बलिया सांसद का बेतुका बयान, कहा- मंदी होती तो कोट-जैकेट की बजाय लोग कुर्ता और धोती पहनते

0

बलिया डेस्क: भारतीय अर्थव्यवस्था में मंदी नहीं बल्कि सुस्ती है, यह बात तो खुद कई बार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कह चुकी हैं. अब उनकी पार्टी के एक सांसद ने भी देश में मंदी नहीं होने का जिक्र करते हुए अजीबोगरीब उदाहरण दिया है. बलिया से बीजेपी सांसद विरेंद्र सिंह का मानना है कि देश में कोई मंदी नहीं है क्योंकि लोग पारंपरिक कु्र्ता और धोती के बदले कोट और जैकेट पहन रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘दिल्ली समेत पूरी दुनिया में मंदी पर चर्चा हो रही है.

अगर देश में मंदी होती तो हम यहां कोट और जैकेट के बजाय धोती और कुर्ता पहनकर आएंगे. अगर मंदी होती तो हम कपड़े नहीं खरीदते, पैंट और पायजामा नहीं खरीदते.’ बीजेपी सांसद ने कहा कि भारत सिर्फ शहरों का ही नहीं बल्कि गांवों का भी देश है.उन्होंने आगे कहा, ‘मैं आप लोगों को सूचित करना चाहता हूं कि ये वो देश है, जहां 6.5 लाख गांव भी हैं. यहां सिर्फ दिल्ली, मुंबई और हैदराबाद जैसे बड़े शहर ही नहीं हैं.

महात्मा गांधी, डॉक्टर हेडगेवार, श्यामा प्रसाद मुखर्जी और जयप्रकाश नारायण ने ग्रामीणों में विश्वास दिखाया था और देश को आजादी दिलाने में मदद की थी.’बताते चलें कि विपक्षी दल लगातार देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार पर हमलावर हैं. गिरती जीडीपी दर, बेरोजगारी, मंदी समेत कई आर्थिक मुद्दों का जिक्र करते हुए विपक्षी पार्टियों ने मोदी सरकार पर देश को बदहाली की ओर ले जाने के आरोप लगाए हैं.

सरकार विपक्ष के आरोपों को नकार रही है. उनका कहना है कि देश में मंदी नहीं है. भारत फिलहाल सुस्ती के दौर से गुजर रहा है.सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी पिछले एक साल में इकोनॉमी का सबसे चर्चित मसला रहा है. देश की जीडीपी ग्रोथ की रफ्तार काफी घट गई है और आधा दर्जन से ज्यादा देसी-विदेशी एजेंसियों ने यह अनुमान जारी किया है कि मौजूदा वित्त वर्ष 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ रेट 5 फीसदी के आसपास ही रहेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here