Connect with us

बलिया

जननायक चंद्रशेकर विश्वविद्यालय की इमारतों के निर्माण पर लगी रोक

Published

on

बलिया। जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय की इमारतों के निर्माण पर NGT ने रोक लगा दी है। इमारतों का निर्माण सुरहाताल पक्षी बिहार के ईओ सेंसेटिव जोन में पाए जाने पर रोक लगाई गई है।

कहा जा रहा है कि विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार के निर्देशित किया है कि आगे कोई निर्माण न कराएंं। विश्वविद्यालय को सुनवाई के लिए पेश होने को कहा गया है। फिलहाल निर्माण पर रोक लगने से संबंधित सभी अधिकारियों के साथ ही कार्यदायी संस्था की सांसें अटकी हुई हैं।

बता दें कि जनपद में जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के निर्माण के लिए बसंतपुर में सुरहाताल पक्षी बिहार के पास लगभग 51 एकड़ भूमि भूमि दी गई थी। विश्वविद्यालय के भवन का निर्माण पहले फेज में 92.39 करोड़ रुपये की धनराशि से किया जा रहा है। इसके लिए 35 करोड़ रुपये की धनराशि भी जारी हो चुकी है। इसमें 15 करोड़ रुपये की पहली किस्त से निर्माण कार्य पूरा किया जा चुका है।
पहले फेज में प्रशासनिक भवन, एकेडमिक भवन और लाइब्रेरी का निर्माण किया जा रहा है। दूसरी किस्त का इंतजार किया जा रहा है। वहीं निर्माण कार्य को लेकर सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के सरनी निवासी धर्मेंद्र सिंह ने शिकायत की। उन्होंने कहा कि सुरहाताल जयप्रकाश नारायण पक्षी विहार घोषित है। इसके अनुसार, सुरहाताल के चारों तरफ का एक किमी का क्षेत्र संरक्षित है। जेएनसीयू के निर्माणाधीन भवन को इस परिधि के भीतर बताया था।
इसके बाद आनन-फानन में NGT ने वन विभाग की ओर से निर्माण वाली भूमि को सुरहा ताल पक्षी बिहार से अलग कर दिया था। इससे साफ है कि विवि का निर्माण शुरू करने से पहले इन बारीकियों पर ध्यान नहीं दिया गया। ये अब विवि के निर्माण पर ही भारी पड़ने लगा है। एनजीटी ने जिलाधिकारी बलिया, एसपी बलिया एवं वन मंडल पदाधिकारी काशी वन्य जीव खंड रामनगर को निर्देशित किया कि एक माह के भीतर ईको सेंसिटिव जोन क्षेत्र का सीमांकन कराएं। अतिक्रमण चिन्हित कर अतिक्रमण हटाने के लिए उचित कार्रवाई करें।
मामले में एनजीटी ने सुनवाई करते हुए विद्यालय की कुलपति को नोटिस जारी कर दो माह के भीतर जवाब मांगा था। सत्यापन के लिए समिति गठित की थी। समिति की ओर से दाखिल की गई रिपोर्ट पर कोर्ट संतुष्ट नहीं हुआ। समिति से पूछा था कि इमारतें ईओ सेंसेटिव जोन में है कि नहीं।
प्रभागीय वनाधिकारी काशी वन्य जीव प्रभाग रामनगर दिनेश सिंह, जिला वेटलैंट कमेटी बलिया के सदस्य वीके आनंद की ओर से दाखिल जवाब में कहा गया कि इमारते ईओ सेंसेटिव जोन में हैं।
इसके बाद ट्रिब्यूनल की ओर से जेएनसीयू के रजिस्ट्रार को निर्देश दिया कि वह सुरहा ताल पक्षी बिहार की सीमा से एक किलोमीटर के इको सेंसिटिव जोन के भीतर आने वाली भूमि के किसी भी हिस्से पर आगे कोई निर्माण न करें।
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

बलिया

लोकसभा चुनाव से पहले सपा की तैयारी, बलिया में फिर राजमंगल यादव को सौंपी जिले की कमान

Published

on

बलिया- लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी ने एक झटके में प्रदेश के कई जिलों में जिला अध्यक्ष और महानगर अध्यक्ष बदल दिए हैं। बलिया समेत 24 जिलों में जिला अध्यक्ष की नियुक्ति की गई है। बलिया जिले में सपा ने एक बार फिर राजमंगल यादव को ही जिम्मेदारी दी है।

बता दें कि नियुक्त किए गए जिलाध्यक्षों में 50 प्रतिशत अन्य पीछड़ा वर्ग यानी OBC वर्ग से आते हैं। सपा ने मुस्लिम वर्ग को भी साधने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। बलिया में पहले से जिले की कमान संभाल रहे राजमंगल यादव को ही सपा ने जिम्मेदारी दी है।

बता दें राज मंगल यादव ने छात्र राजनीति से सियासत ने कदम रखा है वह श्री मुरली मनोहर टाउन स्नातकोत्तर महाविद्यालय के छात्रसंघ के महामंत्री रहे चुके हैं। साथ ही जिला पंचायत सदस्य से लेकर जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी संभाल चुके हैं।

Continue Reading

बलिया

बलिया – कोचिंग से लापता किशोरी बरामद, पुलिस ने आरोपी को भेजा जेल

Published

on

बलिया। नगरा थाना क्षेत्र के एक गांव में कंप्यूटर कोचिंग से लापता किशोरी को पुलिस ने बरामद करने में सफलता हासिल की। साथ ही पुलिस ने कोचिंग संचालक को गिरफ्तार किया। और सुसंगत धाराओं के तहत चालान न्यायालय में पेश किया।

दरअसल किशोरी की मां की तहरीर पर पुलिस ने कोचिंग संचालक, कोचिंग संचालक के दादा- दादी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। किशोरी की मां ने तहरीर में लिखा था कि पुत्री कम्प्यूटर की कोचिंग करती थी। 20 मार्च को घर से शाम 4 बजे साइकिल से पढ़ने गई थी।

जब शाम 6 बजे तक युवती घर नहीं आई तो उसकी कोचिंग पर जाकर पूछताछ की। जहां कोचिंग संचालक के दादी और दादा ने कहा कि किसी को बताना मत मेरा नाती उसे ले गया है। जितना पैसा चाहिये दे देंगे। जब बेटी को बुलाने के लिए कहा तो कहा कि तुम्हे जो करना है करो, मेरा नाती नहीं आएगा।

Continue Reading

बलिया

बलिया – परिवहन सुविधा में होगा इजाफा, 10 नई बसों को हरी झंडी दिखाएंगे मंत्री दयाशंकर सिंह

Published

on

बलिया डिपो परिसर में बने टिकट काउंटर पर ताला लटका रहता है.
बलिया, मंत्री दयाशंकर, बस

बलिया में लोगों के लिए परिवहन सुविधा में इजाफा होने वाला है। सोमवार को परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह जनपद बलिया में 10 नई बसों को हरी झंडी दिखाएंगे। परिवहन मंत्री जीरावस्ती कार्यशाला, बलिया डिपो का भूमि पूजन भी करेंगे।

जानकारी के मुताबिक परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह 27 मार्च को उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम, जीरावस्ती कार्यशाला बलिया डिपो का सुबह 11 बजे भूमि पूजन करेंगे और राज्य सड़क परिवहन निगम की 10 नई बसों का भी हरी झंडी दिखाएंगे। जिससे क्षेत्रवासियों को आवागमन में सुविधाएं होंगी।

जिसकी जानकारी देते हुए सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक, बलिया ने बताया कि जीरावस्ती कार्यशाला बलिया के उद्घाटन से सम्बंधित समस्त तैयारियां चल रही हैं। उन्होंने बताया कि 10 नई बसों को हरी झंडी दिखाने की सभी व्यवस्था हो चुकी है।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!