‘बर्निंग ट्रेन’ बनने से बची लखनऊ से बनारस के बीच चलने वाली कृषक एक्सप्रेस

0

आज सुबह करीब दस बजे कृषक एक्सप्रेस में अचानक धुआं उठता देख यात्रियों में चीखपुकार मच गई। यह रेेल लखनऊ से बनारस के लिए चलती है। तमाम प्रयासों के बाद गाड़ी को ‘बर्निंग ट्रेन’ बनने से बचा लिया गया। घटना मई जिले के इंदारा जंक्शन के आउटर के पास का है। यहां बकराबाद गांव के पास यात्रियों ने ट्रेन की एक बोगी से धुआं उठता देखा और चीख पुकार मचा दी।

गाड़ी वाराणसी के मंडुवाडीह स्टेशन के लिए किड़िहरापुर रेलवे स्टेशन से रवाना हुई थी। यहां एस7 में धुआं दिखाई दिया। यात्री तब डरे जबकि गाड़ी की स्पीड तेज हुई और आग निकलने लगी। आग देखते ही लोगों में चीखपुकार मचन लगी। अक्सर रेल हादसों से सबक लेते हुए यात्रियों ने सबसे पहले चेन पुलिंग की और इससे ट्रेन को रोका जा सका।

बकराबाद के पास गाड़ी रुकते ही लोग बोगी से इधर उधर भागने लगे। शोर इतना तेज था कि पास के गांवों तक के लोग यहां पहुंच गए। इधर किसानों और ग्रामीणों की मदद से इसे बुझाने के प्रयास किए जा रहे थे, उधर ट्रेन स्कॉर्ट की सूचना पर आरपीएफ के लोग भी यहां जल्द ही पहुंच गए। जानकारी होते ही इंदारा जंक्शन स्टेशन अधीक्षक प्रभारी मुरली मनोहर सिंह ने तकनीकी स्टाफ ने अग्निशमन यंत्रों से आग पर काबू पाने का प्रयास किया। गाड़ी में हुई इस घटना के चलते इसे करीब 45 मिनट देर से गंतव्य को पहुंचाया जा सका।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here