Connect with us

बेल्थरा रोड

कांग्रेस की गीता गोयल का जनसंपर्क अभियान जारी, गांव-गांव किया प्रचार

Published

on

बलिया में इस समय चुनावी माहौल गर्म है। खासतौर बेल्थरारोड में चुनावी संग्राम जारी है। इसी जंग को जीतने के लिए तमाम प्रत्याशी जनसंपर्क का शस्त्र चला रहे हैं। भाजपा, सपा, बसपा, कांग्रेस समेत अन्य राजनैतिक पार्टियों के प्रत्याशी लगातार क्षेत्र में सक्रिय बने हुए हैं।

इसी सिलसिले में कांग्रेस से प्रत्याशी गीता गोयल लगातार लोगों के बीच पहुंच रही है। अपने जनसंपर्क अभियान के तहत गीता हर रोज कई गांवों को कवर कर रही है। वह प्रत्येक गांव में रुककर वहां के मतदाताओं से बातचीत कर रही हैं साथ ही मौजूदा भाजपा सरकार की नाकामियों को भी जनता के बीच रख रही हैं।

वहीं कांग्रेस के लड़की हूं, लड़ सकती हूं नारे को बुलंद करते हुए गीता गोयल खास तौर से महिलाओं-बच्चियों से संवाद कर रही है। महिला प्रत्याशी होने का फायदा भी उन्हें मिल रहा है। क्षेत्र का महिला वर्ग गीता गोयल को समर्थन देता हुआ दिख रहा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

बलिया- पुलिस की सतर्कता से बची महिला की जान, सरयू नदी में कूदने से रोका

Published

on

बलिया। बिल्थरारोड क्षेत्र में सरयू नदी पर आत्महत्या की कोशिश कर रही महिला को पुलिस ने बचा लिया। जिसके बाद पुलिस महिला को थाने ले गई। महिला आखिर क्यों आत्महत्या करना चाहती थी यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। हालांकि गनीमत रही कि पुलिस मौके पर थी और महिला को बचा लिया।  

दरअसल तुर्तीपार गांव की संजना देवी की शादी बांसडीह क्षेत्र में हुई है। महिला अपनी मां के साथ बिल्थरारोड अस्पताल इलाज कराने जा रही थी कि अचानक तुर्तीपार हेड के रास्ते सरयू नदी में छलांग लगाने के लिए भागने लगी। तभी उसकी मां ने रोकने की कोशिश की। लेकिन बदहवास महिला सरयू की तरफ भागने लगी।

मौके पर पहुंची उभांव थाना की महिला सिपाही अंजली पाठक, हेड कांस्टेबल कन्हैया सिंह, रणजीत सिंह ने महिला को समय रहते पकड़ लिया। किन परिस्थितियों में महिला आत्महत्या पर करना चाहती थी यह स्पष्ट नहीं हो सका। फिलहाल महिला से पूछताछ कर रही है।

Continue Reading

बलिया

बलिया के बेल्थरारोड में अग्निपथ के विरोध में सड़कों पर उतरे युवा, जमकर की नारेबाजी

Published

on

बेल्थरारोड। केंद्र सरकार के द्वारा लॉन्च की गई अग्निपथ योजना का देशभर में विरोध हो रहा है। अब बलिया के युवा भी सड़कों पर उतर आए हैं। बेल्थरारोड में योजना के विरोध में युवाओं ने जमकर नारेबाजी की साथ ही राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

बेल्थरारोड में युवा सुबह से ही स्थानीय कृषि मंडी के पास जुटने लगे। धीरे-धीरे जब उनकी संख्या बढ़ती गई, तो युवा अग्निपथ वापस लेने के लिए नारेबाजी करने लगे। मौके पर पहुंचे उभांव एसएचओ को भी युवाओं ने घेर लिया। पुलिस से बातचीत के बाद युवा अपनी मांग का ज्ञापन देने तहसील की तरफ रवाना हो गए। इस दौरान युवा जमकर नारेबाजी कर रहे थे।

युवाओं का दल चौधरी चरण सिंह चौराहे पर पहुंचा। जहां पर एसडीएम राजेश कुमार गुप्ता आ गए। इस दौरान युवाओं को वहीं रोक एसडीएम व एसएचओ उनसे बातचीत करने लगे। बातचीत में युवाओं ने अपनी समस्याएं बताईं। कहा कि सरकार को यह फैसला तुरंत वापस लेना चाहिए। जो युवा दो सालों से लिखित परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, उनका हाल बेहाल है।

इसके बाद राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। युवाओं ने कहा कि सरकार चार साल बाद उन्हें पेंशन भी देने की बात कहती तो कुछ समझ में आता। चार साल बाद हम युवा भटकने को मजबूर हो जाएंगे। युवाओं ने इस दौरान सेना भर्ती परीक्षा के रद्द होने की बात उठाई। एसडीएम ने कहा कि युवाओं की बात ऊपर तक पहुंचाई जाएगी। इसके बाद युवा शांत हुए।

Continue Reading

featured

आवास आवंटन पर MLA ने लगाया था आरोप, SDM और नगर पंचायत अध्यक्ष ने ये दिया जवाब

Published

on

SDM राजेश गुप्ता, बेलथरा रोड विधायक हंसू राम और नगर पंचायत अध्यक्ष दिनेश कुमार गुप्ता

बलिया के बेलथरा रोड विधानसभा क्षेत्र में आवास आवंटन का मामला इन दिनों सुर्खियों में है। आसरा योजना और कांशीराम आवास योजना के- तहत बने सरकारी घरों के वितरण को लेकर विधायक हंसू राम ने गंभीर आरोप लगाए हैं। SDM राजेश कुमार गुप्ता और नगर पंचायत अध्यक्ष दिनेश कुमार गुप्ता पर मिलीभगत कर अपात्र लोगों को आवास आवंटित करने का आरोप लगाया है। इन आरोपों का जवाब खुद SDM और नगर पंचायत अध्यक्ष ने दे दिया है।

विधायक हंसू राम के आरोपों पर बलिया ख़बर ने सबसे पहले नगर पंचायत अध्यक्ष दिनेश कुमार गुप्ता से बातचीत की। पहले तो दिनेश कुमार गुप्ता इस मसले पर बातचीत करने से बचते दिखे। लेकिन आखिरकार उन्होंने हंसू राम के आरोपों का जवाब दिया। दिनेश कुमार गुप्ता ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि “विधायक हंसू राम को आवास आवंटन के प्रक्रिया की जानकारी ही नहीं है। तभी इस तरह के आरोप लगा रहे हैं। आवास का आवंटन बहुत पहले ही हो गया था। अब सिर्फ लॉटरी सिस्टम के जरिए फ्लैट नंबर वितरित किया गया है।”

दिनेश कुमार गुप्ता बताते हैं कि “शासनादेश के मुताबिक आवास आवंटन के लिए जिलाधिकारी, बलिया ने कमेटी गठित किया है। जिसके अध्यक्ष बेलथरा रोड के SDM अध्यक्ष हैं। बलिया डूडा के परियोजना अधिकारी कमेटी के सचिव हैं। आवास के लिए आवेदन करने वालों की पात्रता की जांच तहसील से हुई। जो आवेदनकर्ता भूमिहीन थे उनका नाम तहसील ने कमेटी को दिया। कमेटी ने सभी नाम प्रकाशित करवाए। ये साल भर पहले की ही बात है। लेकिन विधायक जी को तो ये बात मालूम ही नहीं है।”

विधायक हंसू राम ने फेसबुक पोस्ट में इस मुद्दे पर लिखा है कि आवास आवंटन के वक्त उन्हें आमंत्रित नहीं किया गया। इस पर दिनेश कुमार गुप्ता कहते हैं कि “ये बात प्रशासन जाने कि विधायक को बुलाया गया या नहीं बुलाया गया। इसमें मेरी कोई भूमिका नहीं है। हंसू राम जी मेरे दल के भी नहीं है। तो मेरा इससे कोई लेनादेना नहीं है।”

बेलथरा रोड से विधायक हंसू राम ने आवास आवंटन के मामले SDM राजेश कुमार गुप्ता पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। SDM ने हंसू राम के आरोपों को निराधार बताया है। बलिया ख़बर से बातचीत में उन्होंने कहा कि “सब कुछ ऑन रिकॉर्ड पूरी पारदर्शिता के साथ हुआ है। अगर विधायक जी को लगता है कि किसी अपात्र व्यक्ति को आवास का आवंटन किया गया है तो फिर उन्हें जानकारी सार्वजनिक करनी चाहिए।”

सवाल है कि क्या विधायक हंसू राम के आरोप में दम है? या फिर नगर पंचायत अध्यक्ष और SDM के पारदर्शिता वाले दावे पुख्ते हैं। जो भी हो अगर हंसू राम के अपात्र लोगों को आवास आवंटित किए जाने की जानकारी है तो सार्वजनिक करनी चाहिए। पूरा मामला क्या है, विधायक हंसू राम ने क्या कुछ आरोप लगाए हैं? इस मसले के हर परत को समझने के लिए नीचे दी गई ख़बर पढ़ें।

बलिया: 12 वर्षों बाद मिला आवास, क्षेत्रीय विधायक ने उठाए सवाल

 

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!