Connect with us

बलिया स्पेशल

बलिया में मानवता शर्मसार, इलाज़ के लिए जमीन पर घंटों तड़पता रहा मरीज !

Published

on

बलिया डेस्क : मानवता को शर्मसार करने देने वाली खबर बलिया से सामने आई है. जिले में स्वास्थ्य व्यवस्था किस क़दर चरमराई हुई है जिसका अंदाज़ा आप इस खबर से लगा सकते हैं. भारत समाचार की खबर के मुताबिक नरही के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में गम्भीर रूप से घायल एक मरीज को न तो अस्पताल की ओर से स्ट्रैचर मुहैया कराया गया, न ही वॉर्ड बॉय, डॉक्टर या स्वास्थ्यकर्मी या नर्स मिला.

मजबूर होकर घायल को अस्पताल लेकर पहुंचनेवाले पुलिस और  स्थानीय लोगों ने मिलकर घायल को अस्पताल के भीतर पहुंचाया. इतना ही नहीं हुआ  घायल व्यक्ति अस्पताल में जमीन पर इलाज के बिना घंटों से फर्श पर लेटा तड़पता रहा.

बताया जा रहा है कि बुधवार देर शाम एक्सीडेंट की सूचना पर पहुंची पुलिस ने गम्भीर रूप से घायल एक युवक को पाया. जिसके बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से घायल को नरही के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया.

जहां गंभीर रूप से घायल मरीज को लेकर पहुंचे पुलिस स्थानीय लोगों घंटों मरीज को रिसीव कराने को लेकर इधर से उधर भटकते रहे. ना तो वार्ड ब्वाय मिला, ना ही कोई अन्य स्वास्थ्य कर्मी. मजबूरन पीसीआर पुलिसकर्मीयों ने पर खुद घायल युवक को अस्पताल के भीतर बेड तक पहुंचाया.

 

featured

बलिया में टायर व पेट्रोल शव जलाने का वीडियो वायरल, 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड

Published

on

बलिया ।  बलिया में पुलिस की संवेदनहीनता सामने आई है। यहां गंगा में बहती लाशों को निकाल कर अंतिम संस्कार के समय उस पर पेट्रोल छिड़क दिया गया, जिससे वह जल्दी जल जाए। इतना ही नहीं चिता पर लकड़ी के साथ-साथ टायर भी रख दिए गए।

इसका वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने पांच सिपााहियों को सस्पेंड कर दिया है। पूरे मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार को सौंपी गई है ।

 

बताया गया है कि विडिओ यह फेफना के माल्देपुर घाट का है। यहां गंगा नदी से लाशों को निकालने के बाद सही तरीके से उनका अंतिम संस्कार नही किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में साफ दिख रहा है कि चिता पर लड़की के साथ टायर रखे गए हैं। शव को जल्दी से जलाने के लिए बीच-बीच में उसपर पेट्रोल भी छिड़का जा रहा है। यह सब सिपाहियों की मौजूदगी मे होता है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया में प्रेमिका के घर गये प्रेमी युवक की हत्या, युवती के भाई के खिलाफ केस दर्ज

Published

on

बलिया। जिले के चितबड़ागांव क्षेत्र में प्रेमिका से मिलने गये प्रेमी युवक की हत्या किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। थाना प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार सिंह के अनुसार नगपुरा गांव निवासी नंदलाल राम ने सोमवार सुबह चितबड़ागांव थाने में सूचना दी कि उसका पुत्र 19 वर्षीय चंदन कुमार बेहोशी की हालत में गांव के निवासी हरिशंकर राम के घर पड़ा है।

उन्होंने बताया कि सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो उस समय युवक की मृत्यु हो चुकी थी।  पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मारे गए युवक के पिता की तहरीर पर पुलिस ने प्रेमिका के साथ ही उसकी मां व भाई के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है।

बता दें कि नगपुरा निवासी 18 वर्षीय चंदन का गांव के ही एक युवती से लंबे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बताया जाता है कि रविवार की रात प्रेमिका ने फोन कर उसे अपने घर बुलाया। इस बीच, घर में उसके भाई ने उसे पकड़ लिया। आरोप है कि युवती के भाई ने कुल्हाड़ी से बहन के प्रेमी की हत्या कर दी। सोमवारसुबह जब चंदन घर में नहीं मिला तो उसके पिता नंदलाल राम ने मामले से पुलिस को सूचना दी।

संदेह के आधार पर पुलिस चंदन की प्रेमिका के घर पहुंची तो उसका शव बरामद हुआ। इस संबंध में चितबड़ागांव के एसओ राकेश कुमार सिंह का कहना है कि नंदलाल की तहरीर पर चंदा, उसकी मां अनिता व भाई सूरज के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। सारे आरोपित फरार हैं। उनकी तलाश जारी है।

Continue Reading

बलिया स्पेशल

बलिया- अब होम आइसोलेशन के मरीजों के लिये उपलब्ध होगा आक्सीजन सिलेण्डर

Published

on

बलिया: जिलाधिकारी आदिति सिंह के निर्देश पर औषधि निरीक्षक मोहित कुमार दीप ने सहायक आयुक्त औषधि निरीक्षक आजमगढ़ मंडल आजमगढ़ से वार्ता कर होम आइसोलेशन मे रह रहे मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलेण्डर की व्यवस्था कर दी है। श्री दीप ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर बलिया आयरन स्टोर बहेरी में 40 बड़े सिलेंडर और 10 छोटे सिलेंडर की व्यवस्था करा दिया गया है।

होम आइसोलेशन मे रहे मरीज, जिनको ऑक्सीजन सिलेण्डर की जरूरत है, वे मरीज का टेस्ट रिपोर्ट, डॉक्टर का पर्चा वह आधार कार्ड ले जाकर ऑक्सीजन सिलेण्डर क्रय कर सकता है। आक्सीजन सिलेण्डर लेने के लिये खाली सिलेण्डर देकर व निर्धारित शुल्क के साथ सिलेण्डर लिया जा सकता है। जिनके पास खाली सिलेण्डर नही है वे भी ऑक्सीजन सिलेण्डर क्रय कर सकता है।

उन्होंने बताया कि पॉलिटेक्निक रोड पर स्थिति अशर्फी हॉस्पिटल का भी निरीक्षण किया गया। यहां 15 बेड की व्यवस्था करा दिया गया है जहाँ कोविड के मरीज एडमिट हो सकते हैं। यहां भी 15 बड़े आक्सीजन सिलेण्डर उपलब्ध करा दिया गया है। पाईप के माध्यम से सभी 15 बेड तक ऑक्सीजन की सप्लाई होगी। इसके अलावा तीन वेंटीलेटर उपलब्ध करवा दिया गया है, जो कार्यशील है। निरीक्षण के समय रविशंकर पाण्डेय उपस्थित रहे।

Continue Reading

TRENDING STORIES