बलिया पुलिस की ईमानदारी के कायल हुए लोग, इस काम की सभी ने की खूब तारीफ

0

बलिया डेस्क: आज कल यूपी पुलिस काफी सुर्ख़ियों में बनी हुई है. यह अलग बात है कि अगल अलग वजह से उसकी चर्चा होती रहती है लेकिन पुलिस के सका रातमक काम की हमेशा सराहना करनी चाहिए. हमारी हिफाज़त उनकी ही ज़िम्मेदारी है और जो काम वह बखूबी करते हैं. हालाँकि इस पर चर्चा कम ही होती है लेकिन आज हम आपको बलिया पुलिस के एक ऐसे काम के बारे में बताने जा रहे हैं जिस सुनकर आपको उनपर गर्व होगा.

यहाँ हनुमानगंज इलाके की पुलिस ने इमानदारी की एक मिसाल पेश की है और अपन फ़र्ज़ निभाकर फिर एक अच्छा सन्देश दिया है. दर असल हुआ कुछ कि मामला शनिवार का है. जब पुलिस को एक बैग बहादुरपुर चट्टी पर गिरा पड़ा. आस पास कोई था नहीं जिससे यह पता चल पाता कि यह किसका है और न ही इस बैग पर अपना दावा किया. खैर पुलिस ने उस बैग को अपने कब्ज़े में लिया. बैग चौकी इंचार्ज राजीव पांडेय के पास लाया गया.

इसमें उस महिला का फोन नंबर भी था जिसका यह बैग था जिससे पुलिस को काफी आसानी हुई.
इसके बाद चौकी इंचार्ज राजीव पांडेय ने उस नंबर पर फोन किया और महिला को बुलाया गया. इस बैग में पैसे थे और गहने भी रखे हुए थे. महिला आई तो थोड़ी पूछ ताछ के बाद उसे बैग लौटा दिया गया पैसों और गहनों सहित. इसके बाद जब यह खबर इलाके में फैली तो लोगों ने पुलिस की इमानदारी की काफी तारीफ भी की.

बताया जा रहा है कि चौकी इंचार्ज इस दौरान गश्त पर निकले हुए थे. इस बीच वह बहादुरपुरचट्टी पहुंचे जहाँ पर उन्हें यह बैग पड़ा दिखा. जानकारी के मुताबिक, इस बैग में करीब बीस हज़ार रूपये थे और एक सोने की अंगूठी भी थी. वहीँ इसमें महिला का नंबर भी थी जिस पर संपर्क करने पर पता चला कि यह बैग परिखरा के रहने वाले दयानंद मिश्रा की बेटी का है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here