीआईसी में दो कमरों का चयन किया गया था। इसके साथ ही संबंधित विषय के क्लास के लिए अध्यापकों और अधिकारियों का पैनल तैयार कर इसे शासन को भेज दिया गया। निशुल्क कोचिंग क्लास शुरु करने की पूरी तैयारी है।

लेकिन इससे पहले युवाओं को एक ऑनलाइन परीक्षा देनी होगी। जिसके अंतिम आवेदन तारीख 20 अक्टूबर है। जिला समाज कल्याण अधिकारी अभय कुमार सिंह ने बताया कि सिविल सेवा, नीट, जेईई, एनडीए, सीडीएस की प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन पंजीयन 20 अक्तूबर तक करा सकते हैं। आवेदन http://www.abhyuday.up.gov.in पर किया जाना है।

प्रतिभागियों का चयन परीक्षा के आधार पर किया जाएगा। यानि जो परीक्षा में अव्वल होगा उसे मुफ्त कोचिंग का लाभ पहले मिलेगा। इसके लिए जेईई की परीक्षा 21 अक्तूबर, नीट की 22 अक्तूबर, एनडीए और सीडीएस की 25 और सिविल सेवा के लिए 26 अक्तूबर को दोपहर दो बजे से 3.30 बजे तक परीक्षा होगी। प्रवेश परीक्षा का परिणाम वेबसाइट पर 29 अक्टूबर को जारी किया जा सकता है। कोचिंग 15 नवंबर से शुरू होने की संभावना है।

 

Continue Reading

बलिया

बलिया- लेखपाल संघ ने 6 सूत्रीयों मांगों को लेकर खोला मोर्चा

Published

on

बलिया। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ ईकाई रसड़ा ने अपनी मांग तेज कर दी है। जहां उन्होंने 6 सूत्रीय मांगों को लेकर अपनी आवाज बुलंद कर दी है। और अपनी मांगों को लेकर लेखपाल संघ ईकाई ने धरना प्रदर्शन दिया। 6 सूत्रीय मांगों में संघ लेखपाल चतुरी सिंह का निलंबन तत्काल वापस करने, लेखपालों के बार-बार स्थानांतरण को संशोधित करने, अतिरिक्त कार्यभार से हटाने, आय, जाति एवं निवास का मानदेय तत्काल देने, अन्य बकाया एरियर का तत्काल भुगतान करने की मांग शामिल है।

बता दें शनिवार को 6 सूत्रीय मांगों को लेकर लेखपाल संघ ईकाई रसड़ा तहसील मुख्यालय पर धरना-प्रदर्शन किया। संघ लेखपाल चतुरी सिंह का निलंबन तत्काल वापस करने, लेखपालों के बार-बार स्थानांतरण को संशोधित करने, अतिरिक्त कार्यभार से हटाने, आय, जाति एवं निवास का मानदेय तत्काल देने, अन्य बकाया एरियर का तत्काल भुगतान करने आदि मांग को लेकर आंदोलित हैं।

धरना-प्रदर्शन में अजीत कुमार, रामवृक्ष चौहान, दीपक श्रीवास्तव, दिलशान अख्तर, अमीरचंद, बलवीर सिंह, मार्कंडेय, चौधरी विजय कुमार सिंह, देवेंद्र नाथ राय आदि दर्जनों लेखपाल शामिल थे।

Continue Reading

बलिया

बलिया- ब्रेक फेल होने से पलटी कार, हादसे में गाजीपुर के 4 लोग घायल

Published

on

बलिया। कोतवाली थाना क्षेत्र में एक कार सड़क हादसे का शिकार हो गई। इस दौरान हादसे में 4 लोग घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि कार की रफ्तार ज्यादा होने की वजह से हादसा हुआ। सभी घायल गाजीपुर जिले के बताए जा रहे हैं। गनीमत रही कि हादसा ज्यादा बड़ा नहीं हुआ। फिलहाल घायलों का इलाज जारी है। और उनकी हालत भी खतरें से बाहर बताई जा रही है।

दरअसल पिडहरा के पास शनिवार की शाम को ब्रेक फेल होने से कारण कार सड़क किनारे पलट गई। इसमें सवार गाजीपुर जिले के सदानन्द, दीपक, मोतीचंद और भानु प्रताप गंभीर रूप से घायल हो गए। इन सभी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि पिडहरा से कार तेज गति से शहर की तरफ जा रही थी। इसी बीच अचानक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे गड्ढे में पलट गई। आसपास के लोगों ने घायलों को निकाल कर अस्पतला भेजवाया। जहां उनका इलाज जारी है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!