Connect with us

बलिया

बलिया में भी ‘जुगाड़’ पर चल रहे होटल और लाज, नहीं हैं आग से बचने के इंतजाम

Published

on

बलियाः सरकार के द्वारा स्कूल, कॉलेज, लॉज, होटल, अस्पतालों व अन्य भवनों में आगजनी से बचाव के लिए कुछ मानक तय किए हैं, लेकिन अधिकतर भवनों में इन निर्देशों का जरा भी पालन नहीं किया जाता। हाल ही में लखनऊ होटल में हुई आगजनी से घटना से यह साफ हो गया है कि भवन संचालकों के द्वारा सरकारी आदेशों की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

हैरानी की बात तो यह है कि मानकों की अवहेलना के बावजूद भी संबंधित विभाग व जिम्मेदार अधिकारी भवनों को एनओसी यानि अनापत्ति प्रमाण पत्र भी जारी कर देते हैं। विभागीय अधिकारियों की इस लापरवाही का खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ता है। बता दें कि किसी भी भवन का निर्माण करने से पहले बकायदा कई विभागों से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेना होता है। ऐसे में अधिकारियों व कर्मचारियों को भवन में जाकर चेक करना होता है कि आगजनी से बचाव के उपकरण है या नहीं। लेकिन विभागीय कर्मचारियों के द्वारा अनदेखी की जाती है।

सरकारी अधिकारियों की मानें तो सरकारी, गैर सरकारी भवनों मसलन अस्पताल, स्कूल-कॉलेज आदि में प्रिंकलर सिस्टम बनाना चाहिए। इसमें एक कवारा होता है, जो आग लगने की स्थिति में ऑटोमैटिक पानी फैलाने लगता है। कई अस्पताल में यह सिस्टम लगे भी हैं लेकिन इनमें पानी नहीं भरा जाता। जिससे आग के समय यह काम नहीं करते। इसके अलावा अस्पताल के एसी कमरे और ऑक्सीजन सिलेंडर से आग जल्द फैलती है। वहीं कई अस्पतालों में इमरजेंसी एग्जिट की व्यवस्था ही नहीं है।

जिला अस्पताल में चौड़ा मुख्यद्वार व परिसर में पर्याप्त स्थान है, वहीं कई निजी नर्सिंग होमों में उचित जगह तक नहीं है। चौक, विशुनीपुर, टाउनहाल आदि स्थानों पर सकरी गलियों में आभूषण की दुकानें हैं. जहां हमेशा गैस सिलेंडर मौजूद रहते है। हालांकि कोई दुकानदारों ने आग से बचने के प्राथमिक उपाय मसलन सीज फॉवर आदि की व्यवस्था कर रखी है। कई दुकाने प्रतिष्ठान सकरी गलियों में है, जिससे आग लगने की स्थिति में फॉयर ब्रिगेड का वाहन मौके पर नहीं पहुंच पाता है। कई बार यहां घटनाएं हो चुकी है।

इतने सब के बाद जिला का फायर सिस्टम परेशानी को और भी बढ़ा देता है। जिले में 5 फायर सेफ्टी सर्विस स्टेशन क्रियाशील हैं लेकिन यहां चालाकों की बेहद कमी है। जनपद के अग्निशमन दस्ता के पास छोटी-बड़ी कुल 17 गाड़ियां है। सभी स्टेशनों को मिलाकर 12 चालकों का पद सृजित है, इसके सापेक्ष वर्तमान में छह चालक तैनात हैं। इसी तरह फायरमैन 69 पदों के सापेक्ष 48 की तैनाती है। जिससे आगजनी के समय टीम को पहुंचने में दिक्कत होती है।

मुख्य अग्निशमन अधिकारी धरिन्द्र सिंह यादव के अनुसार अग्निशमन दस्ता के पास पांच हजार लीटर पानी टैंक की क्षमता वाली बड़ी गाड़ी तीन, दो हजार लीटर पानी टैंक की क्षमता वाली बड़ी गाड़ी पांच, दो हजार लीट हाईप्रेशन क्षमता की एक, 400 लीटर हाईप्रेशर क्षमता की चार, बुलेरो टेम्पर चार हैं लेकिन चालक सिर्फ 6 ही हैं।

 

बलिया

बलिया के 43 मेधावी छात्रों का सम्मान, 21 छात्रों को एक-एक लाख और 22 छात्रों को दिए 21-21 हजार

Published

on

बलिया। जिले में बोर्ड परीक्षा 2021-22 में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 43 बच्चों को माध्यमिक शिक्षा विभाग ने एक-एक लाख और 21-21 हजार की धनराशि का चेक और एक-एक टैबलेट देकर सम्मानित किया गया।

43 में से 21 बच्चों को लखनऊ में शासन स्तर पर एक-एक लाख रुपये का चेक और एक-एक टैबलेट देकर सम्मानित किया। जबकि विकास भवन स्थित एनआईसी में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सांसद नीरज शेखर, भाजपा के जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू और भाजपा के महामंत्री प्रदीप सिंह ने 22 बच्चों को 21-21 हजार की धनराशि का चेक और एक-एक टैबलेट देकर सम्मानित किया।

वहीं सम्मान पाकर मेधावियों के चेहरे चमक उठे। जिले के कुल 43 मेधावी को सम्मानित करने के लिए शासन की ओर से 43 टैबलेट और करीब 24 लाख 62 हजार की धनराशि दी गई थी। लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का सजीव प्रसारण भी किया गया। सम्मान समारोह के दौरान शिक्षा विभाग के राकेश पांडेय, प्रफुल्ल कुमार श्रीवास्तव, संजय कुंवर आदि मौजूद रहे।

Continue Reading

featured

बलिया – कलेक्ट्रेट में वकील और बाबू के बीच मारपीट से बवाल, बाबू को निलंबित करने की मांग

Published

on

बलिया में कलेक्ट्रेट के रिकॉर्ड रूम में अधिवक्ता और बाबू के बीच मारपीट से बवाल हो गया। जहां मारपीट के विरोध में बाबू के खिलाफ अधिवक्ता लामबंद हो गए। इतना ही नहीं वकीलों का हंगामा देख कोर्ट में बैठे एसडीएम राशिद अनवर फारूकी उठकर चले गए।

वहीं डीएम सौम्या अग्रवाल से मिलकर मारपीट करने वाले बाबू को निलंबित करने को मांग को लेकर पत्र सौंपा। कोतवाली में बाबू के खिलाफ नामजद तहरीर दी। साथी की पिटाई से क्षुब्ध कर्मचारियों ने रिकॉर्ड रूम का ताला बंद कर कार्य बहिष्कार कर दिया।


इधर मारपीट में घायल बाबू का जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है। उसने भी अधिवक्ता के खिलाफ तहरीर दी है। घटना को लेकर कलेक्ट्रेट में पूरे दिन गहमा-गहमी बनी रही। बताया जा रहा है कि रिकॉर्ड रूम में अधिवक्ता कृपा शंकर यादव अपने मुवक्किल की भूमि की पत्रावली निकालने के लिए पिछले 2-3 दिन से आवेदन दिए थे।

सुबह पत्रवाली मांगने पर राजस्व अभिलेखकार रक्षक रवि श्रीवास्तव ने फिर से आवेदन देने के बाद पत्रवाली देने की बात कही। जिसको लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते दोनों में मारपीट हो गई। वहां मौजूद लोगों ने बीचबचाव किया। दोनों ही पक्षों ने पुलिस से शिकायत की है अब देखना होगा कि पुलिस क्या कुछ कार्रवाई करती है।

Continue Reading

बलिया

JDU महासचिव अवलेश सिंह ने लखनऊ में मां पीताम्बर 108 कुंडीय महायज्ञ में दी आहुति

Published

on

बलिया। जदयू प्रदेश महासचिव अवलेश सिंह ने लखनऊ में मां पीताम्बर 108 कुंडीय महायज्ञ में पूजा अर्चना की। साथ ही महायज्ञ में आहुति डाल कर लोक कल्याण और प्रदेशवासियो के लिए प्रार्थना की।

बता दें लखनऊ की पावन धरा पर मां पीतांबरा माई का 108 कुण्डली यह पहला महायज्ञ हो रहा है, जिसमें सवा पांच करोड़ आहुति दी जाएगी जिसके लिए यज्ञ तीनपहर में किया जा रहा है। पहली पाली सुबह 9 से 12 बजे तक दूसरी 1 से 5 बजे तक और रात्रि में 10 से 2 तक यज्ञ किया जाएगा।
यह आयोजन माघ माह और गुप्त नवरात्रि के पवित्र अवसर पर किया जा रहा है जिस को ध्यान में रखते हुए यहां पर कल्पवास और अन्य जनपदों से आए भक्तों के लिए ठहरने की व्यवस्था भी की गई है। यह यज्ञ राष्ट्र सुरक्षा, लोक कल्याण एवं वैश्विक महामारी का समूल नाश करें के संकल्प के लिए किया जा रहा है।

आयोजन में प्रमुख रूप से प्रखर समाजसेविका और उनकी धर्म पत्नी रानी सिंह , विकास सिंह,बीना सिंह सरिता निगम, दिव्या सिंह, विशाल सिंह, लक्ष्मी मिश्रा, दीपक सिंह, अभिषेक सिंह बंटू एवं अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Continue Reading

TRENDING STORIES

error: Content is protected !!