Connect with us

बलिया

छत्तीसगढ़ नक्सली हमले में बलिया का ‘लाल’ शहीद, CAF के असिस्टेंट प्लाटून कमांडर थे विजय यादव

Published

on

बलिया। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में नक्सली हमले में सीएएफ (CAF) के असिस्टेंट प्लाटून कमांडर विजय यादव शहीद हो गये। जो यूपी के बलिया जिले के रहने वाले थे। हमले की सूचना मिलते ही शहीद के पैतृक गांव राजपुर (एकौना) में शोक की लहर दौड़ गयी। शहीद जवान की पार्थिव देह 28 मार्च को पैतृक गांव पहुंचने की संभावना है।
जानकारी के मुताबिक़ असिस्टेंट प्लाटून कमांडर विजय यादव सड़क निर्माण कार्य में सुरक्षा देने के लिए तीमेनार कैंप से निकले थे। मिरतुर थानाक्षेत्र अंतर्गत नक्सलियों ने एटेपाल कैंप से एक किमी की दूरी पर टेकरी में IED ब्लास्ट किया। इस नक्सली हमले में असिस्टेंट प्लाटून कमांडर विजय यादव शहीद हो गये।

हमले की जानकारी मिलते ही शहीद CAF जवान के घर-परिवार ही नहीं, पूरे इलाके में शोक की लहर दौड़ गयी। 4 भाईयों में विजय यादव दूसरे नम्बर पर थे। शहीद जवान की पत्नी सरस्वती देवी और पुत्री खुशबू के साथ ही परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा है कि विजय यादव काफी मिलनसार और व्यवहार कुशल थे।

Advertisement  
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बलिया

बलिया में आयोजित हुआ भाजपा का प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन, गिनाई उपलब्धियां

Published

on

केंद्र में भाजपा सरकार के 9 साल पूरे होने पर दूबेछपरा स्थित पूर्णानंद इंटरमीडिएट कॉलेज में बुधवार को प्रबुद्ध वर्ग का सम्मेलन हुआ। इस मौके पर उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए।

उन्होंने कार्यक्रम में भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाई और विपक्ष पर सवाल उठाए। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जब देश खुद को सम्मानित व गर्व की अनुभूति कर रहा है, तब कुछ लोग विदेश के मंच से देश की बुराइयां कर रहे है। गालियां दे रहे है, लेकिन जनता सब जानती है। समय से इसका माकूल जवाब भी देगी।

इस मौके पर बलिया सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि मोदी सरकार ने भारतवासियों को सम्मान दिलाया है। परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाई। आयुष मंत्री दयाशंकर मिश्रा ने पार्टी को पुनः बहुमत से तीसरी बार केंद्र में बिठाने के लिए आग्रह किया।

इस मौके पर राज्य सभा सांसद नीरज शेखर ने जनता का आभार जताया। पूर्व मंत्री आनंद स्वरूप ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। इस कार्यक्रम में क्षेत्रीय अध्यक्ष सहजानन्द राय, जिला प्रभारी विजय बहादुर दुबे, भाजपा जिलाध्यक्ष जय प्रकाश साहू, पूर्व विधायक विक्रम सिंह उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारम्भ पंडित दीनदयाल उपाध्याय व श्यामाप्रसाद मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। संचालन हरीकंचन सिंह ने किया। सम्मेलन में विपुलेन्द्र सिंह, आदित्य नारायण तिवारी, अश्वनी ओझा, अवनींद्र ओझा, पिंकू ओझा, धनंजय सिंह इत्यादि उपस्थित रहे।

Continue Reading

बलिया

बलिया जिला जज ने कारागार का किया औचक निरीक्षण, बंदियों की समस्या हल करने के दिए निर्देश

Published

on

बलिया में बुधवार को अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव सुरेन्द्र प्रसाद ने जिला कारागार का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने किशोर बैरक सहित सभी बैरक का निरीक्षण कर बंदियों से बातचीत की। साथ ही बंदियों की छोटी-छोटी समस्याओं पर ध्यान देते हुए उन्हें निराकरण के लिए जेलर को निर्देशित किया।

निरीक्षण के दौरान जेलर को यह भी निर्देशित किया कि जिला कारागार बलिया में निरूद्ध ऐसे बन्दी जिनकी जमानत कोर्ट से स्वीकृत की जा चुकी है लेकिन किन्ही कारण से रिहा नहीं हो सके, ऐसे बन्दियों का विवरण जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया दें। वहीं कुछ बन्दियों ने अवगत कराया कि उनके मुकदमें की पैरवी के लिए अधिवक्ता नहीं है, इस संबंध में जेलर को निर्देशित किया कि जिन बन्दियों के पास मुकदमें की पैरवी के लिए अधिवक्ता उपलब्ध नहीं हैं उनसे प्रार्थना पत्र लेकर, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया को प्राप्त करवाना सुनिश्चित करें।

साथ-ही जिला कारागार बलिया में विधिक साक्षरता और जागरूकता शिविर का आयोजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया के अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव, सुरेन्द्र प्रसाद की अध्यक्षता में हुआ। जिसमें बंदियों को विधिक रूप से जागरूक किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बलिया के अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव ने बताया कि जिला कारागार बलिया में लीगल एड क्लीनिक स्थापित की है, जिसमें पैरा लीगल वॉलेंटियर नामित हैं जो बंदियों को निःशुल्क कानूनी सहायता उपलब्ध कराएंगे। इस दौरान राजेन्द्र सिंह जेलर, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता हंसराज तिवारी, रीना तिवारी उपकारापाल, अमर सिंह उपकारापाल मौजूद रहे।

Continue Reading

बलिया

बलिया की लक्ष्मी बनी गृह मंत्रालय में स्टेटिसटिकल इन्वेस्टीगेटर

Published

on

बलिया के मझौवा की रहने वाली लक्ष्मी मिश्रा ने जनपद का नाम रोशन किया है। उन्होंने कर्मचारी चयन आयोग की CGL परीक्षा में सफलता हासिल की है। उनका चयन स्टेटिसटिकल इन्वेस्टीगेटर के पद पर हुआ है। इनकी इस सफलता से परिवार सहित पूरे डुमरांव में खुशी का माहौल है।

अब लक्ष्मी मिश्रा गृह मंत्रालय के साथ काम करेंगी। लक्ष्मी के पिता का नाम पुरुषोत्तम है। लक्ष्मी ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई पंचरूखिया के सिस्टर निवेदिता डे स्कूल से की। इसके बाद महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से BSc की डिग्री हासिल की और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से स्टेटिसटिक्स विषय में MSc की।

लक्ष्मी ने सेल्फ स्टडी करते हुए परीक्षा दी और कामयाबी हासिल की। उनकी सफलता पर परिवार में हर्ष का माहौल है। लक्ष्मी अपने इस सफलता का श्रेय माता-पिता एवं गुरुजनों को देते हैं। उन्होंने कहा कि मेहनत का फल जरूर मिलता है। उन्हें यह उम्मीद थी कि एक न एक दिन सफलता प्राप्त होगी। इसलिए कभी मन को छोटा नहीं किया, जिससे आत्मविश्वास हमेशा बना रहा।

 

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!