Connect with us

Uncategorized

जानिए कौन हैं सिकंदरपुर पर आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार डॉ प्रदीप कुमार

Published

on

बलियाः उत्तरप्रदेश में चुनावी बिगुल बच चुका है। इस बार आम आदमी पार्टी भी मैदान में है। रविवार को पार्टी ने अपने 150 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है। इसमें बलिया जिले से सिकंदरपुर विधानसभा सीट से पार्टी ने अपने जिलाध्यक्ष डॉक्टर प्रदीप कुमार को उम्मीदवार बनाया है।

चलिए आपको बताते हैं कौन है प्रदीप कुमार?

प्रदीप कुमार सिकंदरपुर सीमा पर बिल्थरारोड क्षेत्र के ककरी निवासी हैं। उन्होंने अपनी 12वीं की पढ़ाई करने के लिए फार्मासिस्ट का कोर्स किया। इसके बाद वह जनआंदोलन में हिस्सा लेने लगे। साल 2013 में जब अन्ना आंदोलन कर रहे थे, उसमें भी प्रदीप कुमार शामिल हुए। उन्होंने माथे पर मैं अन्ना हूं की टोपी लगाकर कई कार्यक्रमों में भाग लिया।

इसके बाद जब अरविंद केजरीवाल ने पार्टी बनाई तो डॉक्टर प्रदीप कुमार ने पार्टी की ऑनलाइन सदस्यता ली। इसके बाद वह लगातार पार्टी के लिए काम करते रहे। मार्च 2021 में वह आप पार्टी के जिलाध्यक्ष बनाओ गए और दो महीने पहले ही प्रदीप को सिकंदरपुर का प्रभारी घोषित किया गया और अब पार्टी ने उनपर विश्वास जताते हुए चुनावी मैदान में उतारा है।

डॉ प्रदीप क्षेत्र में लगातार सक्रिय हैं, वह सिकंदरपुर का विकास दिल्ली मॉडल पर करने के दावे के साथ जनता के बीच में पहुंच रहे हैं। उनका कहना है कि बेरोजगारी, शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली-पानी आदि मुद्दों को लेकर भी लोगों के बीच जाएंगे।

Uncategorized

जिला कारगार में नहीं होगा जलभराव, जलनिकासी के लिए बनेगा पंप हाउस

Published

on

बलिया में जिला कारगार जल्द ही पंप हाउस और आरसीसी वाटर चैनल का निर्माण किया जाएगा। जिससे जल निकासी की समस्या का समाधान हो जाएगा। इसके लिए 104.44 लाख की परियोजना को मंजूरी दी गई है। इसका काम यूपी प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड को सौंपा गया है। इस निर्माण कार्य के लिए 26 लाख की धनराशि जारी कर दी गई है।

बता दें कि बलिया जेल में जल निकासी की समस्या बहुत ज्यादा है। बरसात के दिनों में हालात और भी ज्यादा खराब हो जाते हैं। क्योंकि बरसात के दिनों में जेल में जलभराव हो जाता है। स्थिति इतनी बिगड़ जाती है कि बंदियों को जेल से स्थानांतरित कर दूसरी जेल भेजना पड़ता है। पिछले साल भी जलभराव के कारण करीब 900 कैदियों को आजमगढ़ और अंबेडकरनगर की जिला जेलों में भेजना पड़ा था।

2018 में भी ऐसी ही स्थिति हुई थी। इससे पहले भी जिला कारगार वाले क्षेत्र में जलनिकासी के लिए PWD की ओर से पहले ही नाला बनाया जा रहा है। लेकिन सड़क से जिला कारगार काफी नीचे है। जिसके कारण जलनिकासी नाले तक होना मुश्किल है। अब समस्या को देखते हुए पंप हाउस बनाया जाएगा। सूत्रों की मानें तो जेल के अंदर पंप हाउस बनाकर दो पंप लगाए जाएंगे। इसके साथ ही बैरकों से नाली बनाकर पानी को पंप हाउस तक लाया जाएगा। यहां बनाए गए टैंक में पानी एकत्र होगा और पंप के सहारे में पानी रो ड्रेन तक पहुंचाया जाएगा।

जेल कारागार जेलर राजेंद्र सिंह का कहना है कि जिला कारागार से पंप हाउस का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। अभी स्वीकृति का जानकारी नहीं है। प्रस्ताव के स्वीकृत होने के बाद कार्य शुरू कराया जाएगा।

Continue Reading

Uncategorized

बलियाः 6 साल बीते पर अभी तक नहीं बना जनेश्वर मिश्र सेतु का एप्रोच मार्ग

Published

on

बलिया में गंगा नदी के शिवरामपुर घाट पर निर्मित जनेश्वर मिश्र सेतु यूं तो प्रदेश का सबसे लंबा पुल है। लेकिन इसके रखरखाव पर उतना ध्यान नहीं दिया जाता। हालात यह हैं कि आज तक एप्रोच मार्ग का निर्माण नहीं हो सका।

साल 2014 में 3 अरब 92 करोड़ रुपए की लागत से इस ब्रिज का निर्माण शुरु हुआ था। कुल 23 खंभों पर लगभग 2.8 किमी लंबा पुल बनकर तैयार हुआ। साल 2016 में दोनों तरफ के एप्रोच मार्ग को बनाने का काम शुरु हुआ। लेकिन इनमें से सिर्फ एक ही तरफ का एप्रोच मार्ग बन पाया।

योजना के मुताबिक पुल के उत्तर तरफ के NH-31 तक लंबाई 3.6 किमी, गंगा के उस पार से बिहार के बक्सर-कोइलवर बांध तक एप्रोच 1.09 किमी लंबा मार्ग बनकर तैयार हुआ। लेकिन पुल के दक्षिण एप्रोच मार्ग का काम आज तक शुरु नहीं हुआ। इसके चलते पुल से गुजरने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है।

दक्षिण तरफ के एप्रोच मार्ग की जमीन का कुछ काश्तकारों के बीच विवाद है और उनके बीच का मामला कोर्ट में लंबित है। शायद यहीं कारण है कि दक्षिणी एप्रोच मार्ग का निर्माण नहीं हो सका है। PWD के अधिकारियों की मानें तो पहली बार एप्रोच मार्ग का काम पूरा करने का लक्ष्य साल 2018 निर्धारित हुआ था लेकिन यह लक्ष्य पूरा न हुआ तो साल 2020 तक का लक्ष्य दिया गया।

तीसरी बार नवंबर 2022 तक एप्रोच मार्ग बनाने की डेट लाइन शासन की ओर से तय हुई है। लेकिन तब भी काम पूरा नहीं हुआ। जिम्मेदारों की इसी सुस्ती की वजह से अब लोग परेशान हो रहे हैं। कार्यदायी संस्था पीडब्ल्यूडी के एई राहुल सिंह का कहना है, जनेश्वर मिश्र सेतु के दक्षिणी एप्रोच मार्ग की जमीन को लेकर कुछ काश्तकारों के बीच आपसी विवाद है। इसके बीच का रास्ता निकाल लिया गया है। करीब 80 फीसदी जमीन अधिगृहित कर ली गई है। शेष 20 प्रतिशत भूमि में फंसे पेंच को भी सलटा लिया गया है। जल्द ही काम शुरू होगा, ताकि निर्धारित वक्त तक काम पूरा हो सके।

एप्रोच मार्ग बनने का इंतजार इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि मार्ग के बन जाने के बाद बलिया बिहार की राजधानी पटना की दूरी करीब सौ किमी हो जाएगी। यूपी के जवहीं दियर, शिवपुर दियर नंबरी, घोघा राय के डेरा, परानपुर, हरदेव सिंह के डेरा, ब्यासी की करीब 50 हजार की आबादी को लाभ होगा। इसके साथ ही बिहार के चक्की, सेमरी और ब्रह्मपुर प्रखंड के सैकड़ों गांवों के लोगों को लाभ मिल रहा है।

Continue Reading

Uncategorized

BSP प्रत्याशी बोले- मैं बेल्थरारोड का बेटा, करूंगा विकास

Published

on

बलिया में विधानसभा चुनाव की जंग अब बिल्कुल आखिरी मोड़ कर है ऐसे में नेता सभी हथकंडे अपना रहे हैं और अपनी सुनिश्चित करने की ओर आगे बढ़ रहे हैं। बेल्थरारोड से बसपा प्रत्याशी प्रवीण प्रकाश ने भी जनता का दिल जीतने की कोशिश की। उन्होंने प्रचार के दौरान कहा कि मैं बेल्थरारोड विधानसभा का बेटा हूं। मैं हमेशा आपके पास ही रहूंगा। अन्य दलों के प्रत्याशी जहां से आए हैं वह चुनाव बाद वहीं चले जाएंगे। मैं हमेशा आपके बीच रहूंगा। इस दौरान उन्होंने प्रशासन पर भी गंभीर आरोप लगाए।

बता दें भाजपा छोड़ बसपा के टिकट से चुनाव मैदान में प्रत्याशी प्रवीण प्रकाश उतरे हैं। और वह स्थानीय बस स्टेशन पर मंगलवार को आयोजित एक नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने प्रशासन पर परेशान करने का आरोप भी लगाया। कहा- उन्हें प्रचार से रोका जा रहा है। पिछले 10 सालों से जो यहां की स्थिति थी वह आज भी बहाल है। सभी लिंक सड़कें बदहाल हैं। बहन मायावती के समय जो कानून व्यवस्था की स्थिति थी वह कहीं नजर नहीं आ रही। गरीबों का हर जगह शोषण जारी है। कहा कि यदि जनता का आशीर्वाद मिला तो बेल्थरारोड में विकास की गंगा बहेगी।

वहीं नुक्कड़ सभा को विधानसभा अध्यक्ष सत्य प्रकाश जायसवाल, चंद्रदेव राम, विनोद सेहरा, असलम वारसी, विक्रमा मौर्य, भोला भाई, लल्लन राम पूर्व प्रधान, चंद्रदेव राम, विजय नाथ गोंड, अनूप गुप्ता, लोकगीत कलाकार रविंदर यादव, वीरेंद्र प्रसाद, दीपक कुमार, सूबेदार, सिद्धू गौतम, रितेश कुमार गौतम दुर्गेश अंबेडकर अनिकेत उर्फ डीके मनोज कुमार सब्बू, गौतम, अशफाक हसन, विक्रमा प्रसाद मौर्या, दीपक कुमार, रमेश मिश्र, श्रीप्रकाश भारती, संजय भारती, रविंदर यादव आदि ने सम्बोधित किया।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!