बलिया के इतिहास में पहली बार नगर पालिका का विस्तार, ये 25 गांव होंगे शामिल

0

बलिया– बलिया के इतिहास में पहली बार नगर पालिका का विस्तार किये जाने का प्रस्ताव पारित किया गया है । इसके तहत बलिया नगर के आस पास के 25 गांवों को इसमें शामिल करने की योजना है। इससे नगर पालिका क्षेत्र का जहां विकास होगा वहीं बलिया शहर का प्रारूप भी बदला नज़र आएगा। नगर पालिका परिषद बलिया के बोर्ड की बैठक गुरुवार शाम नपा कार्यालय के सभागार में आयोजित की गई।

बैठक में वर्ष 19-20 के अनुमानित बजट आय, व्यय व सीमा विस्तार, ददरी मेला, कूड़ा कलेक्शन, नाली सड़क निर्माण आदि कार्यों पर विचार विमर्श किया। अधिकांश प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया। नपा बोर्ड की बैठक में आय 33 करोड़ 77 लाख 95 हजार रुपये व व्यय 33 करोड़ 72 लाख रुपये के अलावा सीमा विस्तार के तहत 25 गांवों केे नपा में शामिल करने आदि के प्रस्तावों को पारित किया गया। बैठक में निर्णय लिया गया कि डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन, प्रत्येक वार्ड में नाली, सड़क सहित विकास कार्यों का आगणन तैयार शासन से धन की मांग की जाएगी।

यह 25 गांव नपा में होंगे शामिल– नपा के बोर्ड की बैठक में नगर पालिका क्षेत्र के आसपास के 25 गांवों को भी शामिल करने का निर्णय लिया गया है। इसमें जमुआ, सहोदरा, सहरसपाली, अगरसंडा, मुर्की, सर्फुद्दीनपुर, बहेरी, माल्देपुर, निधरिया, जलालपुर, सोनाडाबर, बहादुरपुर, तिखमपुर, पटखौली, परिखरा, उमरगंज, हैबतपुर, जमुआ गोपालपुर, रामपुर महावल, रघुनाथपुर टकरसन, मझौली मु. यारपुर, अमृतपाली, परमंदापुर व खोरीपाकड़ हैं।


नगर पालिका चेयरमैन अजय कुमार ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक प्रस्ताव था जिसे पास कर दिया गया है। अब बलिया नगर का विकास तेजी से होगा। उन्होंने कहा कि अब नगर पालिका का पूरा ध्यान बढ़ी हुई सीमा के साथ नगर पालिका में शामिल होने वाले गांवों के विकास पर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here